इस मंत्र के नित्य जाप से बनेंगे बुद्धिमान, विघ्नहर्ता करेंगे आपका संपूर्ण कल्याण

जयपुर: धर्मग्रंथों में भगवान गणेश की उपासना कल्याणकारी मानी गई है। भगवान गणेश की अराधना का दिन यूं तो बुधवार को होता है। लेकिन उनकी रोजाना की पूजा भी  विशेष फलदायी होती है। भगवान गणेश को विघ्नहर्ता कहा गया है जो हर विघ्न का नाश करते है।  उनसे जुड़े मंत्र काफी प्रभावशाली होते हैं जो हर दुख का नाश करते हैं। भगवान गणेश से जुड़े ये मंत्र खास कल्यणाकारी हैं और इनका पाठ करने से ऐसी मान्यता है कि सभी मनोरथ पूर्ण होते हैं।

आज जरूर करें यह व्रत, नहीं होगा संतान को कोई कष्ट,शास्त्रों में है इसका बड़ा महत्व

 श्री वक्रतुण्ड महाकाय सूर्य कोटी समप्रभा निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्व-कार्येशु सर्वदा॥

ऊँ एकदन्ताय विहे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्तिः प्रचोदयात्। इस मंत्र के जाप से गणेश जी बुद्धि प्रदान करते हैं।

ऊँ गं गणपतये नमः ।इस मंत्र को महामंत्र माना गया है जिससे गणपति प्रसन्न होते हैं और हर मनोरथ पूर्ण होते हैं।

6 जुलाई : कैसा रहेगा दिन, मनाएंगे जश्न या रहेंगे उदास, जानिए दिनभर का हाल पंचांग व राशिफल

गणपतिर्विघ्नराजो लम्बतुण्डो गजाननः।
द्वैमातुरश्च हेरम्ब एकदन्तो गणाधिपः॥
विनायकश्चारुकर्णः पशुपालो भवात्मजः।
द्वादशैतानि नामानि प्रातरुत्थाय यः पठेत्‌॥
विश्वं तस्य भवेद्वश्यं न च विघ्नं भवेत्‌ क्वचित्‌।  

विघ्नों के नाश के लिए गणेश जी के इस मंत्र का जाप किया जाता है।भारतीय धर्म संस्कृति में भगवान गणेशजी सबसे पहले पूजनीय और प्रार्थनीय हैं। उनकी पूजा के बगैर कोई भी मंगल कार्य शुरू नहीं होता है। भगवान गणेश भगवान शंकर और गौरी पुत्र है।