हो जाइए सावधान! ऑफिस में पहनेंगे इस रंग के जूते तो होगा आपका ही नुकसान

व्यक्ति को अपने जीवन में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं जिसका संबंध ग्रह दोष से जुड़ा होता हैं। वास्तु के अनुसार व्यक्ति की किस्मत कई चीजों से जुड़ी होती हैं। कुछ घर में वास्तु दोष होने से घर की शांति भंग हो जाती है। वहीं घर में पैसों से जुड़ी परेशानियां झेलनी पड़ जाती है। वास्तुशास्त्र में ऐसी कई चीजें बताई गई है

Published by suman Published: March 14, 2020 | 9:13 am

जयपुर: व्यक्ति को अपने जीवन में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं जिसका संबंध ग्रह दोष से जुड़ा होता हैं। वास्तु के अनुसार व्यक्ति की किस्मत कई चीजों से जुड़ी होती हैं। कुछ घर में वास्तु दोष होने से घर की शांति भंग हो जाती है। वहीं घर में पैसों से जुड़ी परेशानियां झेलनी पड़ जाती है। वास्तुशास्त्र में ऐसी कई चीजें बताई गई है जिसे करने से घर का वास्तु दोष खत्म हो जाता है। ऐसे ही कहा जाता है कि घर में मौजूद सीढ़ियां भी वास्तु दोष का कारण हो सकती है। क्या जानते हैं कि  जूतों और चप्पल से भी किस्मत का गहरा नाता हैं। जूतों का शनि, राहु और केतु से संबंध हैं। जानते हैं कि किस तरह जूतों-चप्पल से अपनी किस्मत का ध्यान रखा जाए।

यह पढ़ें…PALMISTRY: कुटिल, क्रूर व विश्वास के पात्र नहीं होते हैं ऐसे लोग, जिनके हाथों में….

 

*वास्तुशास्त्र के अनुसार सीढ़ियों से बच्चों के स्वास्थ्य उतार-चढ़ाव बना रहता है। वास्तुशास्त्र के अनुसार सीढ़ी के नीचे जूते-चप्पल एवं घर का बेकार सामान नहीं रखना चाहिए। कहा जाता है कि इससे घर में भारी नुकसान होता है।

*अपने फुटवियर को कभी भूलकर भी ईशान कोण (उत्तर-पूर्वी) में न रखें। जूते – चप्पल को एक व्यवस्थित ढंग से, हमेशा पश्चिम दिशा की ओर ही रखें। घर में फुटवियर इधर-उधर बिखरे हुए नहीं होने चाहिए , घर में तनाव की स्थिति बनी रहेगी। जिन लोगों के घर में जूते इधर-उधर बिखरे रहते हैं, वहां शनि की अशुभता का प्रभाव रहता है। परिवार के लोगों का मन खिन्न रहता है। इसलिए चप्पल जूतों को सुव्यवस्थित तरीके से यथास्थान रखें।

यह पढ़ें…राशिफल 14 मार्च: सेहत, संतान व परिवार के लिए कैसा रहेगा शनिवार, जानिए…

*कभी भी भूलकर अपने घर की देहरी पर जूते उतारें और न ही अपने यहां आने वाले अतिथियों को करने दें। घर के मुख्य प्रवेश द्वार पर रखे जूते आपके सौभाग्य और समृद्धि को प्रभावित करते हैं। किसी भी विशेष काम मसलन नौकरी के लिए इंटरव्यू, बेटे या बेटी के रिश्ते की बात करते जाते समय, लंबी यात्रा आदि में जाते समय भूलकर भी फटे हुए जूते न पहनें। ऐसे फुटवियर आपके कार्य की सफलता में बाधक बनते हैं।

* ऑफिस में भूरे रंग के जूते पहनकर जाने से बचें। विशेष रूप से बैकिंग या फिर एजूकेशन से जुड़े लोग इसका विशेष ध्यान रखें। ऐसे लोगों के लिए कॉफी या डार्क ब्राउन रंग के फुटवियर शुभ साबित होते हैं।