Top

ममता बनर्जी पांच मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ

टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी को आज विधायक दल का नेता चुन लिया गया है।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad MishraBy Raghvendra Prasad Mishra

Published on 3 May 2021 1:11 PM GMT

ममता बनर्जी पांच मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सरकार बनाने की तैयारी तेज हो गई है। टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी को आज विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। वह पांच मई को पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री के रूप में पद की शपथ लेंगी। जबकि नवनिर्वाचित विधायकों का शपथ छह मई को होगा। इस बात की जानकारी टीएमसी नेता और मंत्री पार्था चटर्जी ने दी है। उन्होंने बताया कि ममता बनर्जी सोमवार की शाम सात बजे राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगी।

गौरतलब है कि तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में जबरदस्त जीत हासिल कर एकबार फिर से इतिहास रच दिया है। इसी के साथ ममता बनर्जी लगातार तीसरी बार एकबार फिर राज्य की सत्ता में काबित होने जा रही हैं। बता दें कि टीएमसी ने 292 विधानसभा सीटों में से 213 सीटों जीत का परचम लगराया है। हालांकि विधानसभा चुनाव में अपना पूरा जोर लगाने वाली बीजेपी ने भी 77 सीटें हासिल करने में सफल रही है। बीजेपी के लिए इसे किसी बड़ी सफलता से कम नहीं आंका जाना चाहिए। क्योंकि पिछले चुनाव में बीजेपी को मात्र 3 ही सीटों पर संतोष करना पड़ा था।

Also Read:बंगाल का परिणाम राजनीति का सबक भी, संदेश भी

वहीं राष्ट्रीय सेकुलर मजलिस पार्टी के चिह्न पर चुनाव लड़ने वाली आईएसएफ की झोली में भी एक सीट आई है। इसके साथ ही एक निर्दलीय प्रत्याशी को भी जीत मिली है। जबकि इसबार कांग्रेस और लेफ्ट का खाता नहीं खुल पाया है। तृणमूल कांग्रेस के प्रदर्शन इस बार के प्रदर्शन को बेहतर माना जा सकता है क्योंकि वर्ष 2016 के विधानसभा चुनाव में पार्टी को 211 सीटों पर जीत मिली थी। हालांकि टीएमसी को बड़ी जीत मिलने के बाद भी ममता बनर्जी को नंदीग्राम सीट पर हार का समना करना पड़ा है।

Also Read:बिना व्हीलचेयर के नजर आईं ममता, बोलीं- अब डबल इंजन नहीं, डबल सेंचुरी की सरकार चलेगी


Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story