Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बंगाल हिंसा पर पीएम मोदी ने जताई चिंता, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला

बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हो रहे हमलों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को फोन करके दुख जताया है।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad MishraBy Raghvendra Prasad Mishra

Published on 4 May 2021 11:16 AM GMT

West Bengal violence
X

फोटो— (साभार— सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजे आने के बाद राजनीतिक हिंसाओं का दौर शुरू हो गया है। टीएमसी समर्थक बीजेपी कार्यकर्ताओं पर लगातार हमला बोल रहे है। इन हमलों बीजेपी के कई कार्यकर्ता घायल हुए हैं तो कुछ की मरने की भी खबर आ रही है। बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हो रहे हमलों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को फोन करके कानून और व्यवस्था कि स्थिति पर चिंता और दुख जताया है। प्रधानमंत्री के बीच हुई बातचीत की जानकारी पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ट्वीट कर दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फोन पर बात कर बंगाल में जारी हिंसा को लेकर चिंता व्यक्त की है।

सुप्रीम कोर्ट हिंसा का मामला

पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजे आने के बाद हिंसा का दौर चल पड़ा है। टीएमसी समर्थकों की तरफ से न सिर्फ बीजेपी के कार्यालयों को आग के हवाले कर दिया गया बल्कि पार्टी कार्यकर्ताओं की दुकानों पर हमला करके लूटपाट भी की। वहीं बीजेपी ने इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है। भाजपा नेता वकील गौरव भाटिया ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। उन्होंने बंगाल हिंसा की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। बता दें कि कल यानि 5 मई को बीजेपी हिंसा के विरोध में पूरे देश में प्रदर्शन करेगी। जबकि इसी दिन ममता बनर्जी मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाली हैं।

Also Read:पश्चिम बंगाल में हिंसा की घटनाओं पर सियासी माहौल गरमाया, भाजपा का ममता पर बड़ा हमला

जेपी नड्डा ने भी जताई हैरानी

हिंसा की घटनाओं के बीच बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर कोलकाता पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि राज्य में चुनाव परिणाम आने के बाद जो हिंसक घटनाएं देखने को मिल रही है वह झटका देने वाली हैं। इसको लेकर हम काफी चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि भारत के विभाजन के समय इस तरह की घटनाओं के बारे में सुना जाता था। नड्डा ने कहा, स्वतंत्र भारत में चुनाव के परिणाम के बाद इस तरह की असहिष्णुता हमने पहले कभी नहीं देखी। साथ ही उन्होंने इस विचार धारा की लड़ाई और असहिष्णुता से भरी तृणमूल कांग्रेस की गतिविधियों से लड़ने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई।

Also Read:BJP और TMC के कार्यकर्ताओं में हिंसक झड़प, तीन की मौत, गृह मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट


Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story