संपत्ति बनाने में इस महिला विधायक ने सभी को पछाड़ दिया, नाम सुनकर चौंक जाएंगे

एडीआर की रिपोर्ट को अगर हम ध्यान से देखें तो बिहार विधानसभा में 240 विधायकों में से 136 विधायकों पर आपराधिक केस दर्ज हैं। कहने का मतलब ये है कजी ये तमाम विधायक दागी हैं।

Published by Aditya Mishra Published: September 15, 2020 | 4:42 pm
Modified: September 15, 2020 | 4:43 pm
Currency

भारतीय मुद्रा की फोटो(सोशल मीडिया)

पटना: बिहार में इस बार कोरोना काल में ही विधान सभा के चुनाव होने वाले हैं। इलेक्शन कमीशन से मिले संकेतों पर अगर गौर करें तो विधान सभा का चुनाव अक्टूबर से नवबंर माह के बीच में सम्पन्न कराया जा सकता है।

पूर्व की भांति इस बार भी कई दागी चेहरे अपनी किस्मत आजमाने के लिए चुनाव में उतरने जा रहे हैं। इनके उपर हत्या से लेकर बलात्कार के कई संगीन आरोप लग चुके हैं।

बता दें कि बिहार विधानसभा में कुल 243 सीटें है। मौजूदा समय में वहां पर 240 विधायक हैं। जिसमें से आधे से ज्यादा विधायकों पर क्रिमिनल केस चल रहे हैं। तो आइए एक नजर इन 240 विधायकों की रिपोर्ट कार्ड पर डालते हैं।

ADR
एडीआर के लोगो की फोटो(सोशल मीडिया)

यह भी पढ़ें: देखें वीडियो: जया के बयान पर भड़की कंगना, कहा- ‘सुशांत की जगह अभिषेक होता तो?’

240 विधायकों में से 136 विधायकों पर आपराधिक केस

एडीआर की रिपोर्ट को अगर हम ध्यान से देखें तो बिहार विधानसभा में 240 विधायकों में से 136 विधायकों पर आपराधिक केस दर्ज हैं। कहने का मतलब ये है कजी ये तमाम विधायक दागी हैं।

इनमें से 94 विधायक पर सीरियस चार्ज लगे हैं। रिपोर्ट 2015 के विधानसभा चुनाव और उसके बाद हुए उपचुनाव में दिए गए शपथपत्रों के आधार पर बनाई गई है।

ये तमाम जानकारियां बिहार इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) की स्टडी में निकलकर सामने आई हैं।

इस संस्था ने वर्तमान विधायकों द्वारा दी गई जानकारियों का विस्तृत रूप से अध्ययन किया। जिसके बाद ये तमाम बातें रिपोर्ट के माध्यम से बाहर आ पाई हैं। एडीआर की रिपोर्ट में सबसे ज्यादा आपराधिक मुकदमें वाले 41 फीसदी विधायक आरजेडी में है।

इसी तरह दूसरे नम्बर p कांग्रेस में 40 फीसदी विधायक,तीसरे नम्बर पर जदयू में 37 फीसदी विधायक और चौथे नम्बर पर भाजपा के 35 फीसदी विधायक दागी की श्रेणी में हैं।

कहने का साफ –साफ़ मतलब है कि सभी दलों को दागी विधायक अच्छे लगते हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि इसमें से 11 विधायकों पर मर्डर का मुकदमा हैं। 30 से अधिक के खिलाफ हत्या के प्रयास और 5 विधायकों पर महिला से अत्याचार का केस दर्ज हैं। एक विधायक पर रप का केस दर्ज है।

यह भी पढ़ें: ताबड़तोड़ पत्थरबाजी: पुलिस की लापरवाही से बागपत में बवाल, जमकर पथराव

खगड़िया की विधायक पूनम देवी यादव सबसे अमीर विधायक

इसी तरह अगर हम बात करें कि कौन सा विधायक कितना पैसे वाला है। तो बिहार विधानसभा के 240 विधायकों में से 67 फीसदी विधायक करोड़पति हैं।

इस लिस्ट में सबसे उपर नाम खगड़िया की विधायक पूनम देवी यादव का हैं। उनके पास 41 करोड़ रुपए की संपत्ति बताई गई है। इसके बाद दूसरे नम्बर पर कांग्रेस के भागलपुर विधायक अजीत शर्मा हैं।

उनके पास 40 करोड़ रुपए की संपत्ति हैं। सबसे कम संपत्ति वाले विधायक रानीगंज से जदयू के अचमित ऋषि देव हैं। उनके पास 9.8 लाख रुपए की प्रापर्टी है।

इतना ही नहीं अगर हम वर्तमान विधायकों की औसत संपत्ति की बात करें तो सबसे रईस विधायक कांग्रेस के हैं। जबकि जदयू के 69 विधायकों में से 51, राजद के 80 विधायकों में से 51, भाजपा के 54 विधायकों में से 33, कांग्रेस के 25 विधायकों में से 17 और लोजपा के 2 विधायक करोड़पति हैं।

Books
लाइब्रेरी में रखी किताबों की फोटो(सोशल मीडिया)

240 में से 94 विधायकों ने 5वीं से 12वीं की पढ़ाई पूरी की

कांग्रेसी विधायकों की औसत संपत्ति 4.36 करोड़ से ज्यादा है। राजद की 3.02 करोड़, जदयू की 2.79 करोड़ और भाजपा की 2.38 करोड़ है। विधायकों की उम्र की बात करें तो 128 विधायकों की उम्र 25 से 50 साल के बीच है। जबकि, 112 की उम्र 51 से 80 साल के बीच है।

इसी तरह हम अगर शिक्षा की बात करें तो बिहार विधानसभा के 240 में से 94 विधायकों ने 5वीं से 12वीं तक ही पढ़ाई की है। 134 विधायकों ने अपनी शैक्षिक योग्यता ग्रैजुएट या उससे ऊपर बताई है। जबकि 9 विधायकों ने शैक्षिक योग्यता में सिर्फ साक्षर लिखा है।

ये भी पढ़ेंः सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, इतने प्रतिशत बढ़ी सैलरी, खुशी की लहर

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App