Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

रेपिस्ट अब नहीं बन पाएगा भाग्य का विधाता, वर्षों पुरानी मांग को इस दल ने किया पूरा

हाथरस के मुद्दे पर कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता फिर चाहें वो राहुल गांधी हो, प्रियंका गांधी हो या फिर शशी थरूर व अन्य नेता हो। वे उत्तर प्रदेश की योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार पर रोज जुबानी हमला बोल रहे हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 6 Oct 2020 11:02 AM GMT

रेपिस्ट अब नहीं बन पाएगा भाग्य का विधाता, वर्षों पुरानी मांग को इस दल ने किया पूरा
X
कांग्रेस पार्टी ने ये फैसला किया है कि बिहार चुनाव में किसी भी ऐसे उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया जाएगा, जिसपर रेप का आरोप लगा हो।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: यूपी के हाथरस जिले में कथित दुष्कर्म का मामला सामने आने के बाद यूपी से लेकर दिल्ली तक सियासत गरमाई हुई है। विपक्ष लगातार कानून व्यवस्था के मुद्दे पर उत्तर प्रदेश की सरकार पर निशाना साध रहा है।

हाथरस की घटना को लेकर आम आदमियों के मन में भी बेहद गुस्सा है। लोग सड़क से लेकर सोशल मीडिया पर अपने-अपने ढंग से इस घटना के प्रति अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं।

हाथरस कांड का इफेक्ट अब बिहार में होने जा रहे विधान सभा चुनाव पर भी देखने को मिल रहा है।

बिहार के अंदर बड़ी संख्या में दलित वोटर हैं, ऐसे में राजनेताओं की ओर से लगातार हाथरस की घटना को लेकर बयान दिया जा रहे हैं ।

Hathras हाथरस कांड के बारें में मीडिया को जानकारी देते हुए पीड़िता के परिजन(फोटो:सोशल मीडिया)

कांग्रेस इस बार बिहार चुनाव में किसी भी रेपिस्ट को टिकट नहीं देगी

इस बीच कांग्रेस पार्टी ने ये फैसला किया है कि बिहार चुनाव में किसी भी ऐसे उम्मीदवार को टिकट नहीं दिया जाएगा, जिसपर रेप का आरोप लगा हो।

इससे पूर्व पार्टी की महिला नेता सुष्मिता देव भी इस बात को अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कह चुकी हैं।

उन्होंने बहुत पहले ही ये बात कही थी कि किसी भी रेप आरोपी को टिकट नहीं दिया चाहिए, जबतक पीड़िता को न्याय नहीं मिलेगा कांग्रेस सड़क पर उतरकर संघर्ष करती रहेगी।

गौरतलब है कि बिहार चुनाव को लेकर कांग्रेस की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में उम्मीदवारों के नाम पर काफी विचार –विमर्श हुआ।

उसी वक्त ये निर्णय हुआ कि इस बार किसी भी रेप आरोपी को पार्टी की ओर से टिकट ना दिया जाना चाहिए। इसी बैठक के तत्काल बाद तीन उम्मीदवारों की टिकट रोक दी गई है। जिसमें से एक ब्रजेश पांडे भी है।

यह भी पढ़ें…हाथरस कांड पहुंचा SC: जज करेंगे जांच-UP में राष्ट्रपति शासन, सब पर फैसला आज

Priyanka Gandhi हाथरस जाते हुए राहुल और प्रियंका गांधी की फोटो(सोशल मीडिया)

यह भी पढ़ें…यूपी में रात भर बिजली गुल: कर्मचारियों का आंदोलन हुआ तेज, बिगड़ सकते हैं हालात

कांग्रेस को दलित वोटर्स के खिसकने का डर

यहां ये भी बता दें हाथरस के मुद्दे पर कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता फिर चाहें वो राहुल गांधी हो, प्रियंका गांधी हो या फिर शशी थरूर व अन्य नेता हो।

वे उत्तर प्रदेश की योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार पर रोज जुबानी हमला बोल रहे हैं। वे केंद्र और राज्य सरकार से बेटियों की सुरक्षा से जुड़े सवाल पूछते हैं।

बिहार चुनाव को लेकर कांग्रेस सर्तक

कांग्रेस नेता राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी खुद यूपी प्रशासन का सामना करते हुए हाथरस पहुंचे थे और पीड़िता के परिवार से भी मिले थी। जिसके बाद से अब बिहार चुनाव में भी पार्टी की ओर से ये संदेश देने की कोशिश की जा रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बिहार में कांग्रेस पार्टी राजद के साथ मिलकर करीब 70 सीटों पर इस बार इलेक्शन चुनाव लड़ रही है, ऐसे में जब यूपी में कांग्रेस की ओर से हाथरस कांड पर बीजेपी सरकार पर जुबानी हमला बोला जा रहा है। तब पार्टी बिहार को लेकर भी काफी अलर्ट नजर आ रही है।

यह भी पढ़ें…बिहार चुनाव: बदली स्थितियों से भाजपा हुई सतर्क, इस पार्टी से दूरी का लिया फैसला

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story