सुधरे हालात: बाढ़ से पीड़ितों को मिली राहत, कोरोना का आंकड़ा हुआ इतना

बिहार की नीतीश सरकार राज्य में फैलते कोरोना संक्रमण और भारी बारिश से बने बाढ़ के हालातों को लेकर चिंतित हैं

bihar coronavirus and Flood Situation officials review meeting

पटना: बिहार की नीतीश सरकार राज्य में फैलते कोरोना संक्रमण और भारी बारिश से बने बाढ़ के हालातों को लेकर चिंतित हैं। इसी के मद्देनजर राज्य के प्रशासनिक आलाधिकारियों से लेकर पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के बीच रोजाना अहम बैठक होती है। इस बैठक में कोरोना और बाढ़ के संकट से निपटने और जन सुरक्षा व सहायता को लेकर सुझावों चर्चा होती है।

अधिकारियों ने की बिहार के हालातों की समीक्षा

इसी कड़ी में रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये सचिव सूचना एवं जन सम्पर्क अनुपम कुमार, सचिव स्वास्थ्य लोकेश कुमार सिंह,  पुलिस मुख्यालय से अपर पुलिस महानिदेशक जितेंद्र कुमार, सचिव जल संसाधन संजीव हंस और अपर सचिव आपदा प्रबंधन रामचंद्र डू ने बैठक की। इस दौरान संक्रमण की रोकथाम और कई नदियों के जलस्तर को लेकर सरकार द्वारा किये जा रहे कार्यों पर चर्चा हुई।

bihar-coronavirus-and-flood-situation-officials-review-meeting

सीएम नीतीश कल करेंगे बैठक

सचिव, सूचना एवं जन-सम्पर्क अनुपम कुमार ने बताया कि कोविड-19 की वर्तमान स्थिति को लेकर सरकार द्वारा लगातार समीक्षा कर सभी आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं। सीएम नीतीश कुमार कल वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 की स्थिति के संबंध में विस्तृत समीक्षा करेंगे।

बिहार में कोरोना के हालात

सरकार इस मामले में पूरी तरह सजग एवं सतर्क है और यही कारण है कि कोरोना संक्रमण के पॉजिटिविटी रेट में लगातार कमी हो रही है। प्रतिदिन जांच की संख्या बढ़ रही है और प्रतिदिन डेढ़ लाख से अधिक सैंपल की जाॅच होने लगी है। रिकवरी रेट में उतरोत्तर सुधार हो रहा है। बिहार का रिकवरी रेट 88.24 प्रतिशत हो गया है, जो राष्ट्रीय औसत से 11 प्रतिशत से भी अधिक है।

बिहार में बाढ़ की स्थिति हो रही सामान्य

बाढ़ की स्थिति भी अब धीरे-धीरे सामान्य हो रही है। उन्होंने बताया कि रोजगार सृजन पर सरकार का पूरा ध्यान है और लॉकडाउन पीरियड से लेकर अभी तक 05 लाख 60 हजार 246 योजनाओं के अंतर्गत 14 करोड़ 71 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है।

24 घंटे में कोविड-19 के 1,797 नये मामले

सचिव स्वास्थ्य लोकेश कुमार सिंह ने के माध्यम से बताया कि कोरोना संक्रमण से पिछले 24 घंटे में 1,924 लोग स्वस्थ हुए हैं और अब तक 1,30,300 लोग कोविड-19 संक्रमण से स्वस्थ हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 1,797 नये मामले सामने आये हैं। वर्तमान में बिहार में कोविड-19 के 16,603 एक्टिव मरीज हैं। उन्होंने बताया कि 05. 09. 2020 को 1,51,033 सैंपल्स की जांच की गई है और अब तक की गयी कुल जांच की संख्या 40,22,766 है।

गाइडलाइन्स का अनुपालन, 24 घंटे में 3 गिरफ्तारी

अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस मुख्यालय जितेन्द्र कुमार ने से बताया कि 01 अगस्त से लागू अनलॉक-3 के तहत जारी गाइडलाइन्स का अनुपालन कराया जा रहा है। पिछले 24 घंटे में 01 कांड दर्ज किया गया है और 03 व्यक्तियों की गिरफ्तारी भी हुई है। इस दौरान 495 वाहन जब्त किये गये हैं और 16 लाख 87 हजार 100 रूपये की राशि जुर्माने के रुप में वसूल की गई है।

अब तक 6 करोड़ 26 लाख से ज्यादा जुर्माना वसूला

इस प्रकार 1 अगस्त से अब तक 91 कांड दर्ज किये गए हैं और 169 व्यक्तियों की गिरफ्तारी हुई है। कुल 22,259 वाहन जब्त किए गए हैं और 06 करोड़ 26 लाख 74 हजार 420 रुपए की राशि जुर्माना ने के रूप में वसूल की गयी है। उन्होंने बताया कि सार्वजनिक स्थानों पर मास्क नहीं पहनने वाले लोगों पर भी लगातार कार्रवाई की जा रही है।

मास्क नहीं पहनने वाले 7,076 व्यक्तियों से 3 लाख 53 हजार जुर्माना

पिछले 24 घंटे में मास्क नहीं पहनने वाले 7,076 व्यक्तियों से 03 लाख 53 हजार 800 रूपये की राशि जुर्माने के रूप में वसूल की गयी है। इस प्रकार 01 अगस्त से अब तक मास्क नहीं पहनने वाले 1,74,763 व्यक्तियों से 87 लाख 38 हजार 150 रूपये की जुर्माना राशि वसूल की गयी है। कोविड-19 से निपटने के लिये उठाये जा रहे कदमो और नए दिशा निर्देशों का पालन करने में अवरोध पैदा करने वालों के खिलाफ सख्ती से कदम उठाये जा रहे हैं।

बिहार की इन नदियों का जलस्तर इतना

सचिव जल संसाधन संजीव हंस ने बताया कि गंडक नदी में आज वाल्मीकिनगर बराज पर 12 बजे दिन में 95,200 क्यूसेक जलश्राव प्रवाहित हुआ है और इसकी प्रवृति बढ़ने की है।

गंगा नदी का जलस्तर गांधी घाट, हाथीदह एवं कहलगांव में आज सुबह 6 बजे खतरे के निशान से क्रमशः 0.10 मीटर, 0.27 मीटर, 0.12 मीटर ऊपर है।

कोशी नदी के कोशी बराज, वीरपुर में 1,09450 क्यूसेक जलश्राव प्रवाहित हुआ है और इसकी प्रवृत्ति घटने की है। कोशी नदी का जलस्तर बलतारा अवस्थित गेज स्थल के पास 34.28 मीटर दर्ज किया गया, जो खतरे के निशान 33.85 मीटर से 0.43 मीटर ऊपर है।

ये भी पढ़ें :जातिवादी योगी सरकार! कांग्रेस नेता का सवाल- क्‍या यूपी में ब्राह्मण होना पाप है ?

सोन नदी में आज 12 बजे दिन में 26,183 क्यूसेक जलश्राव प्रवाहित हुआ है और इसकी प्रवृत्ति स्थिर है।

बागमती नदी का जलस्तर ढेंग, सोनाखान, डूब्बाधार, कटौझा, बेनीबाद, कनसार /चंदौली एवं हायाघाट गेज स्थलों पर खतरे के निशान से नीचे है।

कमला बलान नदी का जलस्तर जयनगर वीयर के डाउनस्ट्रीम के पास एवं झंझारपुर रेल पुल में खतरे के निशान से क्रमशः 0.60 मीटर एवं 0.70 मीटर नीचे है।

महानंदा नदी का जलस्तर तैयबपुर एवं ढेंगराघाट गेज स्थल पर खतरे के निशान से 1.91 मी0 एवं 0.133 मी0 नीचे है। अधवारा नदी का जलस्तर सोनवर्षा, सुंदरपुर एवं पुपरी गेज स्थल पर खतरे के निशान से नीचे है।

बूढ़ी गंडक नदी का जलस्तर खगड़िया में 0.44 मीटर उपर है तथा सिकन्दरपुर, समस्तीपुर रेल पुल एवं रोसरा रेल पुल में खतरे के निशान से नीचे है। घाघरा नदी का जलस्तर दरौली एवं गंगपुर सिसवन में खतरे के निशान से 1.02 मीटर एवं 1.32 मीटर नीचे है।

आपदा प्रबंधन विभाग पूरी तरह से सतर्क

अपर सचिव आपदा प्रबंधन रामचंद्र डू ने बताया है कि बिहार की विभिन्न नदियों के बढ़े जलस्तर को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग पूरी तरह से सतर्क है। नदियों के बढ़े जलस्तर से बिहार के 16 जिले के कुल 130 प्रखंडों की 1,333 पंचायतें प्रभावित हुई हैं जहाँ आवश्यकतानुसार 05 कम्युनिटी किचेन चलाए जा रहे हैं, जिनमें प्रतिदिन 22,710 लोग भोजन कर रहे हैं।

NDRF और SDRF की टीमें तैनात

सभी बाढ़ प्रभावित जिलों में NDRF और SDRF की टीमें प्रतिनियुक्त हैं और अब तक प्रभावित इलाकों से NDRF, SDRF और बोट्स के माध्यम से 5,50,792 लोगों को निष्क्रमित किया गया है। बाढ़ प्रभावित 16,62,542 परिवारो को GR की राशि 6,000 रूपये की दर से कुल 997.52 करोड़ रूपये का भुगतान उनके बैंक खाते में किया जा चुका है। ऐसे परिवारों को SMS के माध्यम से सूचित भी किया गया है। आपदा प्रबंधन विभाग संपूर्ण स्थिति पर लगातार निगरानी रख रहा है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App