बिहार में शुरू हुआ पोस्टर वार, लालू परिवार के बाद अब नीतीश पर निशाना

बिहार में जल्द होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी माहौल गरमाता जा रहा है। इसके साथ ही राजनीतिक दलों के बीच पोस्टर वार भी शुरू हो गया है।

bihar-poster-war

बिहार में शुरू हुआ पोस्टर वार, लालू परिवार के बाद अब नीतीश पर निशाना (social media)

पटना: बिहार में जल्द होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी माहौल गरमाता जा रहा है। इसके साथ ही राजनीतिक दलों के बीच पोस्टर वार भी शुरू हो गया है। मजे की बात है कि एक-दूसरे पर हमला करने वाले ये पोस्टर बेनामी हैं और इन पर किसी भी पार्टी का नाम नहीं लिखा गया है। इन पोस्टरों के जरिए खास तौर पर लालू परिवार और नीतीश कुमार पर निशाना साधने की कोशिश की गई है। पोस्टरों में मतदाताओं को पुरानी बातों को याद दिलाते हुए सतर्क रहने की हिदायत दी गई है।

ये भी पढ़ें:गाड़ियों पर बड़ी खबर: जल्द से जल्द कर लें ये काम, नहीं तो देना पड़ेगा 10 हजार जुर्माना

नीतीश कुमार के डीएनए में गड़बड़ी

पटना की सड़कों पर बुधवार को लगाए गए पोस्टरों में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला किया गया है। इन पोस्टरों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की फोटो है और प्रधानमंत्री मोदी का पुराना बयान लगाया लिखा गया है जिसमें उन्होंने कहा था कि नीतीश कुमार के डीएनए में ही गड़बड़ी है।

नीतीश कुमार मारते रहे बस पलटी

इसके साथ ही नीतीश कुमार के खिलाफ लगाए गए एक अन्य पोस्टर में भी उन पर हमला करते हुए लिखा गया है कि मारते रहे बस पलटी, नीतीश की हर बात कच्ची। हालांकि इन पोस्टरों पर किसी भी राजनीतिक दल का नाम नहीं लिखा गया है।

वैसे सियासी जानकारों का कहना है कि पिछले दिनों लालू परिवार के खिलाफ लगाए गए पोस्टरों के जवाब में ये पोस्टर लगाए गए हैं। इसके पीछे राजद का हाथ बताया जा रहा है।

एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार

इसके पूर्व पटना में लगाए गए पोस्टरों में लालू परिवार पर हमला किया गया था। एक पोस्टर में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, उनके दोनों बेटों तेज प्रताप और तेजस्वी यादव के साथ राबड़ी देवी और मीसा भारती की तस्वीर लगाई गई थी। पोस्टर के जरिए लालू परिवार पर निशाना साधते हुए लिखा गया था- एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार।

Bihar_election
Bihar_election (social media)

लालू परिवार पर भ्रष्टाचार के आरोप

इसके अलावा लगाए गए एक अन्य पोस्टर में लालू परिवार पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए थे। इस पोस्टर में एक बस को दिखाया गया है जिसमें लालू के साथ ही राबड़ी, उनके दोनों बेटे तेजप्रताप और तेजस्वी और मीसा भारती को सवार दिखाया गया है। लोगों को इस परिवार से सतर्क रहने की हिदायत दी गई है।

राज्य का सियासी माहौल गरमाने के साथ ही लगाए जा रहे इन पोस्टरों में किसी भी पार्टी का नाम नहीं लिखा गया है मगर जानकारों के मुताबिक एक-दूसरे पर हमला करने वाले ये पोस्टर जदयू और राजद की ओर से लगाए जा रहे हैं।

एनडीए में चिराग का बागी तेवर

इस बीच राज्य में दोनों प्रमुख गठबंधन एनडीए और विपक्षी महागठबंधन में सीट शेयरिंग का मामला नहीं सुलझ पा रहा है। एनडीए लोजपा के मुखिया चिराग पासवान ने विरोध का झंडा बुलंद कर रखा है। वे लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला कर रहे हैं।

माना जा रहा है कि इसके पीछे उनकी रणनीति विधानसभा चुनाव में ज्यादा सीटों को हासिल करने की है। हालांकि भाजपा की ओर से दावा किया जा रहा है की सीट शेयरिंग का फार्मूला आसानी से सुलझ जाएगा।

महागठबंधन में रालोसपा बिफरी

दूसरी ओर विपक्षी महागठबंधन में भी चुनाव से पहले ही महाभारत छिड़ गई है। पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के महागठबंधन छोड़कर एनडीए में जाने के बाद अब रालोसपा ने भी आंखें दिखानी शुरू कर दी है।

ये भी पढ़ें:बनारस की बेटी उड़ाएगी राफेल, आसमान में दिखेगा यूपी का दम

रालोसपा की ओर से आज पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई है और इस बैठक में मौजूदा स्थिति पर पार्टी नेताओं के साथ चर्चा करके अंतिम फैसला लिया जाएगा। रालोसपा के महासचिव आनंद माधव का कहना है कि अगर महागठबंधन मौजूदा अनिर्णय की स्थिति से बाहर नहीं आता है तो बिहार के विकास के लिए हम कोई भी फैसला लेने के लिए स्वतंत्र होंगे।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App