Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

गैंगरेप पीड़िता के पति ने की इंसाफ की मांग, कहा मेरे बेटे जैसे मिले हत्यारों को मौत

बीते दिनों बक्सर में हुए गैंगरेप केस में पीड़िता के पति ने इंसाफ की मांग की है। पति का कहना है कि जिस तरह से उसके 5 साल के बेटे की हत्या की गई, उसी तरह आरोपियों को भी मौत मिले।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 13 Oct 2020 7:23 AM GMT

गैंगरेप पीड़िता के पति ने की इंसाफ की मांग, कहा मेरे बेटे जैसे मिले हत्यारों को मौत
X
किशोरी के मां-बाप का कहना है कि वह किसी के घर पर काम करने गई थी और उन्हें ऐसा लगता है कि वहां रहने वाले युवक ने उनकी बेटी के साथ रेप किया है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बक्सर: सरकार के महिला सुरक्षा और सम्मान के दावे इन दिनों देश में फेल होते नजर आ रहे हैं। देश भर से एक के बाद एक महिलाओं, युवतियों और यहां तक कि बच्चियों के साथ गैंगरेप व रेप के मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच बिहार के बक्सर जिले से गैंगरेप का भयानक मामला सामने आया था। जहां पर महिला के साथ कुछ लोगों ने दरिंदगी की और इसके बाद उसके 5 साल के बेटे की हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

पीड़िता के पति ने की इंसाफ की मांग

वहीं अब इस मामले में बक्सर पहुंचे पीड़ित महिला के पति ने इंसाफ की मांग की और कहा कि जिस तरह से हत्यारों ने मेरे बेटे को मार डाला, उसी तरह से उन्हें भी मारा जाए। मामला, बिहार के बक्सर जिले का है, यहां मुरार थाने के ओझा बराव गांव में एक महिला अपने बेटे के साथ बैंक के लिए निकली थी, इसी दौरान कुछ लोगों ने रास्ते में महिला का अपहरण कर लिया। आरोपी मां और बेटे को एकांत जगह पर ले गए और यहां पर महिला के साथ दरिंदगी की घटना को अंजाम दिया गया।

यह भी पढ़ें: खून से सन गई पुलिस अफसरों की वर्दी, कैदियों ने इतना मारा, हत्या के 8 आरोपी फरार

GANGRAPE (फोटो- सोशल मीडिया)

मां और बेटे को नदी में जिंदा फेंका, मासूम की मौत

आरोपियों ने गैंगरेप के बाद महिला के साथ उसके पांच वर्षीय मासूम को कपड़े से बांधा और नदी में फेंक दिया। लोगों ने डूबती महिला को तो बचा लिया लेकिन साथ बंधे मासूम की मौत हो गई। महिला को इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, अब पीड़िता की हालत में सुधार बताया जा रहा है। लेकिन अपने 5 साल के मासूम बेटे की मौत से वो सदमे में है। बता दें कि पीड़िता का पति विशाखापटनम में नौकरी करता है। घटना की जानकारी के बाद वह बक्सर पहुंचा है।

यह भी पढ़ें: Bigg Boss में बायस्ड हुए सीनियर्स: सारा के एविक्शन से भड़के फैंस, कही ये बात

विशाखापटनम में नौकरी करता है पीड़िता का पति

अब पीड़िता के पति ने इंसाफ की मांग की है। उसने कहा कि वह अपनी पत्नी और बेटे से बहुत प्यार करता है। पति ने बताया कि जब वह नौकरी करने के लिए विशाखापटनम गया तो पत्नी और बेटे को ससुराल छोड़ गया था, ताकि उन लोगों को वहां पर अच्छी देखभाल मिल सके। जानकारी के मुताबिक, पीड़िता ने मेहनत मजदूरी करके जो पैसे जमा किए थे, उन पैसों को वो बैंक में डालने जा रही थी। पति ने बताया कि पीड़िता ने इस बारे में उसे भी जानकारी दी थी। उस दिन पीड़िता काफी खुश थी।

बेटे की ही तरह मिले आरोपियों को मौत

पीड़िता के पति ने बताया कि बैंक के बाद वह बेटे के लिए कपड़े लेने के लिए बाजार जाने वाली थी, लेकिन उससे पहले ही ये घटना हो गई। अब पति ने मांग की है कि जिस तरह से आरोपियों ने उसके बेटे को नदी में फेंक कर मार डाला, उसी तरह उन्हें भी पानी में डुबाकर मौत की सजा दी जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें: स्कूल में इमला बोलकर दी जाती थी आतंकवादी बनने की कोचिंग, 3 शिक्षक अरेस्ट

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story