Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बिहार में योगी हुंकार: हिन्दुत्व पर न्यौछावर हुआ ये राज्य, इसलिए पस्त हुआ विपक्ष

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर निर्माण करने के उनके संकल्प पर न्यौछावर होकर भाजपा को उन सीटों का भी तोहफा दे दिया जो पिछले चुनाव में उसकी झोली में आने से रह गई थीं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 10 Nov 2020 1:10 PM GMT

बिहार में योगी हुंकार: हिन्दुत्व पर न्यौछावर हुआ ये राज्य, इसलिए पस्त हुआ विपक्ष
X
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर निर्माण करने के उनके संकल्प पर न्यौछावर होकर भाजपा को तोहफा दे दिया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जादू बिहार विधानसभा चुनाव में भी जमकर चला है। उनके हिन्दुत्व को बिहार की जनता ने भी खूब पसंद किया । अयोध्या में भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर निर्माण करने के उनके संकल्प पर न्यौछावर होकर भाजपा को उन सीटों का भी तोहफा दे दिया जो पिछले चुनाव में उसकी झोली में आने से रह गई थीं।

ये भी पढ़ें...Bigg Boss में बड़ा ट्विस्ट: इन पर भी लटकी नॉमिनेशन की तलवार, आने वाला है मजा

भाजपा के लिए खेवनहार साबित

उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दूसरे राज्यों में भी भाजपा के लिए खेवनहार साबित हुए हैं। यही वजह है कि भाजपा ने उन्हें महाराष्ट्र, गुजरात, झारखंड, छत्तीसगढ़ से लेकर बिहार तक सभी राज्यों के चुनाव में आजमाया है।

बिहार विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ ने 19 विधानसभा क्षेत्रों के लिए चुनावी रैली की। इन रैलियों में उन्होंने अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण से बिहार के मतदाताओं का रिश्ता भी जोड़ा और उन्हें याद दिलाया कि माता सीता की जन्मभूमि मिथिला के लोग भी मंदिर निर्माण से खुश हो रहे हैं।

भाषणों का सकारात्मक असर

लालू राज के माफिया आतंक की चर्चा करते हुए उन्होंने मतदाताओं को बताया कि उनकी सरकार में ऐसे लोगों की जगह जेल में है। माफिया ने जिन जमीनों पर कब्जा किया है उसे खाली करवाकर गरीबों को दिया जा रहा है। उनके भाषणों का सकारात्मक असर भी देखने को मिल रहा है।

जिन इलाकों में योगी आदित्यनाथ की चुनावी रैली हुई उसके आस -पास भी भगवा लहराता हुआ दिखाई दे रहा है। जिन 19 सीटों पर उन्होंने प्रचार किया है उन सभी पर भाजपा के प्रत्याशी बढ़त बनाए हुए हैं।

ये भी पढ़ें...बिहार चुनाव: जमुई विधानसभा से बीजेपी की श्रेयसी सिंह 22978 मतों से आगे

लखनऊ की मीटिंग और चुनावी रैली एक साथ

चुनावी रैलियों को संबोधित करने के दौरान भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी जिम्मेदारियों को समय से पूरा किया। कोरोना नियंत्रण से जुड़ी मीटिंगों के अलाव अन्य महत्वपूर्ण कार्य निपटाते हुए उन्होंने बिहार में चुनाव प्रचार की कमान भी संभाली।

cm-yogi फोटो-सोशल मीडिया

हाल यह रहा कि लखनऊ में कैबिनेट मीटिंग करने के बाद उन्होंने चुनावी रैलियों में जाकर मतदाताओं से संपर्क स्थापित किया और लौटकर देर रात तक अधिकारियों के साथ कोरोना की रणनीति बनाते रहे।

बिहार की इन चुनावी रैलियों में योगी ने भरी हुंकार

20/21 अक्टूबर

कैमूर- रामगढ़

अरवल- अरवल विधानसभा

रोहतास- काराकाट विस

जमुई- जमुई विस

भोजपुर- तरारी विधानसभा

पटना-पालीगंज

-----------------

28/29 अक्टूबर

सीवान- गोरियाकोठी विधानसभा

पूर्वी चंपारण- गोविंदगंज विस

पश्चिमी चंपारण- चनपटिया विस

_________

सीवान- दरौंदा विस

वैशाली-लालगंज विस

मधुबनी- झंझारपुर विस

_______________

2 नवम्बर

पश्चिमी चंपारण - बाल्मीकिनगर (लोकसभा,विधानसभा की संयुक्त)

रक्सौल विधानसभा

सीतामढ़ी विधानसभा

__________

4 नवम्बर

कटिहार विधानसभा

मधुबनी- बिस्फी विधानसभा

दरभंगा- केवती विधानसभा

सहरसा- सिमरी बख्तियारपुर विधानसभा

ये भी पढ़ें...फीकी हुई दीपावली: सरकार ने पटाखों पर लगाया प्रतिबन्ध, प्रदूषण की मार

रिपोर्ट-अखिलेश तिवारी

Newstrack

Newstrack

Next Story