Top

नीतीश कैबिनेट की पहली कैबिनेट बैठक, हो सकता है मंत्रियों के विभागों का बंटवारा

आज सुबह 11 बजे मुख्य सचिवालय स्थित कैबिनेट कक्ष में नीतीश कैबिनेट की इस बैठक में कई अहम फैसले लिए जाएंगे।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 17 Nov 2020 5:26 AM GMT

नीतीश कैबिनेट की पहली कैबिनेट बैठक, हो सकता है मंत्रियों के विभागों का बंटवारा
X
नीतीश कैबिनेट की पहली कैबिनेट बैठक, हो सकता है मंत्रियों के विभागों का बंटवारा (Photo by social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: बिहार में सोमवार को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद सातवीं बार बिहार की सत्ता संभालने वाले नीतीश कुमार अब आज मंगलवार को अपनी 15 सदस्यीय नए मंत्रिमंडल के साथ पहली कैबिनेट बैठक करेंगे। इस बैठक में सभी मंत्रियों को उनके विभाग व कार्यभार दिए जाने का फैसला होगा। नीतीश के मंत्रिमंडल में अभी जदयू से 5, भाजपा से 7 और हम-वीआईपी से एक-एक मंत्री शामिल हैं। इसके अलावा खबर है कि बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता नंद किशोर यादव विधानसभा के नए अध्यक्ष हो सकते है।

ये भी पढ़ें:नीतीश के सामने इन चुनौतियों का अंबार, नई सरकार में भाजपा पूरी तरह हावी

नीतीश कैबिनेट की इस बैठक में कई अहम फैसले लिए जाएंगे

आज सुबह 11 बजे मुख्य सचिवालय स्थित कैबिनेट कक्ष में नीतीश कैबिनेट की इस बैठक में कई अहम फैसले लिए जाएंगे। बिहार में 23 नवंबर को राज्य विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने और इसी दिन नवनिर्वाचित विधायकों को नए विधानसभा अध्यक्ष द्वारा सदस्यता की शपथ दिलवाये जाने का फैसला भी लिया जा सकता है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश अपनी पहली बैठक में ही चुनाव के दौरान जनता के साथ किए गए कुछ वादों और घोषणाओं को अमली जामा भी पहना सकते है।

ये भी पढ़ें:कांप उठी भाजपा: जली सांसद रीता बहुगुणा जोशी की पोती, हुआ बड़ा हादसा

ये दोनों भाजपा के निर्वाचित विधायक थे जिन्हें उपमुख्यमंत्री बनाया गया है

इससे पहले पटना राजभवन में सोमवार की शाम नीतीश कुमार ने सातवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेकर सत्ता की बागडोर संभाली। शपथ ग्रहण समारोह में राज्यपाल फागू चैहान ने नीतीश कुमार के अलावा चैदह मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। नीतीश मंत्रिमंडल में मंगल पांडेय और विजेंद्र यादव को छोड़कर लगभग सभी नए चेहरे शामिल हैं। बिहार में पहली बार दो उपमुख्यमंत्री बनाए गए हैं और पहली बार ही किसी महिला को उपमुख्यमंत्री बनाया गया है। ये दोनों भाजपा के निर्वाचित विधायक थे जिन्हें उपमुख्यमंत्री बनाया गया है। हालांकि नीतीश कुमार की पूर्व की सभी एनडीए सरकारों में उपमुख्यमंत्री बनने वाले सुशील मोदी को इस बार मुख्यमंत्री नहीं बनाया गया है। चर्चा है कि भाजपा उन्हे केंद्र में या संगठन में कोई महत्वपूर्ण दायित्व सौंप सकती है।

रिपोर्ट- मनीष श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story