कांप उठी भाजपा: जली सांसद रीता बहुगुणा जोशी की पोती, हुआ बड़ा हादसा

दिग्‍गज राजनीतिज्ञों में शुमार डॉ रीता बहुगुणा जोशी के लिए आतिशबाजी एक डरावने सपने में तब्‍दील हो गई है। उनकी छह साल की पौत्री किया सोमवार की शाम चार बजे प्रयागराज में स्थित अपने घर की छत पर पटाखों की आग की चपेट में आ गई।

Published by Vidushi Mishra Published: November 17, 2020 | 10:39 am
Modified: November 17, 2020 | 10:40 am
Dr Rita Bahuguna Joshi

फोटो-सोशल मीडिया

लखनऊ। योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुकी इलाहाबाद की सांसद डॉ रीता बहुगुणा जोशी की छह साल की पौत्री की आग से जलकर दर्दनाक मौत हो गई है। सोमवार को बच्‍चों के साथ पटाखा छुडाने के दौरान हादसा हुआ। गंभीर तौर पर आग से झुलस गई बच्‍ची को इलाज के एयर एंबुलेंस से दिल्‍ली ले जाया गया लेकिन बचाया नहीं जा सका।

ये भी पढ़ें… मुख्यमंत्री ने फूलों से बनी गुरु गोरक्षनाथ अगरबत्ती को सराहा, इसलिए बताया बड़ा कदम

पटाखों की आग की चपेट

प्रदेश के दिग्‍गज राजनीतिज्ञों में शुमार डॉ रीता बहुगुणा जोशी के लिए आतिशबाजी एक डरावने सपने में तब्‍दील हो गई है। उनकी छह साल की पौत्री किया सोमवार की शाम चार बजे प्रयागराज में स्थित अपने घर की छत पर पटाखों की आग की चपेट में आ गई। बताया जा रहा है कि बच्‍ची ने फैंसी ड्रेस पहन रखी थी जिसकी वजह से आग तेजी से भडक उठी।

घर की छत पर हादसा होने की जानकारी परिवारजनों को देरी से मिल सकी। स्‍थानीय चिकित्‍सों ने बताया कि पटाखों की चपेट में आने से बच्‍ची 60 प्रतिशत जल चुकी है। उसे स्‍थानीय निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था।

मंगलवार की सुबह एयर एंबुलेंस से उसे दिल्‍ली ले जाया गया लेकिन एम्‍स के चिकित्‍सक भी बच्‍ची को बचा नहीं पाए। हादसे की जानकारी मिलने पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ हर्षवर्धन और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने भी रीता जोशी से बात की थी।

ये भी पढ़ें…अमेरिका में कोरोना के 1 करोड़ 11 लाख से ज्यादा मामले, 2 लाख 47 हजार लोगों की मौत

सांसद के मीडिया प्रभारी अभिषेक शुक्ल के अनुसार बच्चे घर की छत पर खेल रहे थे। इस दौरान पटाखा फटने से किया बुरी तरह घायल हो गई। उसे तत्काल अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसके 60 प्रतिशत तक जलने की जानकारी दी। सांसद के इकलौते बेटे मयंक उस वक्‍त लखनऊ में थे। मयंक की शादी 2007 में हुई थी। किया उनकी इकलौती बेटी है।

कोरोना से जीती लेकिन आग से हार गई मासूम किया

छह साल की मासूम पर कुछ ही महीने में एक के बाद दूसरी मुसीबत टूट पड़ी। सितंबर महीने में सांसद डॉ. रीता बहुगुणा जोशी, बहू रिचा और पोती किया के साथ कोरोना पॉजीटिव पाई गई थीं। तीनों को पीजीआई लखनऊ से मेदांता दिल्ली शिफ्ट किया गया।

स्‍वस्‍थ होने के बाद वह दिल्‍ली में ही रहीं। दीपावली पर पूरा परिवार प्रयागराज आया हुआ था। कोरोना को हराने वाली किया को आखिरकार आतिशबाजी ने निगल लिया।

ये भी पढ़ें…कैबिनेट मंत्री का निधन, देश में शोक की लहर, PM मोदी समेत दिग्गजों ने जताया शोक

रिपोर्ट- अखिलेश‍ तिवारी

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App