×

Lok Sabha Elections 2024: 'समय से पहले हो सकता है लोकसभा चुनाव', विपक्षी दलों की बैठक से पहले CM नीतीश का बड़ा बयान

Lok Sabha Elections 2024: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विपक्षी दलों की पटना में होने वाली बैठक से पहले कहा कि, कब चुनाव हो जाए कोई जानता है। जरूरी है कि अगले ही साल चुनाव होगा?

Aman Kumar Singh
Published on: 14 Jun 2023 4:20 PM GMT (Updated on: 14 Jun 2023 4:47 PM GMT)
Lok Sabha Elections 2024: समय से पहले हो सकता है लोकसभा चुनाव, विपक्षी दलों की बैठक से पहले CM नीतीश का बड़ा बयान
X
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Social Media)

Lok Sabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव 2024 में करीब-करीब एक साल का वक्त शेष है। लेकिन, हो सकता है कि ये समय से पहले ही हो जाए। ऐसा हम नहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) कह रहे हैं। राजधानी पटना में बुधवार (14 जून) को सीएम नीतीश कुमार ने 5,061 योजनाओं का शिलान्यास, कार्य आरंभ और उद्घाटन किया। इसी मौके पर उन्होंने मीडिया से बात करते हुए समय से पहले लोकसभा चुनाव होने की आशंका जताई। इतना ही नहीं उन्होंने अधिकारियों को निर्देश भी दिए।

आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सभी राजनीतिक दल तैयारियों में जुटी है। पॉलिटिकल पार्टीज गुणा-गणित में जुटी है। इसी तरह उम्मीदवार भी गोटियां सेट करने में जुटे हैं। एक तरफ जहां केंद्र की सत्ता में काबिज भारतीय जनता पार्टी (BJP) 'सत्ता में हैट्रिक' का दावा कर रही है, तो वहीं विपक्षी दल एकजुटता का प्रयास कर रही है। इसी के मद्देनजर सीएम नीतीश कुमार ने 23 जून को पटना में विपक्षी दलों की बैठक बुलाई है। इस सबके बीच बिहार के मुख्यमंत्री ने तय समय से पहले लोकसभा चुनाव होने की संभावना जाहिर की है।

नीतीश कुमार- कब चुनाव हो जाए कोई जानता है?

पटना में आयोजित एक कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने अपने अधिकारियों से काम जल्दी निपटाने के लिए कहा। सीएम नीतीश ने आगे कहा, 'आप लोग तो कह रहे हैं कि जनवरी 2024 तक कर लेंगे। लेकिन, हम तो आग्रह करेंगे कि और जल्दी कीजिए। जितना जल्दी होगा, उतना ठीक होगा। कब चुनाव हो जाए कोई जानता है? उन्होंने आगे कहा, कोई जरूरी है कि अगले ही साल चुनाव होगा। कोई ठिकाना है पहले ही चुनाव हो जाए? इसलिए तेजी से काम कीजिए।'

'अब जो आए हैं उन्होंने 60-40 का हिसाब कर दिया'

मीडिया से बात करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने पुराने दिन याद किए। उन्होंने कहा, 'हम तो अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में भी रहे। उनके साथ भी काम किया। उन्होंने बहुत अच्छा काम कराया था। देशभर में 'प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना' की शुरुआत कराई।' जनता दल यूनाइटेड (JDU) के नेता ने बीजेपी का नाम लिए बिना कहा कि, 'अब जो आए हैं उन्होंने 60 और 40 का हिसाब कर दिया। यानी 60 परसेंट केंद्र से मिलेगा और 40 फीसद राज्य सरकार देगी। कहलाएगा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना। अगर, फैक्ट देखा जाए तो खर्च 50-50 हो गया है।'

23 जून को पटना में लगेगा विपक्षी नेताओं का जमघट

गौरतलब है कि, इसी महीने 23 जून को सीएम नीतीश कुमार के बुलावे पर विपक्षी दलों की बैठक का आयोजन किया गया है। इसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के भी शामिल होने की संभावना है। इनके अलावा, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे (mallikarjun kharge), बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, उद्धव ठाकरे, NCP नेता शरद पवार, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव सहित अन्य के शामिल होने की बात कही जा रही है। इन सबकी सहमति से बैठक की तारीख तय हुई है। बैठक में लेफ्ट नेता भी बैठक में शामिल होंगे, जिसमें सीताराम येचुरी, डी राजा, दीपांकर भट्टाचार्य के नाम भी शामिल हैं।

BJP को 100 सीटों पर समेटना चाहते हैं नीतीश

नीतीश कुमार कुछ महीनों से बार-बार दोहराते रहे हैं कि उन्हें बीजेपी को सत्ता से बेदखल करना है। उनका लक्ष्य बीजेपी को महज 100 सीटों पर समेटने का है। उन्होंने पहले भी कहा है कि, इसके लिए आवश्यक है कि ऐसे राज्य जहां क्षेत्रीय पार्टी (Regional Party in India) की सरकार है, वहां महागठबंधन बनाया जाए। बीजेपी के खिलाफ बस एक कैंडिडेट को मैदान में उतारा जाए, ताकि वोटों का बिखराव न हो।

Aman Kumar Singh

Aman Kumar Singh

Next Story