Top

बाढ़ में निकली बारात: बहते पानी में निकला दूल्हा, ऐसे हो रहीं शादियां

बाढ़ के चलते हजारों-लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि वहां के लोग इस विपदा के चलते अपनी खुशियां कम नहीं होने देना चाहते हैं। इस बीच मुजफ्फरपुर के सकरा इलाके में एक अनोखी शादी देखने को मिली है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 11 Aug 2020 10:33 AM GMT

बाढ़ में निकली बारात: बहते पानी में निकला दूल्हा, ऐसे हो रहीं शादियां
X
Bihar marriage
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुजफ्फपुर: बिहार राज्य इस वक्त लगातार हो रही बारिश की वजह से बाढ़ के कहर का सामना कर रहा है। बाढ़ के चलते हजारों-लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि वहां के लोग इस विपदा के चलते अपनी खुशियां कम नहीं होने देना चाहते हैं। इस बीच मुजफ्फरपुर के सकरा इलाके में एक अनोखी शादी देखने को मिली है। जहां लोग बाढ़ के पानी में भी बारात ले जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: सीएम की बड़ी बैठक: इन मुद्दों पर हुई चर्चा, आपदा प्रबन्धन को लेकर कही ये बात

मुजफ्फरपुर में इस तरह हुई अनोखी शादी

बाढ़ के पानी में नाव पर बैठक धूम-धाम से शादी रचाने दूल्हा पहुंचा। इस अनोखी शादी में शामिल होने के लिए गांव के कई लोग इक्ट्ठा हुए। सभी लोग गाना-बाजे के साथ नाचते-गाते दुल्हन के घर पहुंचे। यह बारात समस्तीपुर के मुसापुर गांव से मुजफ्फरपुर के भटण्डी गांव आई थी। मुसापुर के मुहम्मद हसन रजा की भटण्डी गांव की मजदा खातून के साथ निकाह तय था। लेकिन शादी से पहले ही मुरौल के मोहम्मदपुर कोठी में तिरहुत नहर का तटबंध टूट गया और गांव बाढ़ की चपेट में आ गया।

यह भी पढ़ें: बैंक का बड़ा एलान: जल्द निपटा लें काम, सुबह 10 बजे तक बंद रहेंगे ATM

Baraati

निकाह की तारीख बदलने पर नहीं बनी बात

गांव बाढ़ में घिर जाने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बाढ़ के चलते निकाह की तारीख बदलने पर भी बात हुई, लेकिन बात नहीं बनी और तय तारीख पर ही निकाह तय करने की बात हुई। बारात आने से पहले लोगों ने स्थिति का जायजा लिया और फिर दुल्हन के घर तक पहुंचने में आ रही दिक्कतों के बारे में योजना के साथ आगे बढ़े।

यह भी पढ़ें: मोदी का तगड़ा फार्मूला: अब ऐसे बचेगा अपना भारत, इन राज्यों को मिला सुझाव

स्थानीय युवकों ने की बारातियों की मदद

बारात जाते वक्त कई जगह बाढ़ का पानी घुटने से ऊपर था। इस दौरान स्थानीय युवकों ने दूल्हे और बारातियों को सुरक्षित ले जाने में मदद की। उसके बाद पूरे विधि विधान के साथ ये निकाह सम्पन्न हुआ और फिर विदाई भी हुई।

यह भी पढ़ें: यूपी में प्रलय! बाढ़ से हालात खराब, योगी सरकार ने बचाव का बनाया ये प्लान

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story