Top

पटना हाईकोर्ट ने वकील से पूछा- 'प्यार की परिभाषा बताइए, जवाब सुनकर चौंक जाएंगे

पटना हाईकोर्ट के जज ने पूछा, "वकील साहब पहले यह बताएं कि प्यार कहते किसे हैं? इसे जरा समझाकर बताये। क्या आपको प्यार की डेफिनेशन मालूम हैं?'' कोर्ट के इस सवाल पर वकील साहब सोच में पड़ गए।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 1 Oct 2020 8:46 AM GMT

पटना हाईकोर्ट ने वकील से पूछा- प्यार की परिभाषा बताइए, जवाब सुनकर चौंक जाएंगे
X
कोर्ट ने आरोपित को जमानत दे दी। लेकिन अब मुकदमे में कोर्ट के प्यार को लेकर सवाल और वकील साहब के जवाब की शहर के अंदर खूब चर्चा हो रही है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: ‘प्यार’ तीन अक्षर का ये शब्द बोलने में जितना सरल है। उससे ज्यादा कठिन है, इसके मायने लोगों को समझा पाना। लोग प्यार को लेकर वैसे तो बड़े-बड़े दावें करते हैं लेकिन जब उनसे प्यार आखिर कहते किसे हैं। ये प्रश्न पूछ लिया जाता है तो वे इधर –उधर बंगले झांकने लगते हैं।

पटना हाईकोर्ट के अंदर भी आज ऐसा ही कुछ हुआ। जिसने कोर्ट के अंदर मौजूद सभी लोग को एक पल के लिए सोचने पर मजबूर कर दिया।

दरअसल पटना हाईकोर्ट ने जब एक वकील से इसकी परिभाषा पूछा तो वे चक्कर खा गए। मामला एक लड़की के अपहरण के मामले में आरोपित की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान का है।

Boyfrend शादीशुदा जोड़े की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें… हाथरस मामले पर बोलीं मायावती, घटना का सुप्रीम कोर्ट स्वतः संज्ञान ले तो बेहतर

क्या है ये पूरा मामला

बता दें कि गुरुवार को पटना हाई कोर्ट में बिहार के गया की एक लड़की को भगा कर ले जाने के बाद उससे शादी करने के मामले में सुनवाई चल रही थीl बचाव पक्ष के वकील ने कोर्ट के आगे दलील दी कि लड़की के पिता ने अपरण का फर्जी मुकदमा लिखाया है, यह मामला राजी-खुशी से विवाह करने का है।

इतना ही नहीं वकील ने कोर्ट को ये भी बताया कि लड़की ने भारतीय दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 164 के तहत कोर्ट में गवाही भी दी है, जिसमें उसने आरोपित लड़के से प्या्र व शादी करने की बात भी स्वीकार की है।

कोर्ट के इस सवाल पर चकरा गये बचाव पक्ष के वकील

पटना हाईकोर्ट के जज ने पूछा, "वकील साहब पहले यह बताएं कि प्यार कहते किसे हैं? इसे जरा समझाकर बताये। क्या आपको प्यार की डेफिनेशन मालूम हैं?'' कोर्ट के इस सवाल पर वकील साहब सोच में पड़ गए।

कुछ देर तक वे बिल्कुल चुपचाप खड़े रहेl जज साहब ने फिर वही सवाल पूछाl जिस पर वकील ने कहा, "हुजूर मैंने कभी भी किसी लड़की से प्यार नहीं किया है, इसलिए प्यार की परिभाषा नहीं मालूम है।''

ये भी पढ़ें…हाथरस गैंगरेप: पुलिस ने कराया पीड़िता का अंतिम संस्कार, विरोध करते रहे परिजन

Patna High Court पटना हाइकोर्ट की फोटो(सोशल मीडिया)

जज के सवाल और वकील के जवाब की हर तरफ चर्चा

यहां आपको ये भी बता दें कि वैसे तो कोर्ट ने प्यार की परिभाषा सुने बिना ही आरोपित को जमानत दे दी। लेकिन अब मुकदमे में कोर्ट के प्यार को लेकर सवाल और वकील साहब के जवाब की शहर के अंदर खूब चर्चा हो रही है।

ये भी पढ़ें…हाथरसः गैंगरेप पीड़िता के परिजन बोले- हमारी मांग थी कि मुख्यमंत्री आएं और हमारी सुनवाई हो

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story