Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बड़ी साजिश: गड्ढे में छिपाकर रखा था 40 KG विस्फोटक, निशाने पर थे ये लोग

जमुई जिले के झाझा विधानसभा सीट के जंगल में पुलिस मेटल डिटेक्टर से तलाशी अभियान चला रही थी। इस दौरान नक्सलियों के द्वारा जमीन के अंदर छिपाए गए तीन प्लास्टिक के कंटेनर में लगभग 40 किलोग्राम (अमोनियम नाइट्रेट) विस्फोटक को बरामद किया गया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 12 Oct 2020 12:47 PM GMT

बड़ी साजिश: गड्ढे में छिपाकर रखा था 40 KG विस्फोटक, निशाने पर थे ये लोग
X
जमुई पुलिस का कहना है कि 28 अक्टूबर को होने वाले चुनाव में नक्सलियों के द्वारा पुलिस बल को निशाना बनाने को लेकर इस विस्फोटक को यहां पर छिपाकर रखा गया था।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जमुई: इस वक्त की बड़ी खबर बिहार से आ रही है। बिहार पुलिस ने विधानसभा चुनाव से पहले तलाशी के दौरान एक बड़ी आपराधिक घटना को होने से पहले ही नाकाम कर दिया है।

सर्च आपरेशन के दौरान नक्सलियों के गढ़ से पुलिस ने आज 40 किलोग्राम विस्फोटक जब्त किया है। इसका इस्तेमाल विधानसभा चुनाव के वक्त मतदान में खलल पैदा करने के लिए किया जाना था।

बता दें कि बिहार चुनाव के पहले चरण में 28 अक्टूबर 2020 को मतदान होना है। पुलिस को पहले से ही इस बात का अंदेशा है कि नक्सली चुनाव में जरुर खलल पैदा करने की कोशिश कर सकते हैं। इसी के मद्देनजर जगह-जगह सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

naksali नक्सलियों की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें…पाकिस्तान में दहशत, एयरफोर्स चीफ बोले- राफेल से जल्द हमला कर सकता है भारत

मेटल डिटेक्टर से तलाशी करते वक्त मिला 40 किलोग्राम विस्फोटक

आज जमुई जिले के झाझा विधानसभा सीट के जंगल में पुलिस मेटल डिटेक्टर से तलाशी अभियान चला रही थी। इस दौरान नक्सलियों के द्वारा जमीन के अंदर छिपाए गए तीन प्लास्टिक के कंटेनर में लगभग 40 किलोग्राम (अमोनियम नाइट्रेट) विस्फोटक को बरामद किया गया।

इस बारे में जमुई पुलिस का कहना है कि 28 अक्टूबर को होने वाले चुनाव में नक्सलियों के द्वारा पुलिस बल को निशाना बनाने को लेकर इस विस्फोटक को यहां पर छिपाकर रखा गया था। अगर समय रहते इस विस्फोटक को बरामद नहीं किया जाता तो एक बड़ी घटना हो सकती थी। बिहार पुलिस ने आज एक बार फिर से नक्सलियों की बड़ी साजिश को समय रहते फेल कर दिया है।

ये भी पढ़ेंः गैस सिलेंडरों में भीषण विस्फोट: भयानक आग में धधकी यूपी, गरीबों के आशियाने ख़ाक

Voters मतदाताओं की फोटो(सोशल मीडिया)

बिहार चुनाव में खलल डालने की साजिश फेल

पुलिस जगह-जगह तलाशी अभियान चला रही है। नक्सलियों की धर-पकड़ की कार्रवाई चल रही है। बिहार पुलिस से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि चुनाव में नक्सली किसी तरह की घटना को अंजाम न दें, इसके लिए उन्हें रोकना जरूरी है। इसलिए चुनाव से पहले पुलिस काम्बिंग बढ़ा दी गई है।

नक्सलियों के खिलाफ इस सर्च अभियान का नेतृत्व एएसपी अभियान सुधांशु कुमार, जमुई के पुलिस कप्तान प्रमोद कुमार मंडल कर रहे हैं। उनके साथ तलाशी अभियान में सीआरपीएफ कोबरा बटालियन, नक्सल सेल, टेक्निकल सेल और बिहार पुलिस के जवान थे।

ये भी पढ़ें… दुश्मनों की खटिया खड़ी: शुरू हुए सीमा से लगे 44 पुल, राजनाथ ने भरी हुंकार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story