Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

तेंदुलकर पर इस लिए भड़के राजद नेता, कहा- गलत था भारत रत्न देने का फैसला

सचिन तेंदुलकर ने विदेशी हस्तियों के किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट करने के बाद सरकार का बचाव करते हुए ट्वीट किया था, 'भारत की संप्रभुता से समझौता नहीं किया जा सकता। विदेशी ताकतें दर्शक हो सकती हैं, लेकिन प्रतिभागी नहीं।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 5 Feb 2021 10:53 AM GMT

तेंदुलकर पर इस लिए भड़के राजद नेता, कहा- गलत था भारत रत्न देने का फैसला
X
तेंदुलकर पर इस लिए भड़के राजद नेता, कहा- गलत था भारत रत्न देने का फैसला
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: किसान आन्दोलन को लेकर प्रदर्शन के समर्थन में विदेशी कलाकरों और हस्तियों की तरफ से आ रहे बयान का जवाब देते हुए सचिन तेंदुलकर ने सरकार का बचाव करते हुए ट्वीट किया है। सचिन तेंदुलकर के इस ट्वीट से सियासी हलचल तेज़ हो गई है जिसके बाद बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने उनपर हमला बोला है। लालू प्रसाद यादव की पार्टी के बड़े नेता शिवानंद तिवारी ने सचिन की आलोचना करते हुए यहां तक कह दिया है कि उन्हें भारत रत्न देने का फैसला सही नहीं था। ऐसे लोगों को भारत रत्न देने से इस सम्मान का अपमान हो रहा है।

भारत की संप्रभुता से समझौता नहीं किया जा सकता है-सचिन

बता दें कि सचिन तेंदुलकर ने विदेशी हस्तियों के किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट करने के बाद सरकार का बचाव करते हुए ट्वीट किया था, 'भारत की संप्रभुता से समझौता नहीं किया जा सकता। विदेशी ताकतें दर्शक हो सकती हैं, लेकिन प्रतिभागी नहीं। भारत को भारतीय जानते हैं और वे ही भारत के लिए फैसला लेंगे। एक देश के रूप में एकजुट होने की जरूरत है।'

सचिन को भारत रत्न देने का फैसला सही नहीं था-शिवानंद तिवारी

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) द्वारा 'भारत रत्न' जैसे सर्वोच्च सम्मान पर अंगुली उठाए जाने से विवाद पैदा हो गया है। कई लोगों ने इसे देश का अपमान बताया है। राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा कि सचिन को भारत रत्न देने का फैसला सही नहीं था। उन्होंने कहा कि इतना बड़ा सम्मान पाने वाले लोग अलग-अलग ब्रांड के लिए प्रचार करते हैं। इससे 'भारत रत्न' का ही अपमान हो रहा है। बता दें कि तिवारी ने सचिन को सम्मान के लिए चुने जाने के समय भी सवाल उठाए थे।

ये भी देखें: हिंसा से सतर्क किसान: संगठन ने की ये अपील, पुलिस से करें अच्छा बर्ताव

sachin tendulakar

प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने शिवानंद के बयान का बचाव किया

उन्होंने सचिन के हालिया ट्वीट को लेकर नाराजगी दिखाई। वहीं लालू की पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने शिवानंद के बयान का बचाव किया। उन्होंने कहा कि सचिन को खेल के क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए सम्मान दिया गया था। यह जरूरी नहीं है कि उन्हें हर क्षेत्र में उतनी ही समझ हो। जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने इसे लेकर राजद पर निशाना साधा है। जदयू नेता संजय सिंह ने कहा कि तिवारी का यह बयान उनकी और उनकी पार्टी की मानसिकता दिखाता है।

ये भी देखें: किसान आंदोलन के आतंकी कनेक्शन को मुद्दा बनाने की तैयारी में कांग्रेस

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story