Top

किसान आंदोलन के आतंकी कनेक्शन को मुद्दा बनाने की तैयारी में कांग्रेस

केंद्र सरकार के कृषि सुधार कानूनों का विरोध करने वाले किसानों को खालिस्तानी और आतंकी बताना भारतीय जनता पार्टी को महंगा पड़ सकता है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 5 Feb 2021 9:40 AM GMT

किसान आंदोलन के आतंकी कनेक्शन को मुद्दा बनाने की तैयारी में कांग्रेस
X
किसान आंदोलन के आतंकी कनेक्शन को मुद्दा बनाने की तैयारी में कांग्रेस (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश संगठन प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने रामपुर में बृहस्पतिवार को किसान आंदोलन को लेकर राजनीति के नए रुख का संकेत दिया है। इसके बाद अब प्रदेश कांग्रेस भी नए सिरे से भाजपा पर हमलावर होने की तैयारी में है। आने वाले दिनों में कांग्रेस कार्यकर्ता लोगों के बीच जाएंगे और उन्हें किसान विरोधी भाजपा के रुख और बयानों की याद दिलाएंगे।

ये भी पढ़ें:मौसम ने बदली करवट, बिजली की चपेट में आने से अधेड़ महिला की दर्दनाक मौत

कांग्रेस इसे मुद्दा बनाकर उत्तर प्रदेश के गांव-गांव तक जाएगी

केंद्र सरकार के कृषि सुधार कानूनों का विरोध करने वाले किसानों को खालिस्तानी और आतंकी बताना भारतीय जनता पार्टी को महंगा पड़ सकता है। कांग्रेस इसे मुद्दा बनाकर उत्तर प्रदेश के गांव-गांव तक जाएगी। बृहस्पतिवार को रामपुर पहुंची प्रियंका गांधी वाड्रा ने इस मामले में जिस तरह मोर्चा संभाला है। उन्होंने कहा कि किसान कानून बनाने से भी ज्यादा बड़ा जुल्म है किसानों को आतंकी बताना। अब इसी लाइन पर आगे चलकर कांग्रेस कार्यकर्ता भी लोगों के बीच जाएंगे और किसानों को बताएंगे कि किस तरह उनके खिलाफ कानून बनाने के बाद भाजपा अब उन्हें देश का दुश्मन बताने पर तुली हुई है। किसानों को कानून की खामियां बताने के साथ उन्हें आंदोलन में शामिल होने के लिए भी प्रेरित किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:Google दे रहा हार्ट रेट फीचर्स, अब इस ऐप की मदद से कर सकते हैं हेल्थ पर फोकस

प्रदेश कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया

प्रदेश कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि इस बारे में पहले से ही चर्चा की जा रही थी लेकिन अब प्रियंका गांधी के आगे बढक़र बयान देने के बाद तय हो गया है कि इस मुद्दे पर लोगों को भाजपा की किसान विरोधी मानसिकता से परिचित कराया जाए। लोगों को बताया जाए कि किस तरह पूंजीपतियों के लिए काम करने वाली भाजपा अपनी राह में आने वाले हर नागरिक को देश विरोधी साबित करने पर तुल जाती है। उसके लिए सबसे बड़ा हित पूंजीपतियों का ही है। इस बारे में जल्द ही संगठन की बैठक बुलाई जाएगी जिसमें प्रदेश स्तर पर जागरुकता कार्यक्र म की रूपरेखा को अंतिम रूप दिया जाएगा।

रिपोर्ट- अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story