कोरोना से बड़ा आर्थिक नुकसान, इन बड़ी कंपनियों को लगा तगड़ा झटका

कोरोना वायरस की वजह से शुक्रवार को बाजार में बड़ी गिरावट देखने मिली। पिछले एक महीने से कोरोना  की वजह से दबाव झेल रहा शेयर बाजार को यस बैंक की डूबती खबर ने झकझोर दिया। इसके बाद सबसे बड़ा झटका रिलायंस इंडस्ट्रीज को लगा।

Published by suman Published: March 8, 2020 | 9:21 pm

नई दिल्ली : कोरोना वायरस की वजह से शुक्रवार को बाजार में बड़ी गिरावट देखने मिली। पिछले एक महीने से कोरोना  की वजह से दबाव झेल रहा शेयर बाजार को यस बैंक की डूबती खबर ने झकझोर दिया। इसके बाद सबसे बड़ा झटका रिलायंस इंडस्ट्रीज को लगा।

 

यह पढ़ें….यस बैंक का SBI में नहीं होगा विलय, RBI गवर्नर ने किया ये बड़ा एलान

बाजार पूंजीकरण (एम कैप) के लिहाज से टॉप-10 घरेलू कंपनियों में से 6 का एमकैप शुक्रवार को समाप्त हफ्ते में 95,432.26 करोड़ रुपये घट गया फ्ते के दौरान बीएसई सेंसेक्स 720.67 अंक या 1.88 प्रतिशत तक गिर गया। शुक्रवार को यस बैंक के संकट के चलते सेंसेक्स में 894 अंक की गिरावट दर्ज की गई थी। समीक्षावधि में रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 37,144 करोड़ रुपये घटकर 8,05,118.67 करोड़ रुपये पर आ गया।

10 कंपनियों में सबसे अधिक नुकसान

टॉप- 10 कंपनियों में सबसे अधिक नुकसान में रिलायंस ही रही।एचडीएफसी (HDFC )बैंक के बाजार पूंजीकरण में इस दौरान 23,435 करोड़ रुपये की कमी आई और यह 6,22,109.94 करोड़ रुपये रहा। इसके अलावा बजाज फाइनेंस का बाजार मार्केट कैप 14,299.1 करोड़ रुपये घटकर 2,54,309.90 करोड़ रुपये रह गया। वहीं एचडीएफसी का एमकैप 11,625.3 करोड़ रुपये घटकर 3,65,214.59 करोड़ रुपये, आईसीआईसीआई बैंक का 6,325.67 करोड़ रुपये घटकर 3,14,705.23 करोड़ रुपये और भारती एयरटेल का बाजार पूंजीकरण 2,673.22 करोड़ रुपये घटकर 2,88,225.26 करोड़ रुपये रह गया सबसे ज्यादा लाभ में इस दौरान टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस (टीसीएस) रही।

यह पढ़ें….बड़ी खबर: Yes Bank फाउंडर के परिवार के खिलाफ ED ने लिया सख्त एक्शन

 

#savetcslko: CM योगी आदित्यनाथ बोले- TCS लखनऊ नहीं छोड़ेगी

 

टीसीएस का बाजार पूंजीकरण

टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 43,884.14 करोड़ रुपये बढ़कर 7,94,717.56 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इसी तरह इंफोसिस का बाजार पूंजीकरण 3,364.34 करोड़ रुपये बढ़कर 3,14,821.60 करोड़ रुपये, हिंदुस्तान युनिलीवर लिमिटेड का 2,534.8 करोड़ रुपये बढ़कर 4,73,359.77 करोड़ रुपये और कोटक महिंद्रा बैंक का बाजार पूंजीकरण 2,447.7 करोड़ रुपये बढ़कर 3,12,168.86 करोड़ रुपये रहा. बाजार पूंजीकरण के हिसाब से रिलायंस इंडस्ट्रीज शीर्ष पर रही. इसके बाद टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, हिंदुस्तान युनिलीवर, एचडीएफसी, इंफोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, एयरटेल और बजाज फाइनेंस का स्थान रहा।