Top

यस बैंक के खाताधारकों के लिए बड़ी खबर, आज से ऐसे शुरु हुआ काम

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बुधवार 18 मार्च से यस बैंक से मोरटोरियम को हटा दिया है यानि कि RBI ने यस बैंक पर लगाई गई सभी पाबंदियों को हटा दिया है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 19 March 2020 4:23 AM GMT

यस बैंक के खाताधारकों के लिए बड़ी खबर, आज से ऐसे शुरु हुआ काम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने बुधवार 18 मार्च से यस बैंक से मोरटोरियम को हटा दिया है यानि कि RBI ने यस बैंक पर लगाई गई सभी पाबंदियों को हटा दिया है। इसी के साथ बैंक में 19 मार्च से सामान्य कामकाज शुरू हो जाएगा। 19 मार्च से बैंक की सभी शाखाओं में ग्राहक अपनी बैकिंग सर्विसेज को पूरा करने के लिए आ सकते हैं और यस बैंक के ग्राहकों के लिए कैश निकालने पर लगी लिमिट भी खत्म हो जाएगी। बता दें कि बैंक पर ये मोरटोरियम 5 मार्च को जारी किया गया था।

अब सामान्य तरीके से शुरू होंगे कामकाज

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के चेयरमैन रजनीश कुमार ने बताया था कि यस बैंक पर लगी रोक 18 मार्च की शाम 6 बजे से समाप्त हो जाएंगी और बैंक में सभी कामकाज सामान्य तरीके से होंगे।

तीन दिनों तक एक घंटा पहले शुरू होगा कामकाज

वहीं यस बैंक ने बताया कि अगले तीन दिन यानि 19 मार्च से 21 मार्च तक बैंक का कामकाज सामान्य से एक घंटा पहले शुरु होगा। यानि बैंक में तीन दिनों तक सुबह 8.30 बजे से काम शुरू होगा। इसके के साथ ही बैंक ने सीनियर सिटिजन कस्टमर्स के लिए कामकाज के घंटे बढ़ा दिए हैं। यानि इसके अनुसार अब बैंक का 19 से 27 मार्च तक 5.30 बजे खत्म होगा, जो कि सामान्य तौर पर 4.30 बजे खत्म होता है। लेकिन बैंक की तरफ से यह सुविधा केवल सीनियर सिटिजन कस्टमर्स के लिए ही है।

यह भी पढ़ें: कोरोना का कहर: मोदी सरकार का बड़ा फैसला, 75 करोड़ लोगों को मिलेगा फायदा

बैंक ने 18 मार्च को ट्वीट कर दी थी जानकारी

यस बैंक द्वारा 18 मार्च को किए गए ट्वीट में यह कहा गया है कि, हमारी बैंकिंग सेवाएं अब चालू हो गई हैं। अब ग्राहक हमारी सभी सेवाओं का अनुभव कर सकते हैं। आपके धैर्य एवं सहयोग के लिए धन्यवाद।



5 मार्च को लागू किया था मोरटोरियम

आपको बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने यस बैंक की खराब हालत को देखते हुए 5 मार्च को एक महीने के लिए मोरटोरियम लागू किया था, जिसके बाद बैंक के ग्राहक अपने खातों से 50,000 रुपये से ज्यादा रकम नहीं निकाल सकते थे।

सरकार ने रीकंस्ट्रक्शन प्लान को मंजूरी दे दी थी..

हालांकि इसके बाद सरकार ने इसके रीकंस्ट्रक्शन प्लान को मंजूरी दे दी थी जिसके बाद तय किया गया कि यस बैंक में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 49 फीसदी हिस्सेदारी का मालिक होगा। 13 मार्च को वित्त मंत्रालय ने यस बैंक के रीकंस्ट्रक्शन प्लान पर नोटिफिकेशन जारी करते हुए कहा था कि बैंक पर लगाए गए मोराटोरियम को जल्द हटा लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस: देश में तेजी से बढ़ रहा मरीजों का आंकड़ा, संख्या हुई 169

इस प्लान के ही तहत ये तय किया गया कि SBI की लीडरशिप में आईसीआईसी बैंक, एचडीएफसी बैंक के साथ एक्सिस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक और बंधन बैंक भी यस बैंक में निवेश करेंगे। कल यस बैंक की प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसके नामित सीईओ प्रशांत कुमार ने भरोसा जताया था कि बैंक में कैश की कोई कमी नहीं है और ग्राहकों को घबराकर पैसे निकालने की जरूरत नहीं है।

अब अपनी जरूरतानुसार ग्राहक निकाल सकेंगे पैसे

उन्होंने ये भी जानकारी दी थी कि यस बैंक के सभी एटीएम में पर्याप्त रकम है और लिक्विडिटी की कोई दिक्कत नहीं है। वहीं पिछले तीन दिन में यस बैंक में विड्रॉल के मुकाबले डिपॉजिट ज्यादा हुए। बैंक के केवल एक तिहाई ग्राहकों ने ही अपने खातों से 50 हजार रुपये का कैश निकाला है। हालांकि, आज से बैंक से यह मोरटोरियम हटने के बाद ग्राहक अपनी मर्जी से जरूरत के अनुसार पैसे निकाल सकते हैं।

यह भी पढ़ें: पैरेंट्स दीजिए ध्यान, घातक होगा आपके बच्चे का ये SITING पोजिशन, जानिए कैसे..

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story