राहुल बजाज के बाद इस बड़े बिजनेसमैन ने सरकार पर साधा निशाना, कही ये बड़ी बात

देश की आर्थिक हालात पर उद्योगपति राहुल बजाज, बायोकॉन की एमडी किरण मजूमदार शॉ के बाद आरपीजी समूह के मालिक और उद्योगपति हर्ष गोयनका ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

नई दिल्ली: देश की आर्थिक हालात पर उद्योगपति राहुल बजाज, बायोकॉन की एमडी किरण मजूमदार शॉ के बाद आरपीजी समूह के मालिक और उद्योगपति हर्ष गोयनका ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उद्योगपति हर्ष गोयनका ने मंगलवार रात को एक मशहूर कविता के जरिए सरकार पर निशाना साधा, लेकिन बाद में उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया।

उन्होंने गोरख पांडे की कविता ट्वीट कर लिखा है कि हालात देखते हुए कुछ पंक्तियां याद आती हैं। राजा बोला रात है, रानी बोली रात है, मंत्री बोला रात है, संतरी बोला रात है, सब बोले रात है, यह सुबह सुबह की बात है। उनके इस ट्वीट स्क्रीट शॉट मौजूद है और सोशल मीडिया पर खूब शेयर हो रहा है।

यह भी पढ़ें…निर्भया के आरोपियों को कैसे मिलेगी फांसी? तिहाड़ जेल में नहीं है कोई जल्लाद

इससे पहले मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान उद्योगपित राहुल बजाज ने गृह मंत्री अमित शाह के सामने कहा था कि इस वक्त लोगों के बीच खौफ का माहौल है और लोग सरकार की आलोचना करने से दूर भागते हैं, क्योंकि उन्हें विश्वास नहीं है कि उनकी आलोचना को सरकार में किस तरह लिया जाएगा।

राहुल बजाज के बाद बायोकॉन की एमडी किरण मजूमदार शॉ ने भी सरकार पर निशाना साधा था। किरण मजूमदार शॉ ने कहा कि उम्मीद है कि सरकार खपत और ग्रोथ को पटरी पर लाने के लिए भारतीय उद्योग जगत से संपर्क साधेगी। अभी तक हम सभी से दूरी बनाकर रखा जा रहा है और सरकार अर्थव्यवस्था को लेकर कोई आलोचना सुनना नहीं चाहती है। आर्थिक स्थिति को लेकर सरकार की आलोचना करने वालों की कड़ी में अब हर्ष गोयनका का नाम भी जुड़ गया है।

यह भी पढ़ें…SPG बिल पास: गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में गांधी परिवार पर बोला ​हमला

राहुल बजाज के बयान का गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तर दिया था। अमित शाह ने इस बात को खारिज कर दिया कि देश में डर का मौहाल है। उन्होंने कहा कि किसी को किसी के बारे में डरने की जरूरत नहीं है, मीडिया में नरेंद्र मोदी सरकार की लगातार आलोचना हो रही है।

गृह मंत्री ने आगे कहा कि लेकिन यदि आप कह रहे हैं कि इस तरह का मौहाल पैदा हो गया है तो इसे ठीक करने के लिए हमें काम करने की जरूरत है। अमित शाह ने कहा कि हमारी सरकार पारदर्शी तरीके से काम कर रही है और यदि इसकी आलोचना होती है और इस आलोचना में दम है तो हम इसे सुधारने की कोशिश करते हैं।

यह भी पढ़ें…राबर्ट वाड्रा का बड़ा ऐलान, यहां से लड़ेंगे चुनाव 

तो वहीं राहुल बजाज के बयान पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि राहुल बजाज ने जिन मुद्दों को उठाया है, उसका जवाब गृह मंत्री अमित शाह ने दे दिया है। उन्होंने कहा कि सवाल हों, आलोचनाएं हों सबको सुना जाता है, उनका जवाब दिया जाता है, उसे रेखांकित किया जाता है।

निर्मला सीतारमण ने राहुल बजाज को जवाब देते कहा है कि अपनी धारणा फैलाने की जगह जवाब पाने के और भी बेहतर तरीके हैं। ऐसी बातों से राष्ट्रीय हित पर चोट लग सकती है।