पीएम मोदी ने राइजिंग हिमाचल का किया उद्घाटन, होगा करोड़ों का निवेश

पीएम मोदी ने हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में दो दिवसीय हिमाचल प्रदेश वैश्विक निवेशक सम्मेलन का उद्घाटन किया। इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय भी मौजूद रहे। 

पीएम मोदी राइजिंग हिमाचल का आज करेंगे उद्घाटन, होगा करोड़ों का निवेश

नई दिल्ली: पीएम मोदी ने हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में दो दिवसीय हिमाचल प्रदेश वैश्विक निवेशक सम्मेलन का उद्घाटन किया। इस दौरान उनके साथ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय भी मौजूद रहे।

दो दिन चलने वाले इस सम्मेलन में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, रेल मंत्री पीयूष गोयल, समेत देश-विदेश के इनवेस्टर्स भी हिस्सा ले रहे हैं। राइजिंग हिमाचल ग्लोबल इन्वेस्टर मीट दो दिन यानि 7 से 8 नवंबर तक जारी रहेगा।

ये नेता भी लेंगे हिस्सा

पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा इस वैश्विक निवेशक सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद एस पटेल, सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह थमांग, वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर, नीति आयोग के वाइस चेयरमैन राजीव कुमार, और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे भी मौजूद हैं।

इसके अलावा अडाणी इंटरप्राइजेज के प्रणव अडाणी, प्रॉक्टर एंड गैंबल के प्रबंध निदेशक मधुसूदन गोपालन, और हीरा कॉरपोरेट सर्विस के सुनील कांत मुंजाल के साथ-साथ कई उद्योगपति सम्मेलन में पहुंच गए हैं।

यह भी पढ़ें: हो जाएं सावधान: धर्म के लिए कर रहे ये काम, तो अब मिलेगी कड़ी सजा

82 हजार करोड़ के निवेश प्रस्ताव पर लगेगी मुहर

बता दें कि इस सम्मेलन में 8 प्रमुख क्षेत्रों में निवेश के अवसरों को प्रदर्शित किया जाएगा। कृषि, विनिर्माण, फार्मास्युटिकल्स, पर्यटन, होटल, नागर विमानन, पनबिजली और नवीकरणीय ऊर्जा।

इस सम्मेलन में करीब 82 हजार करोड़ के निवेश प्रस्ताव पर मुहर लगेगी। अभी तक 583 एमओयू साइन किए जा चुके हैं। जानकारी के अनुसार, इस सम्मेलन में ऊर्जा के 15 एमओयू से 27,812 करोड़, उद्योग के 207 एमओयू से 13,682 करोड़, पर्यटन के 192 एमओयू से 14,955 करोड़, हाउसिंग के 32 एमओयू से 12,277 करोड़ निवेश होने की संभावना है।

राज्य सरकार (हिमाचल) उम्मीद जता रही है कि इस इवेस्टमेंट से प्रदेश के करीब पौने 2 लाख लोगों को रोजगार मिल सकता है।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

अगर सुरक्षा इंतजाम की बात करें तो शहर में 2400 जवान तैनात किए गए हैं। शहर को 18 सेक्टरों में विभाजित किया गया है। वहीं शहर के साथ आसपास के क्षेत्रों में 6 नाके लगे हैं।

शहर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं। पुलिस जवानों को कोने-कोने में तैनात कर दिया गया है। कांगड़ा के एसपी विमुक्त रंजन के मुताबिक, प्रदेश में पहले इतने बड़े इवेंट में सुरक्षा व्यवस्था बहुत अहम होगी।

सम्मेलन में पीएम मोदी, सीएम, कई देशों के राजदूत और देश-विदेश के निवेशकों की सुरक्षा पर भी अहम नजर होगी। सुरक्षा के लिए 2400 पुलिस जवानों को तैनात कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि, इतने बड़े इवेंट में ट्रैफिक को भी मैनेज करना बड़ी चुनौती होने वाली है, लेकिन हमने तैयारी कर ली है।

यह भी पढ़ें: स्वीकृत से ज्यादा फ्लैट बनाने पर सुपरटेक कम्पनी दे जवाब: हाईकोर्ट