×

Aaj Ka Mausam: तमिलनाडु, पुडुचेरी में आज भारी बारिश की संभावना, वेस्ट यूपी में विजिबिलिटी में होगी कमी

बंगाल की खाड़ी पर घने बादलों का समूह है। अगर आप इसे मानचित्र पर देखें तो लगेगा जैसे मानसून का सीजन चल रहा है। यअंडमान और निकोबार द्वीप समूह के साथ तमिलनाडु और श्रीलंका तक इन बादलों का समूह देखा जा सकता है।

aman

amanBy aman

Published on 25 Nov 2021 12:58 AM GMT

Aaj Ka Mausam: तमिलनाडु, पुडुचेरी में आज भारी बारिश की संभावना, वेस्ट यूपी में विजिबिलिटी में होगी कमी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Aaj Ka Mausam : बंगाल की खाड़ी पर घने बादलों का समूह है। अगर आप इसे मानचित्र पर देखें तो लगेगा जैसे मानसून का सीजन चल रहा है। यहां लगातार समुद्र की स्थिति सक्रिय बनी हुई है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के साथ तमिलनाडु और श्रीलंका तक इन बादलों का समूह देखा जा सकता है। भारतीय मौसम विभाग (Bhartiya Mausam Vibhag) के पूर्वानुमान में बताया जा रहा है, कि बंगाल की खाड़ी के आसपास एक नया सर्कुलेशन बनने जा रहा है, जिसका असर आने वाले दिनों में देश के दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत में कई राज्यों पर देखने को मिल सकता है। यह सिस्टम मूसलाधार बारिश की संभावना तैयार कर रहा है। पश्चिमी हवाओं की वजह से कुछ बादल जम्मू-कश्मीर और पहाड़ी राज्यों पर देखने को मिल रहे हैं। अरुणाचल प्रदेश के आसमान में भी बादलों को देखा जा सकता है।

Aaj kaisa rahega mausam- अब बात पूरे भारत के मौसमी हलचल की। उत्तर भारत के पहाड़ों और मैदानी इलाकों, मध्य भारत और पूर्वी भागों तक शुष्क बना हुआ है। लेकिन, इन क्षेत्रों में जो बादल बुधवार तक बढ़ते दिख रहे थे, वो गुरुवार को भी देश के कई राज्यों के आसमानों में दिखेंगे। खासकर, उत्तर भारत के पहाड़ों पर बादलों की आवाजाही बनी रहेगी। जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित और बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड इन सभी जगहों पर ये बादल दिखाई देंगे। मौसम विभाग (mausam vibhag) के अनुसार, इन बादलों के कहीं-कहीं बरसने का भी पूर्वानुमान है। बहुत ऊंचाई वाले इलाके में हल्की बर्फबारी की भी संभावना है।

25-11-2021 Mausam- हालांकि, देश के मैदानी इलाकों पर इन बादलों का प्रभाव नहीं पड़ेगा। पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राजस्थान की स्थिति देखें, तो यहां 25 नवंबर गुरुवार को कोई खास बदलाव देखने को नहीं मिलेगा। पाकिस्तान की तरफ होने वाले मौसमी बदलावों का असर पंजाब के जालंधर, अमृतसर, पठानकोट, बठिंडा, मोगा, पटियाला में देखने को मिलेगा। इसके साथ, हरियाणा के कई जिलों और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के आगरा, मथुरा, मेरठ, शाहजहांपुर, बरेली इन सभी स्थानों पर हवाओं के रुख में परिवर्तन देखने को मिलेगा। इसके परिणामस्वरूप अब तक जो आसमान साफ दिखाई दे रहे थे, वो 25 नवंबर से बदले दिखेंगे। विजिबिलिटी यानी दृश्यता में कमी हो जाएगी। लेकिन, तापमान में गिरावट का सिलसिला अगले 24 से 48 घंटों के लिए थमने वाला है। यूपी के पूर्वी और पश्चिमी इलाके, राजस्थान, बिहार और झारखंड में सामान्य से कम तापमान देखने को मिलेगा। बिहार में भी पश्चिमी हवाओं के असर के कारण लोगों को ठंड का एहसास होने लगा है।

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम का हाल- मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, अगले 24 घंटों में पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर भारत में मौसम शुष्क रहेगा। छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात के अधिकांश हिस्सों में मौसम साफ और मुख्यतः शुष्क रहेगा। गुजरात और मध्य प्रदेश में अब तक तापमान में गिरावट देखी जा रही थी, लेकिन हवाओं में बदलाव के कारण अगले 24 घंटों तक सामान्य देखने को मिलेगा। महाराष्ट में दक्षिणी कोंकण और गोवा में आंशिक बादल और बूंदाबांदी को छोड़ दें तो मौसम शुष्क रहेगा।पूरे कर्नाटक में हल्की से मध्यम वर्षा 25 नवंबर को देखने को मिलेगी। तेलंगाना, रायलसीमा और आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तटवर्ती क्षेत्रों में बादल छाने और कहीं-कहीं हल्की वर्षा का अनुमान है। दक्षिणी राज्यों के लिए मौसम विभाग (IMD) का कहना है कि 25 नवंबर को जितनी बारिश होगी आप उससे अधिक की उम्मीद 26, 27 नवंबर को कर सकते हैं। तमिलनाडु और पुडुचेरी में गुरुवार को भारी वर्षा एक पूर्वानुमान है। हवाओं के साथ होने वाली इस बारिश की वजह से सामान्य जनजीवन प्रभावित होंगे। केरल और लक्षद्वीप में भी बारिश की संभावना जताई जा रही है।


aman

aman

Next Story