×

Aaj Ka Mausam Kaisa Hai: इन राज्यों में आज भी बारिश से नहीं मिलेगी राहत, पहाड़ी इलाकों में होगी बर्फबारी

Aaj Ka Mausam Kaisa Hai: भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, 30 नवंबर से इन राज्यों में नई आफत मुंह खोले खड़ी है। जैसा हम पहले भी बता चुके हैं, बंगाल की खाड़ी में एक नया निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है जो जल्द ही देश के दक्षिणी हिस्सों में तो कहर बरपाएगा।

aman
Written By aman
Updated on: 2021-11-29T08:07:14+05:30
Aaj Ka Mausam Kaisa Hai: इन राज्यों में आज भी बारिश से नहीं मिलेगी राहत, पहाड़ी इलाकों में होगी बर्फबारी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Aaj Ka Mausam 29 November 2021 : लंबा समय हो गया जब मौसम की बात मतलब दक्षिण के राज्यों की चर्चा हो गई है। हो भी क्यों न, दक्षिणी राज्य मौसम की ऐसी मार झेल रहे हैं, जिसमें कईयों की जान तक चली गई। देश के इस हिस्से में आने वाले समय भी कुछ बेहतर संकेत नहीं दे रहे हैं। आज यानी सोमवार 29 नवंबर को छोड़ दें तो भारतीय मौसम विभाग (Bhartiya Mausam Vibhag) के अनुसार, 30 नवंबर मंगलवार से इन राज्यों में नई आफत मुंह खोले खड़ी है। जैसा हम पहले भी बता चुके हैं, बंगाल की खाड़ी में एक नया निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है जो जल्द ही देश के दक्षिणी हिस्सों में तो कहर बरपाएगा ही, अन्य राज्यों में भी उसका असर दिखाई देने की संभावना है। बंगाल की खाड़ी और अरब सागर के ऊपर बेहद घने बादल बन रहे हैं जो तमिलनाडु, पुडुचेरी, आंध्र प्रदेश, केरल, कर्नाटक तो असर छोड़ ही रहा है, अब यह तेजी से देश के मध्य हिस्से तक भी बढ़ रहा है। इनमें मध्य प्रदेश के कुछ हिस्से, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और गुजरात के कुछ हिस्से शामिल हैं। देश के उत्तर-पश्चिमी और मध्य भारत में मंगलवार तक बारिश और पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी का पूर्वानुमान है।

Aaj kaisa rahega mausam- मौसम विभाग (Mausam Vibhag) के अनुसार, आज सोमवार को उत्तर भारत के आसमान में हल्के बादल देखने को मिलेंगे। जम्मू-कश्मीर, गिलगित, बाल्टिस्तान, मुज़फ्फराबाद, लद्दाख और उत्तराखंड के कुछ हिस्सों पर बादल दिख रहे हैं। वहीं, एक बार फिर लौटते हैं देश के दक्षिणी राज्यों की तरफ। मौसम विभाग (IMD) का पूर्वानुमान है, कि अगले 24 घंटों में दक्षिणी तटवर्ती आंध्र प्रदेश के क्षेत्रों जैसे- श्रीहरिकोटा, नेल्लोर आदि में लगातार बारिश जारी रहेंगे। तटीय तमिलनाडु और पुडुचेरी के कई हिस्सों में 29 नवंबर हल्की तथा कुछ भागों में तेज बारिश के अनुमान हैं। केरल, आंतरिक तमिलनाडु, आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा के हिस्सों में भी वर्षा होने की उम्मीद जताई जा रही है। लक्षद्वीप और अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में भी मध्यम से भारी वर्षा की आशंका जताई जा रही है।

29-11-2021 Mausam- अब बात करें मध्य महाराष्ट्र और कोंकण-गोवा की तो, इस क्षेत्र में पुणे से लेकर सांगली, सतारा, शोलापुर, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, रायगढ़ के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बैछारें देखने को मिल सकती है। मराठवाड़ा और विदर्भ के क्षेत्रों में बदल दिखाई दे सकते हैं कहीं-कहीं बहुत हल्की बारिश हो सकती है। बादलों की आवाजाही यहां लगी रहेगी। छत्तीसगढ़ और ओडिशा के अधिकांश हिस्सों में बदल देखने को मिलेंगे, जो बूंदाबांदी करवाएंगे। मध्य प्रदेश और गुजरात में भी मुख्यतः मौसम साफ़ रहेगा। 29 नवंबर को सूरत से दक्षिणी हिस्से में बादल दिखेंगे, जो 30 नवंबर को वर्षा करवाएंगे। देश के पूर्वी और पूर्वोत्तर के क्षेत्र में मौसम में कोई तब्दीली देखने को नहीं मिल रही है। हालांकि, तापमान गिर रहा है, धुंध में बढ़ोतरी हो रही है। पटना, गया, दरभंगा, भागलपुर, रांची जमशेदपुर, देवघर, दुमका, कोलकाता, सिक्किम और पूर्वोत्तर राज्य में तापमान गिर रहा है और धुंध, कोहरा, कुहासा बढ़ रहा है।

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम का हाल- मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, पूरे उत्तर प्रदेश में मौसम शुष्क रहेगा। वाराणसी से लेकर मेरठ, मुरादाबाद, गौतमबुद्धनगर, अलीगढ़, आगरा, मथुरा तथा कानपुर और राजधानी लखनऊ में मौसम शुष्क रहेगा। दक्षिणी दिशा से हवाएं चल रही हैं, जिससे नदियों के आसपास के इलाकों में कोहरा और धुंध देखने को मिल सकता है। हरियाली जैसे खुले इलाकों, खेत, पेड़-पौधों वाले क्षेत्रों में कुहासा देखने को मिलेगा। हालांकि, उसकी सघनता वैसी नहीं होगी, जिससे यातायात प्रभावित होगा। राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और राजधानी दिल्ली में भी शुष्क मौसम रहेगा। हालांकि, पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश कहीं-कहीं हो सकती है। उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में भी शुष्क मौसम ही देखने को मिलेगा। देश के उत्तरी भारत में अब तेजी से तापमान गिर रहा है। इसलिए लोगों को चाहिए कि इस बदलते मौसम में अपना और अपनों का ख्याल रखें।

aman

aman

Next Story