×

करौली के जिस मस्जिद से हुई पत्थरबाजी बजरंग दल ने वहां फहराया भगवा, वायरल पोस्ट की जानें हकीकत

Fact Check: करौली हिंसा में उपद्रवियों ने दर्जनों गाड़ियों और दुकानों को आग के हवाले कर दिया था। इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर तरह - तरह के दावे किए जा रहे हैं।

Krishna Chaudhary
Published on 7 April 2022 9:51 PM GMT
करौली के जिस मस्जिद से हुई पत्थरबाजी बजरंग दल ने वहां फहराया भगवा, वायरल पोस्ट की जानें हकीकत
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: राजस्थान (Rajasthan) के करौली में बीते दिनों हुई सांप्रदायिक हिंसा को लेकर बहस जारी है। राजस्थान में जहां इसे लेकर सत्ताधारी कांग्रेस (Congress) और बीजेपी के बीच आरोप–प्रत्यारोप की सियासत चल रही है। वहीं सोशल मीडिया पर भी हिंसा को लेकर तीखी बहस हो रही है। करौली हिंसा में उपद्रवियों ने दर्जनों गाड़ियों और दुकानों को आग के हवाले कर दिया था। इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर तरह - तरह के दावे किए जा रहे हैं।

क्या हो रहा वायरल

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि एक युवक मस्जिद के गेट पर चढ़कर भगवा झंडा लहरा रहा है। इस दौरान वो जोर - जोर से धार्मिक नारे भी लगा रहा है। नीचे बड़ी संख्या में भगवा झंडा लिए भीड़ भी धार्मिक नारे लगा रही है। वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि ये राजस्थान के करौली का है। युवक उसी मस्जिद पर चढ़कर भगवा ध्वज लहरा रहा है जहां से बीते दिनों पथराव किया गया था।



वीडियो की पड़ताल

वायरल वीडियो (Viral Video) को लेकर किया जा रहा दावा पूरी तरह गलत है। वीडियो राजस्थान के करौली का नहीं बल्कि यूपी के गाजीपुर जिले का है। वीडियो में दिख रहा मामला गाजीपुर के गहमर का है। जहां दो अप्रैल को हिंदू नववर्ष औऱ नवरात्रि के दौरान रामकलश यात्रा निकाली गई थी। इस दौरान रास्ते में पड़ी एक युवक के पास यात्रा में शामिल कुछ युवक रूक गए और मस्जिद पर चढ़ गए। एक युवक मस्जिद पर चढ़कर भगवा झंडा लहराते हुए डांस करने लगा, इस दौरान वो जय श्री राम का नारा भी लगा रहा था।



वायरल वीडियो को संज्ञान में लेते हुए पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। एसपी राम बदन सिंह ने बताया कि मामले में आगे की विधिक कार्रवाई की जा रही है। दोषियों के खिलाफ सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने को लेकर सख्त एक्शन लिया जाएगा।

इससे साफ है कि वायरल वीडियो को लेकर किया जा रहा दावा पूरी तरह से असत्य है। वीडियो राजस्थान के करौली का नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले का है।

Next Story