×

UP Elections 2022: PM मोदी की अगुवाई में आज BJP चुनाव समिति की बैठक, CM योगी के अयोध्या सीट पर होगा ऐलान

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के शीर्ष नेतृत्व में मंथन का दौर जारी है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होगी।

Network
Updated on: 2022-01-13T10:18:50+05:30
cm yogi ayodhya
X

 फोटो-सोशल मीडिया 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

UP Elections 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के शीर्ष नेतृत्व में मंथन का दौर जारी है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक होगी।इस बैठक में विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम पर अंतिम मुहर लगना है। इसमें उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव पार्टी के लिए सबसे अहम है। बता दें, कि यूपी सहित पांच राज्यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी की उच्च स्तरीय बैठक पिछले दो दिनों से जारी है।

उत्तर प्रदेश की सत्ता को दोबारा हासिल करने की कोशिश में जुटी भाजपा के लिए इस बार प्रत्याशियों का चयन करना बेहद टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। दो दिन भाजपा चुनाव समिति की बैठक के बाद अभी तक पहले और दूसरे चरण के लिए 150 सीटों पर प्रत्याशियों का चयन किया जा चुका है।देर रात तक केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह प्रदेश के आला नेताओं के साथ प्रत्याशियों को लेकर विचार विमर्श करते रहे। अब आज सुबह फिर 11 बजे बैठक होगी। इसके बाद आज ही प्रधानमंत्री मोदी के सामने प्रत्याशियों के नामों को रखा जाएगा। जिस पर वह अंतिम मुहर लगाएगें। भाजपा टिकटों की पहली सूची 15 जनवरी के आसपास जारी करेगी।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि पहले दो चरणों के लिए 150 के करीब टिकट फाइनल किए जा चुके हैं। इनमें करीब दो दर्जन विधायकों के टिकट काटे जाने की बात सामने आ रही है। पिछले विधानसभा चुनावों में जिन भाजपा प्रत्याशियों को हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे उम्मीदवारों को फिर से मौका नहीं दिया जाएगा। इस बैठक में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश शर्मा इस बैठक में शामिल होंगे। वहीं बैठक में राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष और उत्तर प्रदेश भाजपा के संगठन महामंत्री सुनील बंसल भी शामिल होंगे। साल 2017 में भाजपा जिन 90 के करीब सीटों पर चुनाव हार गई थी, इनमें से लगभग आधी सीटों पर उम्मीदवार बदले जाएंगे। कुछ मंत्रियों की सीटें भी पार्टी बदलने की तैयारी में है।

गौरतलब है, कि पहले दो चरणों में पश्चिमी उत्तर प्रदेश और रूहेलखंड की विधानसभा सीटों पर पहले चरण का मतदान होना है। इन सीटों पर समाजवादी पार्टी और रालोद का अच्छा असर देखने को मिल रहा है। पिछले विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को पश्चिमी उत्तर प्रदेश की 76 लोकसभा सीटों में से मात्र 4 सीटें हासिल हुई थी और 17 सीटों का नुकसान सपा को हुआ था। बसपा को मात्र 3 सीटें मिली थी और 25 सीटों का नुकसान हुआ था। कांग्रेस को मात्र 2 सीटें मिली थी और 4 सीट का नुकसान हुआ था। भाजपा की कोशिश पिछले चुनाव परिणाम को दोहराने की है।

अंतिम सूची संसदीय बोर्ड के पास भेज दी जाएगी। बैठक के दौरान तय किया गया है कि नामांकन की तारीख नजदीक आने पर प्रत्याशियों की सूची जारी की जाएगी। पहले जारी करने से पार्टी में आपसी टकराव की संभावना बढ़ने की आशंका है। राज्य की 58 सीटों में पहले चरण में चुनाव होने हैं। आज की बैठक में प्रत्याशियों के नामों पर अंतिम मुहर लगेगी।

जानकार बताते हैं, कि उम्मीदवारों के नाम पर एक बार फैसला होने के बाद जल्द ही नामों का ऐलान हो जाएगा। पहले और दूसरे चरण के चुनाव के लिए नामों की घोषणा एक से दो दिन में संभव है। गौरतलब है, कि बीते दो दिनों में पार्टी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, संगठन महासचिव बीएल संतोष, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य तथा डॉ. दिनेश शर्मा सहित पार्टी से जुड़े अन्य नेतागण लगातार उम्मीदवारों के नामों को लेकर चर्चा कर रहे हैं। इसी क्रम में आज भी बैठक जारी रहेगी, जिसमें पीएम मोदी भी शामिल होंगे।

पीएम कर सकते हैं योगी की सीट की घोषणा

वहीं, इस दौरान एक चर्चा ये भी कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बीजेपी अयोध्या सीट से विधानसभा चुनाव में उतार सकती है। इसे लेकर लंबे समय से कयास लगाए जा रहे हैं। उम्मीद है कि बीजेपी में टिकट बंटवारे को लेकर दिल्ली में जो मंथन चल रहा है उसमें योगी आदित्यनाथ को अयोध्या से चुनाव लड़ाने पर आज फैसला हो सकता है। अनुमान है कि स्वयं प्रधानमंत्री मोदी ही इसकी घोषणा करें।

सबकी नजर योगी आदित्यनाथ की सीट पर

इससे पहले, मंगलवार को दिल्ली में बीजेपी कोर कमिटी की बैठक हुई थी। इसमें सीएम योगी आदित्यनाथ भी अपने दोनों डिप्टी सीएम के साथ मौजूद रहे। सूत्र बताते हैं कि इस मीटिंग में सीएम योगी आदित्यनाथ किस सीट से चुनाव लड़ेंगे, इस बात को लेकर भी चर्चा हुई। सीएम योगी आदित्यनाथ को अयोध्या से उतारे जाने की प्रबल संभावना है। इसके पीछे पार्टी का मकसद पूरे प्रदेश में हिंदुत्व का संदेश देना होगा। हालांकि, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ को मथुरा सीट से भी चुनाव मैदान में उतारने की चर्चा भी बीच-बीच में होती रही है।

यूपी बीजेपी में सब ठीक नहीं

इस बीच बीते दो दिनों में उत्तर प्रदेश में बीजेपी की हालत सही नहीं कही जा सकती। योगी सरकार और बीजेपी में जिस तरह से इस्तीफों की झड़ी लगी है, उसे देखते हुए सियासी गलियारे में कई तरह की अटकलें लग रही हैं। कहा जा रहा है कि अभी और इस्तीफे हो सकते हैं। कुल 13 विधायकों के बीजेपी छोड़ने की बातें भी सामने आ रही हैं। सबसे पहले स्वामी प्रसाद मौर्य ने ही योगी कैबिनेट से इस्तीफा दिया था। उन्होंने 14 जनवरी को धमाका करने की बात भी कह चुके हैं।

दो दिनों में सात विधायकों ने छोड़ा बीजेपी का साथ

उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी में फिलहाल सब ठीक नहीं चल रहा है। 11 जनवरी को कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने जिस इस्तीफे की शुरुआत की, उसके बाद लगातार वह दौर जारी है। उनके साथ तीन अन्य विधायकों ने भी बीजेपी छोड़ दी। इसके अगले ही दिन यानी 12 जनवरी को योगी सरकार में मंत्री दारा सिंह चौहान ने भी इस्तीफा दिया। इस तरह यूपी में बीजेपी दो दिन में अपने कुल सात विधायकों को खो चुकी है।

aman

aman

Next Story