Top

सीएम पिनराई विजयन के मंत्रिमंडल में 21 नए सदस्यों को मिलेगी जगह

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के मंत्रिमंडल में नए चेहरों को शामिल किया जाएगा।

CM Pinarayi Vijayan
X

फोटो— मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (साभार—सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

तिरुवनंतपुरम। मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (Pinarayi Vijayan) के मंत्रिमंडल में नए चेहरों को शामिल किया जाएगा। पिनराई के 21 सदस्यीय मंत्रिमंडल की तैयारी पूरी कर ली गई है। सभी मंत्री गुरुवार को शपथ ग्रहण के बाद अपना पदभार संभाल लेंगे। वहीं मुख्यमंत्री पिनराई विजयन मंत्रिमंडल में नए चेहरों को शामिल कर सबको चौका दिया है। सूत्रों की मानें तो मंत्रियों के विभागों को तय कर लिया गया है। जल्द ही मंत्रियों के पदों की घोषणा की जाएगी। मुख्यमंत्री विजयन अपने पास गृह, सतर्कता, पर्यावरण और आईटी सहित कई अन्य विभागों को रखेंगे।

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने अपने दामाद पीए मोहम्मद रियास को सामाजिक कार्य ओर पर्यटन विभाग का जिम्मा सौंपा है। बता दें कि उनके दामाद रियास पहली बार विधायक चुने गए हैं। चर्चा है कि उनको मंत्री पद दिए जाने पर राज्य में कुछ हलचल बढ़ गई है। इसी के साथ ही पत्रकार रहीं वीणा जार्ज को स्वास्थ्य मंत्री बनाए जाने के कयास लगाए जा रहे हैं। वहीं पूर्व राज्यसभा सदस्य केएन बालागोपाल का राज्य का नया वित्त मंत्री बनाया जाना तय माना जा रहा है।

इसी क्रम में पूर्व राज्यसभा सदस्य पी. राजीव को उद्योग और कानून मंत्री मनाया जा सकता है। पार्टी के राज्य सचिव ए. विजयराघवन की पत्नी को उच्च शिक्षा मंत्री बनाया जा सकता है। जबकि वी शिवकुट्टी को लोक शिक्षा और श्रम विभाग मिलने की उम्मीद है। इसी क्रम में पार्टी के केंद्रीय कमेटी के सदस्य एमवी गोविंदन को स्थानीय स्वशासन और एक्साइज विभाग दिया जा सकता है।

सूत्रों की मानें तो राज्य में स्वास्थ्य मंत्री का दायित्व निभा चुकी केके शैलजा को इस मार मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है। शैलजा को कैबिनेट में जगह न मिल पाने के चलते सरकार लोगों के आलोचना का केंद्र बन गई है। केके शैलजा की राज्य में कोरोना प्रबंधन को लेकर काफी तारीफ हुई थी।

वहीं मंत्रिमंडल में जगह न मिल पाने के सवाल पर केके शैलजा ने कहा कि यह पार्टी की आम राय है। इसी के सााि उन्होंने यह भी कहा कि नई टीम राज्य में बेहतर काम करेगी। उन्होंने कहा काम करने के लिए व्यक्ति नहीं सिस्टम जरूरी होता है। मुख्यमंत्री के खिलाफ सोशल मीडिया पर जारी आलोचना पर उन्होंने कहा ​कि ज्यादा भावनात्मक होने की जरूरत नहीं है।

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने काफी संघर्ष कर पार्टी को खड़ा किया है। काफी पढ़ें—लिखें होने के बाद भी उन्हें मजदूरी तक करनी पड़ी। अर्थशास्त्र की डिग्री हासिल करने वाले पिनराई विजयन ने कभी हथकरघा मज़दूर तक बनना पड़ा था।

Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story