×

Jammu Kashmir Cloudburst: अमरनाथ गुफा के पास फटा बादल, अब तक कोई हताहत नहीं, SDRF की तीन टीमें तैनात

Jammu Kashmir Cloudburst: जम्मू-कश्मीर के अमरनाथ (Amarnath cave) में हो रही लगातार बारिश से बादल फटने की घटना सामने आयी है। घटनास्थल पर SDRF की 2 टीमें मौजूद हैं। वहीं बादल फटने के बाद SDRF की एक और टीम को घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया गया है।

Network

NetworkNewstrack NetworkDurgesh BahadurPublished By Durgesh Bahadur

Published on 28 July 2021 3:37 PM GMT

Jammu Kashmir Cloudburst: अमरनाथ गुफा के पास फटा बादल, अब तक कोई हताहत नहीं, SDRF की तीन टीमें तैनात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Jammu Kashmir Cloudburst: जम्मू-कश्मीर के पहलगाम में अमरनाथ गुफा (Amarnath cave) के पास बादल फटने की घटना सामने आई है. लगातार बारिश से अचानक सिंध नदी ( Sindh River) का जलस्तर बढ़ गया है। आपदा प्रबंधन अधिकारियों के अनुसार बादल फटने के कारण अभी तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

इस दौरान गुफा में कोई भी यात्री मौजूद नहीं था. अधिकारियों के मुताबिक गुफा के पास पहले से ही राज्य आपदा मोचन बल (SDRF) की दो टीमें वहां मौजूद थी। इसके अलावा गांदरबल से एक अतिरिक्त टीम को तैनात किया गया है।

बता दें कि अमरनाथ गुफा दक्षिण कश्मीर में 3,880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इससे पहले बुधवार तड़के किश्तवाड़ जिले के एक सुदूर गांव में बादल फटने से 7 लोगों की मौत हो गई और 17 अन्य घायल हुए। वहीं 14 लापता लोगों की तलाश अब भी जारी है। घायलों में से 5 की हालत नाजुक बताई जा रही है।

स्थानीय प्रशासन और पुलिस ने गुंड और कंगन इलाके के लोगों से अपील की है कि वे सिंध नदी से दूर रहें क्योंकि लगातार हो रही बारिश और बादल फटने की घटना से नदी का जलस्तर अचानक बढ़ सकता है।

वहीं, कंगन के एसडीपीओ ने बताया कि पवित्र अमरनाथ गुफा में लगातार बारिश और बादल फटने की सूचना के मद्देनजर गंड और कंगन के क्षेत्रों में आम जनता से सिंध नदी से सिंध नदी से दूर रहने का अनुरोध किया गया है, क्योंकि पानी के प्रवाह में अचानक वृद्धि हो सकती है। SDRF की एक और टीम को गांदेरबल से घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया गया है।

पीएम मोदी ने कहा- केंद्र सरकार रख रही करीब नजर

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले में बादल फटने की घटना से उत्पन्न स्थिति पर करीब नजर रख रही है और प्रभावित क्षेत्रों में हरसंभव मदद पहुंचाई जा रही है। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह से बात की और स्थिति के बारे में जानकारी हासिल की।

किश्तवाड़ में बादल फटने से 7 की मौत-

इस बीच जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले के होंजोर दच्छन इलाके में बादल फटने की वजह से कई लोगों की मौत हो गई है। अब तक 7 शव बरामद किए गए हैं जबकि 17 घायलों को बचा लिया गया। वहीं पहले लगातार बारिश की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन रोक देना पड़ा था। लेकिन अब किश्तवाड़ पुलिस की रेस्क्यू टीम बचाव अभियान में जुटी हुई है और रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

Durgesh Bahadur

Durgesh Bahadur

Next Story