×

इंदिरा हृदयेश को राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई, विधानसभा अध्यक्ष समेत इन लोगों ने दी श्रद्धांजलि

कांग्रेस की वरिष्ठ नेता इंदिरा हृदयेश को विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल समेत कृषि मंत्री, वन मंत्री ने श्रद्धांजलि दी है।

Ambesh Bajpai

Ambesh BajpaiReporter Ambesh BajpaiShreyaPublished By Shreya

Published on 14 Jun 2021 1:21 PM GMT

इंदिरा हृदयेश को राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई, विधानसभा अध्यक्ष समेत इन लोगों ने दी श्रद्धांजलि
X

इंदिरा हृदयेश को श्रद्धांजलि देते विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Haldwani News: कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और उत्तराखंड विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश (Indira Hridayesh) का 80 वर्ष की आयु में रविवार को नई दिल्ली में निधन हो गया। उन्हें दिल का दौरान पड़ा था। आज यानी 14 जून को उत्तराखंड के शहर हल्द्वानी में अंतिम संस्कार किया गया।

स्वर्गीय इंदिरा हृदयेश के अंतिम संस्कार के दौरान विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने आज हल्द्वानी में रानी बाग स्थित चित्रशीला घाट पहुंचकर पुष्पांजलि देकर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर प्रेमचंद अग्रवाल ने डॉ. इंदिरा हृदयेश के बेटों संजीव, सौरभ व सुमित सहित अन्य परिजनों से मुलाकात की और उनका ढांढस बढ़ाने के साथ अपनी शोक संवेदना व्यक्त की। बता दें कि इंदिरा के तीन बेटों में से उनके एक बेटे सुमित राजनीति के क्षेत्र में सक्रिय हैं।

अग्रवाल ने इंदिरा के साथ साझा किए अपने अनुभव एवं संस्मरण

इस दौरान कृषि मंत्री सुबोध उनियाल, वन मंत्री हरक सिंह रावत, विधायक उमेश शर्मा काऊ ने भी स्वर्गीय इंदिरा हृदयेश को अपनी भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी और सभी ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने स्वर्गीय इंदिरा हृदयेश के साथ अपने अनुभव एवं संस्मरण भी साझा किए।

इंदिरा हृदयेश के अंतिम संस्कार में शामिल हुए लोग (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि इंदिरा दीदी हमेशा सत्र के दौरान उनके सदन संचालन की तारीफ करते हुए उत्साह वर्धन किया करती थी। वह हमेशा बड़ी दीदी व अभिभावक के रूप में मार्गदर्शक की भूमिका में दिखायी देती थी। उन्होंने कहा कि इंदिरा हृदयेश का जाना उनके लिए व्यक्तिगत क्षति भी है और उनके निधन से एक युग का अंत हो गया है।

इंदिरा हृदयेश को श्रद्धांजलि देते लोग (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

उनके कार्यों को हमेशा याद रखा जाएगा

उन्होंने आगे कहा कि क्षेत्र एवं समाज के लिए उनके द्वारा किए गए कार्यों को हमेशा याद रखा जाएगा। वह एक कुशल राजनीतिज्ञ के साथ साथ प्रखर वक्ता एवं संसदीय विषयों की ज्ञाता थी। उनके व्यक्तित्व से हमें प्रेरणा लेकर राज्य के विकास को लेकर उनकी सोच एवं कार्यों को आगे बढ़ाना होगा, यही उनके लिए सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story