×

Corona vaccine: प्रेग्नेंट और ब्रेस्‍टफीडिंग महिलाएं भी अब लगवा सकती हैं कोरोना वैक्सीन

ICMR की हाल की एक स्टडी के मुताबिक गर्भवती और बच्चे को स्तनपान करा रहीं महिलाएं कोरोना वैक्सीन लगवा सकती हैं।

Network
Updated on: 17 Jun 2021 2:53 AM GMT
corona vaccine
X

कांसेप्ट इमेज (फोटो-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: अभी तक प्रेग्नेंट महिलाओं को शिशु को दूध पिलाने वाली औरतों के लिए कोरोना की वैक्‍सीन (Corona Vaccine) लगवाने की इजाजत नहीं दी गई थीं, लेकिन ICMR की हाल की एक स्टडी के मुताबिक गर्भवती और बच्चे को स्तनपान करा रहीं महिलाएं कोरोना वैक्सीन लगवा सकती हैं। ICMR की स्टडी के मुताबिक कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) में गर्भवती और प्रसव के बाद महिलाएं ज्यादा संख्या में मौत की शिकार हुई हैं।

दरअसल, प्रेग्नेंट महिलाएं और बच्चे को जन्म देने के तुरंत बाद की महिलाओं को लेकर ICMR ने स्टडी की है। ये स्टडी कोरोना की पहली और दूसरी लहर में की गई है। पहली लहर में इनमें सिम्प्टोमैटिक केस 14.2% था वहीं दूसरी लहर में बढ़कर 28.7 फीसदी हो गया। यानी दूसरी लहर में ज्यादा गर्भवती महिलाओं में कोरोना के लक्षण देखे गए।


दूसरी लहर में बढ़ी मृत्युदर

स्टडी के मुताबिक पहली लहर में जहां मृत्युदर 0.7% थी तो दूसरी लहर में 5.7% हो गई। हालांकि दोनो लहर में मैटर्नल डेथ 2 फीसदी रहा। 1530 महिलाओं पर ये स्टडी हुई, इसमें पहली लहर की 1143 और दूसरी वेब की 387 महिलाओं पर स्टडी की गई। आईसीएमआर की स्टडी के मुताबिक ऐसे में वैक्सीन लगवाने में ही फायदा है।


WHO ने भी की थी सिफारिश

ICMR ने कहा कि यह स्टडी Covid-19 के खिलाफ गर्भवती और फीडिंगग कराने वाली महिलाओं के टीकाकरण के महत्व को रेखांकित करता है। भारत में स्तनपान कराने वाली सभी महिलाओं के लिए टीका लगवाने की सिफारिश की गई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने पिछले सप्ताह सिफारिश की थी कि अगर गर्भवती महिलाओं को कोविड का ज्यादा खतरा हो और अगर उन्हें अन्य बीमारियां हैं तो उन्हें टीका लगाया जाना चाहिए। हालांकि अभी इसको लेकर कोई गाइडलाइन जारी नहीं हुई है।

Ashiki

Ashiki

Next Story