Top

कोरोना से ठीक होने के बाद कितने महीने तक नहीं होंगे बीमार, जानें क्या कहते हैं विशेषज्ञ

शोधकर्ता डॉ ईथन पेल्टन ने बताया कि संक्रमित होने के 90 दिन के भीतर पुनः संक्रमण बहुत ही कम पाया गया।

Neel Mani Lal

Neel Mani LalWritten By Neel Mani LalDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 8 May 2021 4:19 PM GMT

Coronavirus Test
X

कोरोना वायरस की जांच करते स्वास्थयकर्मी ( फोटो: सोशल मीडिया )

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके लोगों में दोबारा संक्रमण होने की आशंका 1 फीसदी से भी कम है। लेकिन कम इम्यूनिटी की वजह से ज्यादा उम्र वालों में खतरा बना रहता है। अमेरिका के वैज्ञानिकों ने पिछले साल मार्च से जुलाई के बीच 23 हजार लोगों पर किये एक रिसर्च में निष्कर्ष निकाला है कि एक बार संक्रमित हो चुके लोगों में से 0.04 फीसदी को दोबारा संक्रमण हुआ। संक्रमण से रिकवरी के 6 महीने के भीतर प्रति 10 हजार लोगों में से 4.3 को फिर से वायरस संक्रमण पाया गया।

शोधकर्ता डॉ ईथन पेल्टन ने बताया कि संक्रमित होने के 90 दिन के भीतर पुनः संक्रमण बहुत ही कम पाया गया। डॉ पेल्टन के अनुसार, जिन लोगों को कोरोना की वैक्सीन नहीं लगी है उनमें दोबारा संक्रमण निश्चित तौर पर ज्यादा रहेगा। क्योंकि प्राकृतिक इम्यूनिटी कम होती जाती है और मरीज नए वेरिएंट के प्रति एक्सपोज्ड भी होते रहते हैं।
महामारी की शुरुआत से ही मरीजों में पुनः संक्रमण के बारे में अनुमान लगाए जाते रहे हैं। कुछ अध्ययन बताते हैं कि संक्रमित लोगों में कम से कम 3 महीने इम्यूनिटी रहती है और पुनः संक्रमण बेहद कम देखा गया है। लेकिन कुछ अध्ययन चेताते हैं कि कमजोर इम्यून सिस्टम के कारण वृद्ध लोगों में पुनः संक्रमण का खतरा ज्यादा है। ऐसे में लोगों को हर हाल में संक्रमण से बचने के सभी उपाय अपनाते रहना चाहिए। साथ ही अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय करने चाहिए।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story