×

Coronavirus: भारत में महामारी की टूटी कमर, कोरोना के मामलों में गिरावट, केरल ने बढ़ाई चिंता

Coronavirus: भारत में कोरोना वायरस के मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है, लेकिन केरल में बढ़ रहे संक्रमण ने सरकारी की चिंता बढ़ा दी है।

Network

NetworkNewstrack NetworkShreyaPublished By Shreya

Published on 24 Nov 2021 2:26 AM GMT

Coronavirus, coronavirus omicron india
X

कोरोना जांच कराती महिला (फोटो- सोशल मीडिया )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Coronavirus: दुनियाभर में कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus Mahamari) के खिलाफ जंग अब भी जारी है। भारत में इस बीच कोरोना के मामलो में गिरावट (Corona Ke Mamle Me Giravat) देखी जा रही है। मंगलवार सुबह तक कोरोना के 7,579 नए मामले सामने आए, जबकि 236 लोगों की कोरोना से मौत (Corona Se Maut) हो गई है। भले ही देश में कोरोना के मामले (Corona Ke Mamle) घट रहे हों, लेकिन केरल (Kerala) में लगातार बढ़ रहे संक्रमण ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है।

राज्य में मंगलावर देश शाम को कोरोना बुलेटिन जारी किया गया है, जिसके मुताबिक, केरल में बीते 24 घंटों में 4,972 नए मामले (Kerala Corona Cases) सामने आए हैं, जबकि इस दौरान करीब 370 लोगों की मौत हुई है। यह केरल में बीते कुछ दिनों में सामने आया रिकॉर्ड उछाल है। केरल के 14 जिलों में तिरुवनंतपुरम (Thiruvananthapuram) में सबसे ज्‍यादा कोरोना के मामले (Corona Ke Mamle) दर्ज किए गए। अब तक इस राज्य में कुल 50,97,845 कोविड-19 केस (Kerala Covid Cases) मिल चुके हैं।

ओडिशा के स्कूलों में कोरोना की चपेट में छात्र

दूसरी ओर ओडिशा (Odisha) के सुंदरगढ़ और संबलपुर जिलों में पिछले तीन दिनों में कोरोना वायरस ने 70 से अधिक छात्रों को अपनी चपेट में ले लिया है। सुंदरगढ़ के सेंट मेरी गर्ल्‍स स्‍कूल की 53 छात्राएं, जबकि वीर सुरेंद्र साई इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस एंड रिसर्च के 22 बच्चे कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। इन छात्रों को आइसोलेशन में रखा गया है और फिलहाल सभी की हालत सामान्य बताई जा रही है। कोरोना के बढ़ते कहर के चलते एक हफ्ते के लिए स्कूल को बंद (School Band) करने का फैसला किया गया है।

वैक्सीनेशन (फोटो- न्यूजट्रैक)

देश में लगाई गई वैक्सीन की 118 करोड़ डोज

भारत में कोरोना को हराने के लिए तेजी से लोगों का टीकाकरण (Bharat Mein Tikakaran) किया जा रहा है। अब तक देश में कुल कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) की 118 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं। इसके अलावा मोदी सरकार (Modi Government) ने हर घर दस्तक (Har Ghar Dastak) अभियान छेड़ा हुआ है, जिसके तहत लोगों को टीकाकरण (Tikakaran) के लिए जागरुक किया जा रहा है और वैक्सीन (Corona Vaccine) की डोज दी जा रही है।

अमेरिका में बिगड़ रहे तेजी से हालात

वहीं, दूसरी ओर कोरोना वायरस महामारी ने एक बार फिर से अमेरिका (America Corona Update) में अपने पैर तेजी से पसारने शुरू कर दिए हैं। लाखों मरीजों की कोरोना से मौत के बाद हालात अभी सुधर ही रहे थे कि एक बार फिर से देश में कोविड-19 के मामले (America Mein Corona Ke Mamle) बढ़ने लगे हैं। यूएस में बीते एक सप्ताह से हर रोज 92 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं, जिसने सरकार की चिंता बढ़ाकर रख दी है। बताया जा रहा है कि देश में बीते एक हफ्ते से कोरोना के मामले 18 फीसदी की औसत दर से लगातार बढ़ रहे हैं।

अमेरिका में जहां एक ओर कोरोना के बढ़ते मामलों में प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है तो वहीं दूसरी ओर देश में स्वास्थ्य संक्रमण सेवाओं के निदेशक डॉ. एंथनी फॉसी ने इस हफ्ते बढ़ने वाले संक्रमण के मामलों को लेकर पहले से ही लोगों को अलर्ट कर दिया है। डॉ. फॉसी का कहना है कि देश में वैक्सीन की कमी नहीं है, लेकिन लोग अब भी टीकाकरण नहीं कर रहे हैं। इसके साथ ही क्रिसमस में सार्वजनिक जगहों पर खुलकर हिस्सा ले रहे हैं, ऐसे में महामारी एक बार फिर से देश में पैर पसार सकती है।

कोरोना टेस्ट (फोटो- न्यूजट्रैक)

यहां हालात बिगड़े

बताया जा रहा है कि कोलोराडो, मिनेसोटा और मिशिगन में हालात सबसे ज्यादा खराब हैं। यहां पर कोरोना वायरस संक्रमण से अस्पतालों में भर्ती दर क्रमश: 41, 37 और 34 फीसदी है। अमेरिकी स्वास्थ्य और मानव सेवा विभाग की एजेंसी के मुताबिक, US के 15 राज्यों में एक साल पहले की तुलना में कोरोना पॉजिटिव या संदिग्ध केसेस वाले मरीज अधिक आईसीयू बेड ले रहे हैं।

दूसरी ओर, कोरोना के हालात बिगड़ने पर देश में लॉकडाउन की भी आंशका जताई जाने लगी, लेकिन व्हाइट हाउस ने इस बात की आशंका से इनकार कर दिया है। बता दें कि अमेरिका 4.87 करोड़ मरीजों और 7.94 लाख मौतों के साथ महामारी से प्रभावित होने वाले देश में सबसे पहले नंबर पर बना हुआ है।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story