×

Coronavirus Variants: अब न डरना होगा कोरोना से, न ही वैरियंट से, आ रही ये सुपरवैक्सीन

Coronavirus Variants: कई देशों में कोरोना के तमाम अलग-अलग वैरिएंट के सामने आने की खबरें आ रही हैं। ये वाकई में बहुत चिंताजनक बात है। आखिर इन वैरिएंट से कैसे बचा जाएगा।

Network
Updated on: 2021-06-23T15:40:16+05:30
There is a fear of different variants of the corona epidemic around the world.
X

सुपरवैक्सीन(फोटो-सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Coronavirus Variants: दुनियाभर में कोरोना महामारी के अलग-अलग वैरिएंट से खौफ बना हुआ है। कई देशों में कोरोना के तमाम अलग-अलग वैरिएंट के सामने आने की खबरें आ रही हैं। ये वाकई में बहुत चिंताजनक बात है। आखिर इन वैरिएंट से कैसे बचा जाएगा।

कोरोना के इन वैरिएंट को मात देने के लिए अब वैज्ञानिक ऐसी वैक्सीन बनाने के काम पर जुटे हुए हैं जो हर तरह के वैरिएंट पर एकदम कारगर साबित होगी। इसके साथ ही भविष्य में आने वाली ऐसी किसी महामारी को भी रोकने में मददगार होगी।

चूहों पर हुआ ट्रायल

सूत्रों से सामने आई खबर के अनुसार, वैज्ञानिकों ने एक ऐसी वैक्सीन बनाई है, जो कोविड-19 के अलावा भी कोरोना वायरस के अन्य सभी वैरिएंट पर असरदार है। वैज्ञानिकों ने अभी इसका ट्रायल चूहों पर किया है।

ऐसे में अमेरिका के नॉर्थ कैरोलिना यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने अभी से ही इसे लेकर रिसर्च शुरू कर दी है। कई वैज्ञानिकों के अनुसार, किसी को पता नहीं है कि कौन-सा वायरस अगली महामारी को पैदा करदे, ऐसे में अभी से ही हर तरह की तैयारी करनी होगी।


महामारी कोरोना के किसी भी वैरिएंट से भविष्य में आने वाली महामारी के बड़े खतरे को दूर करने के लिए वैज्ञानिकों ने एक वैक्सीन बनाई गई है। ये वैक्सीन कोरोना वायरस के मौजूदा सभी वैरिएंट के अलावा अन्य सभी वैरिएंट पर असरदार है जो जानवरों से मनुष्यों में फैलने का माद्दा रखते हैं।

इस पर हुए अध्ययन में इसे सेकंड जनरेशन वैक्सीन बताया गया है। ये वैक्सीन sarbecoviruses पर हमला करती है। वहीं Sarbecoviruses कोरोना वायरस फैमिली का ही हिस्सा है। गौरतलब है कि इसी फैमिली के दो वैरिएंट ने बीते दो दशकों से पूरी दुनिया पर तबाही मचाई है। जिसमें पहले SARS और फिर कोविड-19 है।

तो इस वैक्सीन को लेकर जिन वैज्ञानिकों की टीम काम कर रही है, उन्होंने mRNA तरीका अपनाया है। बता दें, यही तरीका फाइजर और मॉडर्ना ने मौजूदा वैक्सीन को डेवलेप करने के लिए अपनाया गया था। लेकिन यूनिवर्सल वैक्सीन इसी तरीके से सभी तरह के कोरोना वायरस को हराने में सक्षम होगी।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story