×

Cryptocurrency Ban: जानिये क्रिप्टोकरेंसी पर किन देशों में है बैन

Cryptocurrency Ban: भारत में भी अब क्रिप्टोकरेंसियों के नियमन के लिए कानून (cryptocurrency law in india) बनने जा रहा है। जानते हैं कि किस देश में क्रिप्टोके बारे में क्या स्थिति है।

Neel Mani Lal

Neel Mani LalWritten By Neel Mani LalShwetaPublished By Shweta

Published on 24 Nov 2021 11:08 AM GMT

cryptocurrency
X

क्रिप्टोकरेंसी (फोटो साभारः सोशल मीडिया) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Cryptocurrency Ban: क्रिप्टोकरेंसियों (cryptocurrency) का चलन तेजी से बढ़ता जा रहा है लेकिन इनके बारे में विश्व में एकसमान राय नहीं बन सकी है। कुछ देशों ने इसे पूरी तरह अवैध करार दिया है तो कुछ देशों ने अनुमति दे रखी है। भारत में भी अब क्रिप्टोकरेंसियों के नियमन के लिए कानून (cryptocurrency law in india) बनने जा रहा है। जानते हैं कि किस देश में क्रिप्टोके बारे में क्या स्थिति है।

पूरी तरह अवैध (which countries cryptocurrency banned)

अल्जीरिया : अवैध करार। क्रिप्टो के इस्तेमाल पर सजा का (Algeria banned cryptocurrency) प्रावधान।

बहरीन : अवैध करार, लेकिन बहरीनी नागरिक देश के बाहर क्रिप्टो में निवेश कर (Bahrain ban cryptocurrency) सकते हैं।

बांग्लादेश : अवैध, क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल करने या अपने पास रखने पर 12 साल तक जेल की (Bangladesh banned cryptocurrency) सजा का प्रावधान है।

बोलीविया : देश के केंद्रीय बैंक ने 2014 से ही समस्त क्रिप्टोकरेंसियों पर प्रतिबन्ध ( Bolivia banned cryptocurrency) लगा रखा है।

चीन : फरवरी 2018 में चीन ने सभी क्रिप्टो एक्सचेंज को ब्लाक कर दिया था और क्रिप्टो कॉइन (CHINA banned cryptocurrency)लांच करने पर रोक लगा दी थी।

इक्वेडोर : क्रिप्टोकरेंसियों के जरिये खरीद फरोख्त करना बैन है लेकिन इन्टरनेट पर क्रिप्टोकरेंसियाँ ( Ecuador banned cryptocurrency) खरीद और बेच सकते हैं।

मिस्र : अवध करार, बिटकॉइन को हराम घोषित कर दिया गया है।

आइसलैंड : देश में क्रिप्टोकरेंसी की माइनिंग और ओनरशिप की अनुमति है लेकिन बिटकॉइन के जरिये फारेन एक्सचेंज में ट्रेडिंग बैन है।

ईराक : अवध करार, ट्रेडिंग करने पर सजा का प्रावधान।

मोरक्को : अवैध, सजा का प्रावधान।

नामीबिया : अवैध करार।

नेपाल : अवैध करार, सजा का प्रावधान।

पाकिस्तान : क्रिप्टो में निवेश और ट्रेडिंग पर बैन (Pakistan banned cryptocurrency)।

सऊदीअरब : अवैध करार।

वैध और ग्लोबल लीडर

क्रिप्टोकरेंसी (फोटो सोशल मीडिया)

क्रिप्टोकरेंसी में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने वाले देश भी बहुत से है जिन्हें क्रिप्टो टेक्नोलॉजी में ग्लोबल लीडर कहा जाता है।

अंटीगुआ : क्रिप्टोकरेंसियाँ वैध हैं, कोई नियमन नहीं, आईसीओ (इनिशियल कॉइन ऑफरिंग की अनुमति)

ऑस्ट्रेलिया : क्रिप्टोकरेंसियाँ वैध हैं, कमाई पर कैपिटल गेन्स टैक्स लगता है, एक्सचेंज के लिए पंजीकरण अनिवार्य है।

बहामा : पूर्ण वैधानिकता, सरकारी नियमन, ब्लाकचेन इंडस्ट्री को सरकारी प्रोत्साहन।

बेलारूस : पूर्ण वैधानिकता, सरकारी नियमन, वर्ष 2023 तक क्रिप्टो माइनिंग और ट्रेडिंग में टैक्स की पूरी छूट।

कनाडा : क्रिप्टोकरेंसियाँ और एक्सचेंज वैध हैं, इनकम टैक्स के कानून लागू होते हैं।

चिली : पूर्णत्या वैध, कोई नियमन नहीं।

डेनमार्क : क्रिप्टोकरेंसियों के इस्तेमाल की अनुमति, बिटकॉइन पर टैक्स का प्रावधान।

एस्तोनिया : वैधानिकता, लेकिन एंटी मनीलांड्रिंग एक्ट और टेररिज्म फाइनेंस एक्ट लागू होता है। एक्सचेंज को पंजीकरण तथा पूर्व अनुमति अनिवार्य। डिजिटल एसेट्स को टैक्स के हिसाब से प्रॉपर्टी की परिभाषा में रखा गया है।

फ़िनलैंड : बिटकॉइन को एसेट मन गया है और इस पर कैपिटल गेन्स टैक्स लगता है।

ग्रेनेडा : क्रिप्टो को वैधानिकता प्राप्त है।

हांगकांग : क्रिप्टोकरेंसियों को वैधानिकता, नियामकों द्वारा क्रिप्टो कंपनियों को प्रोत्साहन।

जापान : पेमेंट करने के लिए क्रिप्टोकरेंसियों को पूर्ण वैधानिकता प्राप्त है। एक्सचेंज को पंजीकरण कराना अनिवार्य।

फिलिपीन्स : सरकारी नियमन, क्रिप्टो में पेमेंट की अनुमति।

स्विट्ज़रलैंड : वैधानिकता, क्रिप्टोकरेंसियों को एसेट मन गया है। क्रिप्टो एक्सचेंज को लाइसेंस लेना अनिवार्य।

यूनाइटेड किंगडम : क्रिप्टोकरेंसियाँ लीगल हैं लेकिन इनसे खरीद-फरोख्त नहीं कर सकते। क्रिप्टो एक्सचेंज के लिए पंजीकरण अनिवार्य है।

अमेरिका : क्रिप्टोकरेंसियाँ लीगल हैं लेकिन इनसे खरीद-फरोख्त नहीं कर सकते। एक्सचेंजों का नियमन अलग अलग राज्य अपने कानून के हिसाब से करते हैं।

Next Story