Top

दिल्ली में 5 स्टार होटलों में होगा संक्रमितों का इलाज, केजरीवाल सरकार ने लिया बड़ा फैसला

राजधानी दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraPublished By Vidushi Mishra

Published on 15 April 2021 3:46 AM GMT

कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है।
X

कोविड अस्पताल(फोटो-सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। ऐसे में बुधवार को स्वास्थ्य सचिव ने प्राइवेट अस्पतालों को आदेश जारी किए कि आसपास के होटलों में भी जल्द से जल्द व्यवस्था की जाए। इसमें पांच सितारा होटल के लिए अधिकतम 5 हजार रुपये और चार सितारा होटल के चार हजार रुपये प्रतिदिन शुल्क भी निश्चित किया गया है। बढ़ते कोरोना संक्रमण से राजधानी को उबारने के लिए सरकार का ये बड़ा फैसला है।

ऐसे में स्वास्थ्य सचिव ने कोविड-19 के मद्देनजर ये आदेश दिया है कि सेंट्रल दिल्ली में लोकनायक अस्पताल के पास शहनाई और राउज एवेन्यू स्कूल में 240 बिस्तरों का इंतजाम किया जाए। साथ ही उत्तरी पश्चिमी जिले में बाबा भीमराव आंबेडकर अस्पताल के पास ग्रांड उत्सव बैंक्वेट हाल में 75 और दीपचंद बंधु अस्पताल के पास मासिक सैन्डोज बैंक्वेट हाल में 250 बिस्तरों का प्रबंध करने के लिए कहा गया है।

200 बिस्तरों की व्यवस्था

इसके साथ ही इन जगहों पर अस्पताल से स्वास्थ्य कर्मचारियों को भी तैनात किया जाएगा। स्माइल डॉक्टर एनजीओ भी इसमें सहायता करेगा। राजधानी के शाहदरा स्थित राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में कोरोना मरीजों का ही उपचार चल रहा है। इस अस्पताल के सहयोग के लिए यमुना क्रीड़ा स्टेडियम में 200 बिस्तरों की व्यवस्था होगी।


जबकि पश्चिमी दिल्ली के हरी नगर स्थित डीडीयू अस्पताल के पास गोल्डन ट्यूलिप बैंक्वेट हाल में 110 बेड होंगे। इस तरह 875 बिस्तरों की व्यवस्था की जा रही है, जिनमें 705 बिस्तरों को पहले चरण में शुरू किया जाएगा। बता दें, इसके लिए संबंधित जिला प्रशासन से कहा गया है कि वे दिल्ली राज्य स्वास्थ्य मिशन के तहत दिए जा रहे बजट का इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं राशि कम पड़ने पर दिल्ली सरकार के बजट का इस्तेमाल किया जा सकता है।

केंद्र सरकार को पत्र

इस बारे में स्वास्थ्य सचिव के अनुसार, मध्य जिले में गंगाराम और बीएल कपूर, पूर्वी दिल्ली में धर्मशिला और मेट्रो प्रीत विहार, उत्तर पश्चिम में मैक्स, जयपुर गोल्डन, सरोज और फोर्टिस अस्पताल, दक्षिणी दिल्ली में पुष्पवति सिंघानिया और मैक्स स्मार्ट, दक्षिणी पूर्वी में होली फैमिली, अपोलो, मूलचंद और मणिपाल अस्पताल एवं दक्षिणी पश्चिमी जिले में वेंक्टेश्वर, माता चमन देवी, आकाश और आयुष्मान अस्पताल के आसपास होटल, बैंक्वेट हाल को आरक्षित करने का ऐलान किया है।

इसी कड़ी में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि अभी कोरोना वायरस की रफ्तार धीमी नहीं पड़ रही है। बाकी राज्यों की तरह दिल्ली में भी कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। इसलिए सरकार अस्पतालों में लगातार बेड बढ़ाने का प्रयास कर रही है। साथ ही केंद्र सरकार को भी अपने अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाने के लिए पत्र लिखा है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story