×

भारत की 5 मिसाइलें: सेकंडों में खाक होगा पाकिस्तान-चीन, थर-थर कापेंगें दुश्मन देश

दुश्मनों को पल में धूल चटाने के लिए भारत के एक से बढ़कर एक महाशक्तिशाली मिसाइलें हैं। इन मिसाइलों से कुछ ही सेकेंड्स में दुश्मनों का नामों-निशान तक मिट जाएगा।

Vidushi Mishra

Written By Vidushi Mishra

Published on 16 Nov 2021 11:34 AM GMT

missile of india
X

भारत की सबसे शक्तिशाली मिसाइल (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Missiles Of India : भारत के खिलाफ नापाक साजिशें रचने वाले दुश्मन देश चीन-पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए देश भी बिल्कुल तैयार है। बीते काफी समय से भारत और चीन के बीच तनातनी बरकरार है। जबकि अब तो चीन ने पाकिस्तान को भी मजबूती देना शुरू कर दिया है। ऐसे में भारत ने जल-नभ-थल हर तरह से अपनी तैयारियां पूरी कर ली है। अपने देश की शक्ति लगातार आधुनिक और ताकतवर बनाने के लिए आत्मनिर्भर भारत आगे बढ़ रहा है।

दुश्मनों को पल में धूल चटाने के लिए भारत के एक से बढ़कर एक महाशक्तिशाली मिसाइलें हैं। इन मिसाइलों से कुछ ही सेकेंड्स में दुश्मनों का नामों-निशान तक मिट जाएगा। इसी कड़ी में आज हम आपको भारत की पांच महा ताकतवर मिसाइलों के बारे में बताएगें , जिनसे दुश्मन थर-थर कांपते हैं।

1. ब्रहमोस मिसाइल BrahMos

ब्रहमोस भारत की महाशक्तिशाली मिसाइल है। ये एक क्रूज और सुपरसोनिक मिसाइल है। वैसे तो इसे भारत की ही नहीं, बल्कि दुनिया की सबसे तेज मिसाइल कहा जाता है। इस मिसाइल जल, थल और हवा हर जगह से वार किया जा सकता है।

देश की इस सबसे खतरनाक मिसाइल को भारत और रूस में बनाया गया है। बड़ी बात तो ये भी है ये मिसाइल न तो चीन के पास है और न ही पाकिस्तान के पास है। इस मिसाइल का नाम भारत की ब्रह्मपुत्र नदी और रूस की मस्कवा नदी के नाम पर रखा गया है। इस मिसाइल से देश की ताकत में कई गुना बढ़ोत्तरी हुई है।

2. अग्नि -5 Agni-V

ये अग्नि-5 मिसाइल जिसे भारत का ब्रह्मास्त्र कहते हैं, ये अग्नि सीरिज की मिसाइलें है। इस सीरिज में पांच मिसाइलें हैं। जिसमें अग्नि-5 मिसाइल की मारक क्षमता लगभग 5-7हजार किलोमीटर तक है। ये मिसाइल एक बैलेस्टिक मिसाइल है। इस मिसाइल परमाणु हथियारों से लैस होकर करीब 1.5 टन की साम्रगी लाने-ले-जाने में सक्षम है। इस मिसाइल का वजन लगभग 50 टन है। ये मिसाइल एक बार लक्ष्य निर्धारित होने पर उसे पूरा करके ही वापस लौटती है।

अग्नि-5 (फोटो- सोशल मीडिया)

3. K-4 मिसाइल K-4 Missile

के- सीरीज की मिसाइल को पानी से सतह पर दागा जा सकता है। इस मिसाइल की मारक क्षमता 3 हजार किमी है। ये मिसाइल अपने साथ 3 टन तक का परमाणु भार आसानी से उठा सकती है। इस मिसाइल के भारतीय नौसेना में शामिल से काफी मजबूती मिली है। इस मिसाइल को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने स्वदेशी तरीके से बनाया है। इस मिसाइल की मारक क्षमता 3500 किलोमीटर तक है।

4. पृथ्वी मिसाइल Prithvi Missile

फोटो- सोशल मीडिया

भारत के पास पृथ्वी सीरीज की तीन मिसाइलें हैं। ये मिसाइलें बैलेस्टिक मिसाइलों की श्रेणी में आती हैं। इस सीरीज की पृथ्वी-2 मिसाइल भारत में स्वदेशी निर्मित मिसाइल है। ये जमीन से ज़मीन में वार करने की क्षमता रखने वाली मिसाइल है। ये मिसाइल 500 से हजार किलोग्राम तक परमाणु हथियार और युद्ध सामाग्री लाने ले जाने में सक्षम है। बता दें, ये डीआरडीओ की पहली मिसाइल है।

5. आकाश मिसाइल Akash Missile

भारत की इस आकाश मिसाइल का भी कोई जोड़ नहीं है। ये मिसाइल एक मध्‍यम दूरी की सतह से हवा में वार करने में सक्षम है। भारतीय एयर डिफेंस सिस्टम में इस मिसाइल के आने से मजबूत मिली है। इस मिसाइल को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने बनाया है।

ये आकाश मिसाइल आसमान में 18,000 मीटर की ऊंचाई पर भी किसी भी खतरे को पल-भर में खत्म करने की क्षमता रखती है। ये मिसाइल प्रतिघंटा 4 हजार किलोमीटर तक की स्पीड से दुश्मन का खात्मा करने की क्षमता रखती है।


Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story