×

89 आतंकियों का खात्मा: जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों ने किया ढेर, 225 अब भी सक्रिय

Jammu Kashmir News: आतंकी भारत में अलग अलग तरीकों से खौफ पैदा करने की फिराक में हैं, हालांकि सुरक्षाबलों की सतर्कता की वजह से इनके नापाक मंसूबे कामयाब नहीं हो पाते हैं।

Network

NetworkNewstrack NetworkShreyaPublished By Shreya

Published on 31 July 2021 3:16 PM GMT

89 आतंकियों का खात्मा: जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों ने किया ढेर, 225 अब भी सक्रिय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Jammu Kashmir News: जम्मू कश्मीर में आज भारतीय सुरक्षाबलों (Indian Security Forces) ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) से जुड़े पाकिस्तानी आतंकी (Pakistani Terrorist) को ढेर कर दिया है। यह आतंकी मसूद अजहर का करीबी बताया गया है। जाहिर है कि आतंकी अलग अलग तरीकों से भारत में दहशत फैलाने की कोशिश में जुटे रहते हैं। हालांकि भारतीय सुरक्षाबलों की सतर्कता की वजह से उनके नापाक मंसूबे कामयाब नहीं हो पाते हैं।

इस बीच कश्मीर जोन के आईजी विजय कुमार ने बताया कि इस साल अब तक अलग-अलग मुठभेड़ों में करीब 89 आतंकियों का खात्मा हो चुका है। ये संख्या पिछले साल की तुलना में कम है, लेकिन इन आतंकियों में आतंकी संगठनों के कई टॉप कमांडरों का नाम भी शामिल है, ऐसे में यह सुरक्षाबलों के लिए बड़ी सफलता मानी जा रही है। वहीं, सेना ने यह भी जानकारी दी है कि जम्मू कश्मीर में अभी 225 के आसपास सक्रिय आतंकी हैं।

बताया गया है कि 40 युवक वीजा पर पाकिस्तान गए थे, जिनमें से 27 हथियार समेत आतंकी बनकर वापस लौटे और मारे गए। जबकि 13 युवक अभी भी पाकिस्तान में ही हैं। इसके अलावा गुरेज में ढेर किए गए 3 आतंकियों में से दो वीजा पर गए हुए थे। जाहिर है कि पाकिस्तान भारत में आतंक फैलाने की साजिश रचता रहता है। अब वह भारत में ड्रोन के जरिए आतंक फैलाना चाहता है। इसके लिए पाकिस्तानी आतंकी संगठन ड्रोन की संख्या भी बढ़ा रहे हैं।

आतंकी लंबू (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

मारा गया जैश का आतंकी

अगर बात करें आज के मुठभेड़ की तो शनिवार को सुरक्षाबलों को आतंकवादियों की मौजदूगी की जानकारी मिली थी, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ अभियान चलाया। सुरक्षा बलों ने आज सुबह नामिबियान, मारसार वनक्षेत्र और दाचीगाम के इलाके में घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान आतंकियों की ओर से गोलीबारी किए जाने पर मुठभेड़ शुरू हो गई। जिसमें सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया, जिसमें से एक की पहचान लंबू के तौर पर की गई, वहीं दूसरे की पहचान की जा रही है। आतंकियों के पास से एक एके-47 राइफल और एक एम-4 राइफल बरामद हुई है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान के पंजाब प्रांत का रहने वाला लंबू जम्मू कश्मीर के पुलवामा में साल 2019 में भारतीय जवानों पर हुए आतंकी हमले (Pulwama Attack) की साजिश रचने वालों में से एक था। इसने पुलवामा आतंकी हमले के लिए इस्तेमाल होने वाला आईईडी तैयार किया था। बताया जा रहा है कि लंबू जैश के संस्थापक मसूद अजहर का बेहद करीबी था। जैश ने लंबू को एक कोड नाम दिया था, जो कि अबू सैफुल्ला था। बताया जाता है कि जैश अपने करीबी कमांडर्स को ही कोड देता है।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story