×

Jammu News : घाटी में चीनी ग्रेनेड, सेना ने नाकाम की बड़ी आतंकी साजिश, अलर्ट जारी

Jammu News : घाटी में साजिश के तहत रेत के एक थैले में छह ग्रेनेड रखे गए थे। जिन्हें सेना द्वारा बरामद कर लिया गया है।

Network
Updated on: 13 Sep 2021 8:07 AM GMT
Jammu News : घाटी में चीनी ग्रेनेड, सेना ने नाकाम की बड़ी आतंकी साजिश,  अलर्ट जारी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Jammu News : जम्मू-कश्मीर में आतंकी अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। लेकिन भारतीय सुरक्षाबलों आतंकियों की सारी कोशिशों पर पानी फेर देते हैं। ऐसे में यहां के श्रीनगर के बेमिना इलाके में भारतीय सुरक्षाबलों ने एक बार फिर से आतंकियों की साजिश को नाकाम कर दिया है।

घाटी में साजिश के तहत रेत के एक थैले में छह ग्रेनेड रखे गए थे। जिन्हें सेना द्वारा बरामद कर लिया गया है। इसके बाद से पूरे इलाके में लोगों से चौकन्ना रहने को कहा गया है साथ ही वहां की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

बड़ी आतंकी साजिश नाकाम

आपको बता दें कि रोड ओपनिंग पार्टी के जवानों ने नेशनल हाईवे 44 पर एक डिवाइडर के नजदीक रेत के थैले में रखे हुए छह ग्रेनेड बम बरामद किए। बताया जा रहा कि यह सभी चीन के बनाए हुए ग्रेनेड हैं। लेकिन सेना के जवानों की समझदारी से बड़ी आतंकी साजिश नाकाम हो गई है। फिलहाल पुलिस ने सभी ग्रेनेड बमों को अपने कब्जे में ले लिया है।

चीन के बने ग्रेनेड (फोटो- सोशल मीडिया)

दूसरी तरफ कश्मीर में हाईब्रिड आतंकियों के बारे में मिले इनपुट ने भारतीय सुरक्षाबलों के लिए नई चुनौती खड़ी कर दी है। यहां स्लीपर सेल की तरह के ये पार्टटाइम आतंकी निहत्थों को अपना निशाना बना रहे हैं।

अभी हाल ही में घाटी में नेताओं व पुलिसकर्मियों की हत्याओं में हाईब्रिड आतंकी शामिल थे। जिनमें पार्टटाइम हाईब्रिड आतंकियों को ट्रैक करने में काफी परेशानी आती हैं क्योंकि ये वारदात को अंजाम देने के बाद अपने रोजमर्रा के कामकाज में लग जाते हैं। जिससे इनको पहचानने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। लेकिन ऐसे हाईब्रिड आतंकियों पर अब पूरी तरफ से निगरानी रखी जा रही है।

इस बारे में सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों से सामने आई खबर में बताया गया कि हाईब्रिड आतंकियों को हैंडलर्स की तरफ से आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए स्टैंडबाय में रखा जाता है। वह दिए गए टास्क को पूरा करने के बाद नए टास्क को पूरा करने का इंतजार करते हैं। फिर वह अपने सामान्य कामकाज को करने लगते हैं।


Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story