×

गोवा में ममता ने खेला ब्राह्मण कार्ड, पीएम मोदी पर बड़ा हमला, कहा-चुनाव के समय लगाने लगते हैं गंगा में डुबकी

Mamata Banerjee In Goa: ममता बनर्जी ने आज BJP पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने के लिए भाजपा (BJP) के लोग चुनाव के समय हिंदू और मुसलमान का मुद्दा उठाते हैं। चुनाव के समय इन लोगों को गंगा की याद आ जाती है और वे गंगा में डुबकी लगाने लगते हैं।

Anshuman Tiwari
Published on 14 Dec 2021 1:26 PM GMT
गोवा में ममता ने खेला ब्राह्मण कार्ड, पीएम मोदी पर बड़ा हमला, कहा-चुनाव के समय लगाने लगते हैं गंगा में डुबकी
X

पीएम नरेंद्र मोदी-सीएम ममता बनर्जी (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Mamata Banerjee In Goa: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री (West Bengal CM) और तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) की मुखिया ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने आज भाजपा पर बड़ा हमला बोला। गोवा विधानसभा चुनाव (Goa Vidhan Sabha Chunav) में टीएमसी (TMC) का प्रचार करने पहुंची ममता बनर्जी ने कहा कि चुनाव जीतने के लिए भाजपा (BJP) के लोग चुनाव के समय हिंदू और मुसलमान का मुद्दा उठाते हैं। चुनाव के समय इन लोगों को गंगा की याद आ जाती है और वे गंगा में डुबकी लगाने लगते हैं। चुनाव जीतने के बाद इन्हें गंगा की कोई याद नहीं रहती और गंगा में शवों को फेंकने का सिलसिला फिर शुरू हो जाता है।

गोवा चुनाव में ब्राह्मण कार्ड (Mamata Banerjee Ka Brahman Card) खेलते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि मैं ब्राह्मण परिवार से आती हूं और मुझे भाजपा से कैरेक्टर सर्टिफिकेट (Character Certificate) लेने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद गोवा में भाजपा (BJP) को पूरी तरह खत्म करना है और यहां भाजपा को खत्म करने के लिए सभी दलों को एकजुट होना चाहिए।

पीएम मोदी पर साधा बड़ा निशाना

पश्चिम बंगाल चुनाव (West Bengal Chunaav) के बाद ममता बनर्जी ने गोवा के विधानसभा चुनाव (Goa Election) पर नजरें गड़ा रखी हैं। गोवा में चुनाव जीतने के लिए वे लगातार राज्य का दौरा कर रही हैं। गोवा में चुनाव प्रचार (Chunaav Prachar) के दौरान उन्होंने मां गंगा का मुद्दा उठाया और भाजपा को घेरते हुए कहा कि चुनाव के समय ही भाजपा के लोगों को मां गंगा की याद आती है। वे गंगा में डुबकी लगाना शुरू कर देते हैं।

दरअसल, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का निशाना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की ओर था जिन्होंने सोमवार को काशी में विश्वनाथ धाम कॉरिडोर का लोकार्पण (Kashi Vishwanath Dham Ka Udghatan) करने से पहले गंगा में डुबकी लगाई थी। बाद में वे रजत कलश (Rajat Kalash) में गंगा जल लेकर बाबा विश्वनाथ का अभिषेक करने के लिए पहुंचे थे।

ममता बनर्जी (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

TMC की नई व्याख्या

गोवा में चुनाव प्रचार के दौरान ममता ने टीएमसी की नए तरीके से व्याख्या भी की। उन्होंने कहा कि टीएमसी का मतलब टेंपल, मॉस्क और चर्च है। ममता ने कहा कि टीएमसी ही भाजपा का असली विकल्प बनने में सक्षम है। ममता ने लोगों से धार्मिक एकता स्थापित करने की भी अपील की। वे खुद को धर्मनिरपेक्ष साबित करने की कोशिश में जुटी हुई हैं ताकि उन्हें सभी धर्मों के लोगों का समर्थन हासिल हो सके।

कांग्रेस को दिया झटका

गोवा विधानसभा चुनाव से पहले ममता लगातार कांग्रेस (Congress) को झटका देने में जुटी हुई हैं। टीएमसी की ओर से दावा किया गया है कि मंगलवार को कांग्रेस के कई नेताओं ने टीएमसी (Congress Leader Joins TMC) का दामन थाम लिया है। कांग्रेस छोड़कर टीएमसी का दामन थामने वाले नेताओं में कांग्रेस की राष्ट्रीय कमेटी के सदस्य मार्ता सालदन्हा भी शामिल है।

ममता बनर्जी गोवा की सभाओं में इस बात पर जोर दे रही हैं कि यदि लोग भाजपा को हराना चाहते हैं तो उन्हें टीएमसी के साथ आना चाहिए। उन्होंने कहा कि टीएमसी ने भाजपा के खिलाफ जंग छेड़ रखी है। इसलिए लोगों को भाजपा को हराने के लिए टीएमसी के साथ खड़ा होना होगा।

ममता बनर्जी (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

भाजपा का विकल्प बनने की कोशिश

इससे पूर्व ममता बनर्जी ने सोमवार को भी गोवा में जनसभा को संबोधित किया था। इस दौरान गोवा में एनसीपी के एकमात्र विधायक चर्चिल अलेमाओ ने टीएमसी की सदस्यता ग्रहण कर ली थी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री लुइजिन्हो फलेरियो पहले ही टीएमसी का दामन थाम चुके हैं। टीएमसी खुद को गोवा में भाजपा का विकल्प साबित करने में जुटी हुई है। चुनाव प्रचार के मामले में पार्टी ने कांग्रेस को पीछे छोड़ दिया है।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत के बाद ममता बनर्जी का निशाना मुख्य रूप से गोवा और त्रिपुरा पर है। इन दोनों ही राज्यों में पार्टी की ओर से जबर्दस्त मेहनत की जा रही है। पश्चिम बंगाल में हिंदुत्व के एजेंडे के बावजूद ममता भाजपा को हराने में कामयाब हुई थी। मुस्लिम तुष्टीकरण के आरोपों के चलते ममता गोवा में सभी धर्मों के लोगों को साथ लेकर चलने की कोशिश में जुटी हुई हैं।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story