Top

Fact Check: बेरोजगारों को हर माह ₹3500 देगी सरकार? वायरल हुआ ये मैसेज

क्या मोदी सरकार सच में दे रही है बेरोजगारों को हर महीने पैसे? सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे ऐसे मैसेज।

Meghna

MeghnaWritten By MeghnaMonikaPublished By Monika

Published on 20 May 2021 2:29 AM GMT

Fact Check: बेरोजगारों को हर माह ₹3500 देगी सरकार? वायरल हुआ ये मैसेज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

क्या देश के बेरोजगारों के लिए सरकार 'प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना' चलाने जा रही है? क्या बेरोजगारों की घर बैठे लॉटरी लगने जा रही है? क्या रोजगार की तलाश में लोगों के वाकई अच्छे दिन आ गए हैं? जानें सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस मैसेज का सच!

दुनियाभर में फैली कोरोना वायरस महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। वैक्सीन आने के बावजूद भारत सरकार समय समय पर दिशा निर्देशों के पालन को लेकर एडवाइजरी जारी कर रही है। इसी एडवाइजरी में लॉकडाउन शामिल है जो कई राज्यों में आंशिक तौर पर लागू किए गए हैं। ऐसे में लॉकडाउन की वजह से गरीब और वर्किंग क्लास के लोग सबसे ज़्यादा इससे पीड़ित हैं। सरकार गरीब लोगों को खाना और आसरा मुहैया करवाने की जद्दोजहद में है लेकिन इसी बीच कुछ ऐसे लोग भी हैं जो इस मौके का फायदा उठाकर आम और जरूरतमंद लोगों को ठगने में लगे हैं।

व्हाट्सऐप पर वायरल हो रहा मेसेज

सोशल नेटवर्किंग ऐप व्हाट्सऐप पर एक मेसेज तेज़ी से वायरल हो रहा है। इस मेसेज में लिखा है, "'प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना' के अंतर्गत भारत सरकार सभी बेरोजगारों को प्रतिमाह ₹ 3500 दे रही है।"

सरकार ने बताया दावा है फर्ज़ी

तेज़ी से वायरल हो रहे इस मेसेज पर संज्ञान लेते हुए इसको शेयर कर सरकार की पीआईबी फैक्ट चेक के ट्विटर हैंडल ने स्पष्टीकरण जारी किया है। हैंडल ने ट्वीट किया, "दावा - एक व्हाट्सएप मैसेज में यह दावा किया गया है कि 'प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना' के अंतर्गत भारत सरकार सभी बेरोजगारों को प्रतिमाह ₹3500 दे रही है। पीआईबी फैक्ट चेक में पाया गया है कि किया गया दावा और दिया गया ब्लॉग लिंक फर्जी है। भारत सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है।"

खुद करें जांच, तब करें विश्वास

आज के दौर में जहां जानकारियां जल्दी से जल्दी पहुंचने की ज़रूरत है वहीं इस बात पर भी ज़ोर देना होगा की गलत जानकारी ना साझा की जाए। सोशल मीडिया पर आए दिन ऐसी खबरें वायरल होती रहती हैं जिसमें कोरोना वायरस को लेकर अलग अलग दावे किए जाते हैं। हमें उनकी प्रामाणिकता की जांच कर ही उनपर विश्वास करना होगा।

Monika

Monika

Next Story