×

नवाब मलिक का देवेंद्र फडणवीस पर पलटवार, बोले- समीर वानखेड़े को बचाने की कर रहे कोशिश

Nawab Malik attack Devendra Fadnavis: नवाब मालिक का कहना है कि देवेंद्र फडणवीस NCB के अधिकारी समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) को बचाने का काम कर रहे हैं ।

Network
Updated on: 10 Nov 2021 6:29 AM GMT
nawab malik attack devendra fadnavis
X

नवाब मलिक - देवेंद्र फडणवीस (photo : सोशल मीडिया )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Nawab Malik attack Devendra Fadnavis: मुंबई क्रूज ड्रग्स पार्टी केस (Mumbai Cruise Drugs Party Case) ने अब राजनीतिक मोड़ ले लिया है । आर्यन खान (aryan khan bail)को बेल मिलने के बाद भी महाराष्ट्र में जारी सियासत थम नहीं रही है । आज एक बार फिर महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik )ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis)पर बड़ा आरोप लगाया है । नवाब मालिक ने कहा है कि देवेंद्र फडणवीस के आशीर्वाद से महाराष्ट्र में उगाही और जाली नोट का कारोबार चल रहा था । यही नहीं उन्होंने इस मामले में NCB के अधिकारी समीर वानखेड़े का भी ज़िक्र किया ।

नवाब मालिक का कहना है कि देवेंद्र फडणवीस NCB के अधिकारी समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) को बचाने का काम कर रहे हैं । समीर उनके चाहिते अधिकारियों में से हैं। नवाब यही नहीं रुके उन्होंने यह भी आरोप लगाये कि देवेंद्र फडणवीस के सम्बन्ध बांग्लादेशी माफियाओं (bangladeshi mafia) से भी है । साथ ही मुंबई क्रुज ड्रग्स मामले में वह लोगों को गुमराह करने की कोशिश भी कर रहे हैं ।

आपको बता दें, आर्यन खान ड्रग्स केस (Aryan khan drugs case) में नजाब मालिक लगातार समीर वानखेड़े के खिलाफ बोलते नज़र आये उनपर कई आरोप भी लगाते दिखे ।

देवेंद्र फडणवीस पर लगाए ये गंभीर आरोप

देवेंद्र फडणवीस पर एक के बाद एक गंभीर आरोपों के बम फोड़ते हुए कहा कि 8 नवंबर 2017 में नोटबंदी (demonetisation in india )के बाद भी महाराष्ट्र में एक साल तक किसी प्रकार के जाली नोट का मामला सामने नहीं आया था जबकि अन्य कई राज्यों में जाली नोट पकडे गए थे । लेकिन 8 अक्टूबर 2017 में छापेमारी हुई और 14 करोड़ 56 लाख रुपये के जाली नोट पकडे गए । लेकिन इस मामले को 8 लाख 80 हजार रुपये बताकर दबा दिया था ।

अंडरवर्ल्ड के लोगों से खरीदी ज़मीन

आपको बता दें, देवेंद्र फडणवीस ने पहले नवाब मलिक पर आरोप लगाते हुए कहा था कि उनके परिवार ने अंडरवर्ल्ड के लोगों से ज़मीन खरीदी थी । जिसमें उन्होंने दो नाम का खुलासा किया था सरदार शाह वली खान और मोहम्मद सलीम पटेल । मोहम्मद सलीम पटेल दाऊद इब्राहिम का गुर्गा था तो सरदार शाह वली खान 1993 में हुए बम ब्लास्ट का गुनाहगार।

Monika

Monika

Next Story