Top

वर्चुअल मीटिंग में छात्रा की मां ने कही ऐसी बात, हंस पड़े PM मोदी

वर्चुअल मीटिंग में प्रधानमंत्री मोदी से छात्रा की मां ने कहा कि उन्हें शाहरुख खान से मिलकर भी इतना अच्छा नहीं लगा था जितना आज उनसे मिलकर लग रहा है।

Network

NetworkNewstrack NetworkShashi kant gautamPublished By Shashi kant gautam

Published on 4 Jun 2021 10:05 AM GMT

12th exam canceled
X

पीएम मोदी 12वीं के छात्रों और उनके अभिभावकों से वर्चुअली बात करते हुए 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को 12वीं कक्षा के छात्रों और उनके अभिभावकों के साथ बिना किसी औपचारिक कार्यक्रम के अचानक ही संवाद किया। इस बातचीत के दौरान एक छात्रा की मां ने कुछ ऐसा कहा जिसे सुनकर मोदी भी हंसने लगे। छात्रा की मां ने कहा कि उन्हें शाहरुख खान से मिलकर भी इतना अच्छा नहीं लगा था जितना आज उनसे मिलकर लग रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने इस वर्चुअली बात चीत में 12वीं कक्षा के छात्रों और उनके अभिभावकों से कहा कि परीक्षा रद्द होने के बाद छात्रों को समय का सदुपयोग रचनात्मक और लाभकारी कार्यों में करना चाहिए।

आपको बता दें कि शिक्षा मंत्रालय की ओर से डिजिटल माध्यम से आयोजित इस संवाद कार्यक्रम में अचानक शामिल हुए प्रधानमंत्री मोदी ने छात्र-छत्राओं को सलाह देते हुए कहा कि किसी भी परीक्षा को लेकर तनाव में नहीं रहना चाहिए। लगभग आधे घंटे के इस संवाद के दौरान उन्होंने छात्रों से पूछा कि कोविड-19 के मद्देनजर परीक्षा रद्द होने के बाद वह कैसा महसूस कर रहे हैं और आगे के लिए वह क्या योजना बना रहे हैं।



प्रधानमंत्री मोदी ने छात्र-छत्राओं को दी ये सलाह

प्रधानमंत्री ने छात्रों से पूछा कि वह क्या इंडियन प्रीमियर लीग (आईंपीएल) और चैम्पियंस लीग देखना पसंद करेंगे या फिर आलंपिक का इंतजार करेंगे। उन्होंने छात्रों से कहा कि उन्हें स्वास्थ ही धन है के मंत्र को हमेशा याद रखना चाहिए और पूछा कि शारीरिक रूप से फिट रहने के लिए वह क्या करते हैं। पंचकुला के 12वीं के छात्र हितेश्वर शर्मा ने कहा, प्रत्येक दिन हमारे ऊपर दबाव बढ़ रहा था। मैं शीर्ष पर स्थान बनाने के लिहाज से तैयारी कर रहा था लेकिन मेरा मानना है कि हमने जो पढ़ाईं की है वह कभी व्यर्थ नहीं जाती।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story