×

Jammu And Kashmir: आज से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के दो दिवसीय दौरे पर राष्ट्रपति कोविंद, जवानों के साथ मनाएंगे दशहरा

राष्ट्रपति घाटी में सेना के जवानों के साथ दशहरा मनाएंगे। जानकारी के मुताबिक राष्ट्रपति 14 अक्टूबर को...

Network

NetworkNewstrack NetworkDeepak KumarPublished By Deepak Kumar

Published on 14 Oct 2021 5:32 AM GMT

President Ram Nath Kovind ka jammu daura
X

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद। (Social Media) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

President Ram Nath Kovind ka jammu daura: अब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही सेना के साथ उत्सव मनाते रहे है। लेकिन अब राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने भी यही डगर पकड़ी है। इस बार जवानों के बीच दशहरा मनाने का फैसला राष्ट्रपति ने भी किया है। इसी के मद्देनजर वृहस्पतिवार और शुक्रवार को उन्होंने जम्मू कश्मीर व लद्दाख में रहने का कार्यक्रम बनाया है।

राष्ट्रपति भवन से जारी हुई आधिकारिक सूचना के अनुसार राष्ट्रपति (President Ram Nath Kovind ka jammu daura) 14 अक्टूबर यानी आज लेह में सिंधु घाट पर सिंधु दर्शन पूजा में शामिल होंगे। इसके बाद गुरुवार की शाम में उधमपुर में सेना के जवानों से भी मुलाकात करेंगे। 15 अक्टूबर को दशहरे के मौके पर राष्ट्रपति द्रास में स्थित कारगिल वॉर मेमोरियल जा कर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। इस दौरान राष्ट्रपति सेना के अधिकारियों और जवानों से भी बातचीत करेंगे।


बता दें कि राष्ट्रपति कोविन्द (President Ram Nath Kovind ka jammu daura) ऐसे वक्त पर जम्मू-कश्मीर दौरे पर जा रहे हैं, जब वहां आतंकी गतिविधियों में इज़ाफ़ा हो रहा है। टारगेट किलिंग के भी मामले सामने आए हैं। इसके अलावा पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीन के साथ तनाव जारी है। ऐसे में उनका यह दौरा काफी महत्वपूर्ण होगा। इससे जवानों का मनोबल भी बढ़ेगा।

जम्मू-कश्मीर (President Ram Nath Kovind ka jammu daura) की मौजूदा हालातों के बीच राष्ट्रपति की यह यात्रा जवानों के लिए बूस्टर साबित हो सकती है। हाल के दिनों में घाटी में आतंकी गतिविधियों में वृद्धि देखी गई है। वहीं, आतंकियों ने अल्पसंख्यक समुदाय के कई लोगों की भी हत्या की है।

President Ram Nath Kovind ka jammu daura - हालांकि, केंद्र की तरफ से भी सेना को स्पष्ट निर्देश जारी किए गए हैं कि लोगों की हत्या करने वाले आतंकियों का जल्द से जल्द खात्मा किया जाए। इस कड़ी में सेना और स्थानीय पुलिस लगातार तलाशी अभियान चलाए हुए है। वहीं, एनआईए भी एक के बाद एक आतंकियों को सहयोग करने वाले लोगों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

जम्मू कश्मीर (President Ram Nath Kovind ka jammu daura) के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने मंगलवार को कहा कि हाल में अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों की हत्याओं को अंजाम देने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि यूनाइटेड कश्मीरी सिख प्रोग्रेसिव फोरम (यूकेएसपीएफ) के एक प्रतिनिधिमंडल ने यहां राजभवन में उपराज्यपाल से मुलाकात की।


जुलाई में राष्ट्रपति ने किया था जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का दौरा (President Ram Nath Kovind ka jammu daura)

इससे पहते भी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind ka jammu daura) 25 से 28 जुलाई तक जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का दौरा किया था। राष्ट्रपति ने 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस की 22वीं वर्षगांठ पर कारगिल युद्ध स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की थी। इसके अगले दिन उन्होंने श्रीनगर में कश्मीर विश्वविद्यालय के 19वें वार्षिक दीक्षांत समारोह को संबोधित किया।

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के राजौरी (Jammu Ke Rajori Mein Atanki Hamala) के पूंछ जिले में भारतीय सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ हुई थी, जिसमें सेना के चार जवान (char jawan Shaheed) और एक जेसीओ शहीद हो गया।

घाटी में हुए इस आतंकी मुठभेड़ में सेना के पांच जवान बुरी तरह से जख्मी हो गए थे। लेकिन बाद में वो शहीद हो गए थे। इसके कारण जम्मू कश्मीर (Jammu and Kashmir me mara gaya aatanki) में हुए आतंकी (Jammu and Kashmir terrorist killed) हमले के बाद से भारतीय सेना एक बार फिर आक्रामक मुद्रा में आ गई है। आतंकियों के खिलाफ जारी कार्रवाई में जम्मू कश्मीर के त्राल में आतंकियों से हुई मुठभेड़ में सेना ने जैश-ए-मोहम्मद के टॉप कमांडर शाम सोफी (jaish ka top commander, shaam sophi) को ढेर कर दिया गया है।

Deepak Kumar

Deepak Kumar

Next Story