×

Russia Ukraine War: रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच रूसी राजदूत का दावा, भारत को S-400 Missile System भेजने में नहीं है कोई समस्या

Russia Ukraine War: रूस यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध के कारण या आशंका जताई जा रही थी कि भारत रूस के बीच हुए रक्षा समझौतों में बाधाएं आ सकती हैं। लेकिन रूसी राजदूत ने इस पर जवाब देते हुए कहा कि भारत को S400 मिसाइल सिस्टम भेजने में कोई समस्या नहीं है।

Rajat Verma
Written By Rajat VermaPublished By Bishwajeet Kumar
Updated on: 2 March 2022 9:50 AM GMT
S-400 missile system
X

S-400 मिसाइल प्रणाली (तस्वीर साभार : सोशल मीडिया) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Russia Ukraine Warरूस-यूक्रेन के बीच जारी जंग (Russia Ukraine War) के अनुरूप हालात बेहद ही बेकाबू होते जा रहे हैं। ऐसे में रूसी सेना ने लगातार यूक्रेन पर हमलावर होते हुए भारी तबाही जारी रखी है। हालिया प्राप्त सूचना के मुताबिक रूसी सेना (Russian army) ने यूक्रेनी शहर खेरसॉन पर कब्ज़ा जमाने के साथ ही खारकीव में भारी तबाही मचाई है। इस बीच दोनों देशों के युद्ध के मध्य भारत से एक खबर सामने आ रही है, जो कि भारत-रूस के बीच हुए जमीन से हवा में वार करने वाले S-400 मिसाइल प्रणाली (S-400 missile system) के बारे में है।

भारत-रूस रिश्ते की मिसाल

दरअसल भारत और रूस के बीच हुए समझौते के तहत रूस द्वारा भारत को S-400 मिसाइल प्रणाली पहुंचानी है, हालांकि रूस-यूक्रेन के मध्य जारी युद्ध के चलते यह समझौता पूर्ण होने मुश्किल लग रहा था, लेकिन भारत में रूस के राजदूत डेनिस अलीपोव (Denis Alipov) ने इससे जुड़ी सभी भ्रांतियों को दूर करते हुए तथा भारत-रूस के रिश्तों की मिसाल देते हुए बताया कि भारत को S-400 की आपूर्ति समय पर की दी जाएगी।

इस विषय में अपनी बात कहते हुए डेनिस अलीपोव ने कहा कि-"जहां तक ​​भारत को S-400 मिसाइल प्रणाली की आपूर्ति करने का संबंध है, इस मामले में किसी भी प्रकार की बाधा की कोई भी आशंका नहीं है। इस सौदे को बगैर किसी बाधा के जारी रखने के और भी कई सारे तरीके हैं।"

UN में रूसी राजदूत ने कहा

इसी के साथ संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations organisation) में रूस-यूक्रेन मामले को लेकर हुई बैठक के विषय में बात करते हुए रूसी राजदूत ने कहा कि-"हम रूसी भारत के साथ एक रणनीतिक सहयोगी हैं। संयुक्त राष्ट्र (UN) में भारत द्वारा प्रदर्शित की गई एक बेहद ही संतुलित स्थिति के लिए हम भारत के आभारी हैं। हम इस बात के भी आभारी हैं कि भारत वर्तमान में जारी संकट की गहराई को समझता है। इसलिए हम भारत के साथ किए रक्षा सौदे को हर हाल में पूरा करेंगे।"

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों के बारे में बात करते हुए भारत में नामित रूसी राजदूत डेनिस अलीपोव ने कहा कि-"हम खार्किव और पूर्वी यूक्रेन के अन्य क्षेत्रों में फंसे भारतीयों के लिए भारतीय अधिकारियों के संपर्क में हैं। हमें रूस के क्षेत्रों के माध्यम से यूक्रेन में फंसे सभी भारतीय लोगों को सुरक्षित निकालने को लेकर भारत की ओर से अनुरोध प्राप्त हुआ है।'' रूस के राजदूत ने कहा है कि खारकीव में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने के लिए रूस रास्‍ता देगा। रूस ने कहा कि यूक्रेन के अन्‍य शहरों में फंसे छात्रों को भी रास्‍ता मुहैया कराया जाएगा।

Bishwajeet Kumar

Bishwajeet Kumar

Next Story