×

Saanp Se Murder: सांप से करवाए जा रहे मर्डर, भारत में अपराध का नया तरीका

Saanp Se Murder: भारत में अपराध का एक नया तरीका सामने आया है। जिसमें मर्डर करने के लिए सांप का इस्तेमाल किया गया। सांप से हत्या कराने के मामले भारत में तेजी से बढ़े हैं।

Neel Mani Lal

Neel Mani LalWritten By Neel Mani LalShreyaPublished By Shreya

Published on 13 Oct 2021 8:46 AM GMT

Saanp Se Murder: सांप से करवाए जा रहे मर्डर, भारत में अपराध का नया तरीका
X

सांप (कॉन्सेप्ट फोटो साभार- सोशल मीडिया) 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Saanp Se Murder: अपराधी अपने काम में तरह तरह के हथकंडे अपनाते हैं जिनके बारे में पता चलने पर हैरानी होती कि इंसान किस हद तक सोच जाता है। इतिहास गवाह है कि मर्डर के लिए कैसे कैसे तरीकों (Murder Ke Liye Tarike) का इस्तेमाल दुनिया हर में किया गया है। पुराने जमाने में दुश्मनों को मारने के लिए विषकन्याओं का इस्तेमाल (Vishkanya Ka Istemal) किया जाता था, जो जहर से किसी को मार देती थीं। अब विषकन्या तो नहीं लेकिन विष का इस्तेमाल (Vish Ka Istemal) अपराध करने के लिए किया जाता है। विष भी ऐसा वैसा नहीं बल्कि सांप का। ये अपराध का ऐसा तरीका है जिसके बारे में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) तक ने हैरानी जताई है।

दरअसल, भारत में अपराध (Bharat Mein Apradh) का एक नया तरीका सामने आया है। जिसमें मर्डर करने के लिए सांप का इस्तेमाल (Murder Ke Liye Sanp Ka Istemal) किया गया। सांप से हत्या (Sanp Se Hatya) कराने के मामले भारत में तेजी से बढ़े हैं। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने ऐसे ही एक मामले पर टिप्पणी की थी। राजस्थान के एक मामले में सुनवाई के दौरान जस्टिस सूर्य कांत (Suryakant) ने कहा था - यह एक नया चलन है कि लोग किसी सपेरे से जहरीले सांप ले आते हैं। उससे कटवाकर व्यक्ति की हत्या कर डालते हैं।

राजस्थान में यह बहुत बढ़ रहा है। सांप के जरिये मर्डर के अजीबोगरीब मामले राजस्थान (Rajasthan) और केरल (Kerala) में तो आये ही हैं, महाराष्ट्र (Maharashtra) में भी ऐसा केस आ चुका है जहां आरोपित ने सर्पदंश से किसी को मरवा दिया।

सांप से हत्या (सांकेतिक फोटो साभार- सोशल मीडिया)

राजस्थान का मामला (Rajasthan Mein Sas Ki Hatya)

सुप्रीम कोर्ट ने जिस मामले में यह बात कही है वह 2019 में राजस्थान के झुनझुनूं जिले का है। यहाँ के एक गाँव में 12 दिसंबर, 2018 को अल्पना नाम की युवती की शादी आर्मी के एक जवान सचिन से हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद भी अल्पना का जयपुर के रहने वाले मनीष प्रेम-प्रसंग (Love Affair) चल रहा था। अल्पना और उनकी सास सुबोध देवी गांव में एक साथ रहती थीं। अल्पना के पति और देवर सेना में थे तो उनकी पोस्टिंग घर से दूर ही थी। ससुर राजेश भी नौकरी के कारण घर से दूर ही रहते थे।

इस बीच अल्पना अपने प्रेमी मनीष अक्सर बात करती थी। जब उसकी सास को इस अफेयर की भनक लगी और वह इस अफेयर के बीच आने लगी तो अल्पना और उसके प्रेमी मनीष ने हत्या की योजना बनाई। 2 जून, 2019 को सांप के डसने से सुबोध देवी की मौत हो गई। उसकी मौत के डेढ़ महीने बाद, अल्पना के ससुराल वालों को उस पर शक हुआ। उन्होंने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने कॉल डिटेल और अन्य जांच के बाद अल्पना, मनीष और उसके दोस्त कृष्ण कुमार को सुबोध देवी की हत्या में शामिल माना। उसे 4 जनवरी, 2020 को गिरफ्तार कर लिया गया, तभी से वो जेल में है।

इनमें से एक आरोपी कृष्ण कुमार के वकील आदित्य चौधरी ने अदालत से पूछा था कि क्या यह संभव है कि जहां अपराध हुआ, आरोपी उस जगह के आसपास भी ना हो हत्या करने का हथियार भी ना मिले और फिर भी वह दोषी हो? इस पर जस्टिस कांत ने कहा कि यह संभव है, अगर हथियार एक सांप हो। जस्टिस कांत के अलावा चीफ जस्टिस एनवी रमना और जस्टिस हिमा कोहली की इस बेंच ने कृष्ण कुमार की जमानत याचिका खारिज कर दी।

(फोटो साभार- सोशल मीडिया)

केरल का हैरतंगेज़ मामला

इसके अलावा केरल में 28 साल के एक व्यक्ति को अपनी पत्नी की हत्या (Patni Ki Hatya) का दोषी पाया गया है। अदालत ने इस व्यक्ति के अपराध को 'रेयरेस्ट ऑफ द रेयर' (Rarest Of The Rare) करार दिया। 28 साल के सूरज को कोल्लम जिला अदालत (Kollam District Court) ने अपनी पत्नी की हत्या का दोषी पाया है। उस पर आरोप था कि उसने पिछले साल मई में सांप से कटवाकर अपनी पत्नी की हत्या की। क्राइम ब्रांच ने इस मामले की गहन जांच की थी। क्योंकि मृतक महिला उथारा के परिजनों ने सूरज के व्यवहार पर संदेह जताया था।

पुलिस के मुताबिक पत्नी की मृत्यु के कुछ ही दिन बाद सूरज ने उसके नाम पर दर्ज संपत्तियों को हासिल करने की कोशिश की। पुलिस ने चार्जशीट में कहा था कि सूरज उथारा से छुटकारा चाहता था। उसका धन व सोना पाकर किसी और से शादी करना चाहता था। पुलिस के मुताबिक इसके लिए सूरज एक बार पहले भी उथारा की हत्या की कोशिश कर चुका था। फरवरी, 2020 में भी उथारा पर उसने वाइपर सांप से हमला करवाया। लेकिन तब सांप के काटने के बावजूद उथारा बच गई थी। दोनों बार सूरज को सांप अपने एक दोस्त से मिले थे, जो सांप पकड़ने का काम करता है। पुलिस ने बताया कि इस बार सूरज ने कोबरा सांप से हमला किया, उथारा की जान चली गई।

केरल के डीजीपी अनिल कांत (DGP Anil Kant) ने कहा है कि यह वाकई एक बेहद विलक्षण मामला था, जिसमें आरोपी को हालात के आधार पर दोषी पाया गया। यह एक मिसाल है कि कैसे हत्या के एक मामले को वैज्ञानिक और पेशवराना तरीके से जांच करके हल किया गया।

पाठ्यक्रम में शामिल

केरल के सूरज कुमार का मामला इतना अनोखा है कि इसे अपराध विज्ञान के पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है। इसमें बताया गया है कि किस तरह सांप जैसे प्राकृतिक हथियार का इस्तेमाल मर्डर के लिए किया गया। ऐसे मामले की जांच कैसे की जाए। यही नहीं, इस केस की जांच का पूरा विवरण जर्नल ऑफ़ फोरेंसिक साइंस एंड क्रिमिनल इन्वेस्टीगेशन में प्रकाशित किया गया है। इस मामले की जांच कोल्लम ग्रामीण के तत्कालीन एसपी एस हरिशंकर की टीम ने की थी। हरिशंकर अब पुलिस मुख्यालय में आईजी हैं।

डेड बॉडी की तस्वीर (साभार- सोशल मीडिया)

हर साल हजारों मौतें

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक रिपोर्ट कहती है कि भारत में पिछले दो दशकों में दस लाख से ज्यादा लोगों की मौत सांप के काटने (Sanp Katne Se Maut) से हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक साल 2000 से 2019 के बीच 12 लाख लोग सांप के काटने से मारे गए। यानी औसतन सालाना 58,000 लोग। इनमें से आधे से ज्यादा लोगों की आयु 30 से 69 साल के बीच थी।

सांप के काटने से मरने वाले लोगों में 70 प्रतिशत से ज्यादा लोग बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, राजस्थान और गुजरात के रहे हैं। 2014 के बाद ऐसी घटनाओं में कमी आई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन का लक्ष्य है कि 2030 तक सांप के काटने से दुनियाभर में होने वाली मौतों की संख्या आधी की जाए। इस लक्ष्य को हासिल करने में भारत उसके लिए सबसे बड़ी चुनौती है।

दुनियाभर में हर साल सांप के काटने की करीब 50 लाख घटनाएं होती हैं। इनमें से करीब एक लाख लोगों की मौत हो जाती है। इनमें से तकरीबन आधी मौतें भारत में होती हैं।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story