Top

Corona Update: 6 से 12 साल के बच्चों को दी गई Covaxin की दूसरी डोज!

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की चेतावनी के बीच बच्चों की वैक्सीन पर भी तेजी से काम चल रहा है...

Network

NetworkNewstrack NetworkRagini SinhaPublished By Ragini Sinha

Published on 19 July 2021 12:28 PM GMT

Second dose of covaxine given to children aged 6 to 12 years
X

 बच्चों को दी गई Covaxin की दूसरी डोज! (Social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Corona Update: देश में अभी कोरोना संक्रमण के मामले अभी काम हो गए हैं, लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की चेतावनी के बीच बच्चों की वैक्सीन पर भी तेजी से काम चल रहा है।

बच्चों पर को-वैक्सीन का ट्रायल शुरू किया गया

खबरों के मुतबिक, भारत बायोटेक कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए जून में ही बच्चों पर को-वैक्सीन का ट्रायल शुरू कर दिया था। अब पता चला है कि जल्द ही ट्रायल में शामिल बच्चों को वैक्सीन की दूसरी डोज भी दी जाने की तैयारी हो रही है।

ट्रायल में 175 बच्चों को शामिल किया गया है

ये ट्रायल देश के कुल 525 बच्चों पर किया जा रहा है। इनमें 175-175 बच्चों के तीन ग्रुप बनाए गए हैं। पहले ग्रुप में 12 से 18 साल की उम्र के 175 बच्चे शामिल हैं, दूसरे ग्रुप में 6 से 12 साल की उम्र के 175 बच्चे और तीसरे ग्रुप में 2 से 6 साल की उम्र के 175 बच्चों को शामिल किया गया है।

नतीजों के आधार पर ही बच्चों पर होगा इसका इस्तेमाल

इन बच्चों को 28-28 दिन के गैप पर वैक्सीन के दो डोज दी जानी थी। इसके बाद नतीजों के आधार पर ही बच्चों पर इसके इस्तेमाल की मंजूरी दी जाएगी।

6 से 12 साल के बच्चों को को-वैक्सीन की डोज दी गई

एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने सितंबर तक बच्चों की वैक्सीन आने की संभावना जताई थी। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली एम्स में ट्रायल के दौरान शामिल हुए 6 से 12 साल के बच्चों को को-वैक्सीन की डोज दे दी गई है।

2 से 6 साल के बच्चों को दूसरी डोज दे दी जाएगी

अगले हफ्ते 2 से 6 साल के बच्चों को दूसरी डोज दे दी जाएगी। इसी महीने के आखिर में अंतरिम रिपोर्ट आने की उम्मीद है, जिससे मोटे तौर पर पता चल जाएगा कि वैक्सीन बच्चों पर कितनी असरदार है।

Ragini Sinha

Ragini Sinha

Next Story