Top

सुप्रीम कोर्ट ने गठित की नेशनल टास्क फोर्स, ऑक्सीजन और दवाओं के वितरण पर रखेगी नजर

देश की सर्वोच्च अदालत ने नेशनल टास्क फोर्स का गठन किया है जो ऑक्सीजन की उपलब्धता और सप्लाई का आकलन और सिफारिश करेगी।

Network

NetworkNewstrack Network NetworkDharmendra SinghPublished By Dharmendra Singh

Published on 8 May 2021 11:49 AM GMT

सुप्रीम कोर्ट ने गठित की नेशनल टास्क फोर्स, ऑक्सीजन और दवाओं के वितरण पर रखेगी नजर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीट देश में ऑक्सीजन और दवाओं की किल्लत पर सुप्रीम कोर्ट ने नजर रखा हुआ है। अब इस बीच देश की सर्वोच्च अदालत ने नेशनल टास्क फोर्स का गठन किया है जो ऑक्सीजन की उपलब्धता और सप्लाई का आकलन और सिफारिश करेगी। इस टास्क फोर्स में 12 सदस्यों को रखा गया है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि टास्क फोर्स अभी और भविष्य के लिए पारदर्शी और पेशेवर आधार पर महामारी की चुनौतियों का सामना करने के लिए इनपुट और रणनीति प्रदान करेगी। टास्क फोर्स वैज्ञानिक, तर्कसंगत और न्यायसंगत आधार पर राज्यों को ऑक्सीजन के लिए कार्यप्रणाली तैयार करेगी।
कोर्ट ने आदेश में कहा है कि यह टास्क फोर्स परामर्श और सूचना के लिए केंद्र सरकार के मानव संशाधन विभाग से सलाह और मशविरा के लिए स्वतंत्र है। यह फोर्स काम करने के अपने तौर-तरीके और प्रक्रिया तैयार करने के लिए भी स्वतंत्र होगी।
जानिए टास्क फोर्स में कौन-कौन है शामिल
सुप्रीम कोर्ट ने टास्क फोर्स में 12 लोगों को शामिल किया हैं। इस टास्क फोर्स में डॉ भबतोष विश्वास, पूर्व कुलपति, पश्चिम बंगाल स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, कोलकाता; डॉ देवेंद्र सिंह राणा, अध्यक्ष, प्रबंधन बोर्ड, सर गंगाराम अस्पताल, दिल्ली; डॉ गगनदीप कांग, प्रोफेसर, क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर, तमिलनाडु; डॉ देवी प्रसाद शेट्टी, अध्यक्ष और कार्यकारी निदेशक, नारायण हेल्थकेयर, बेंगलुरु; डॉ जेवी पीटर, निदेशक, क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर, तमिलनाडु; डॉ नरेश त्रेहन, अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, मेदांता अस्पताल और हार्ट इंस्टीट्यूट, गुरुग्राम; डॉ राहुल पंडित, निदेशक, क्रिटिकल केयर मेडिसिन और आईसीयू, फोर्टिस अस्पताल, मुलुंड और कल्याण (महाराष्ट्र); डॉ सौमित्र रावत सर्जिकल विभाग के अध्यक्ष और प्रमुख गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और लीवर ट्रांसप्लांट, सर गंगाराम अस्पताल, दिल्ली; डॉ शिव कुमार सरीन, वरिष्ठ प्रोफेसर और हेपेटोलॉजी विभाग के निदेशक, इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बिलीरी साइंस (ILBS), दिल्ली; डॉ जरीर एफ उदवाडिया, कंसल्टेंट चेस्ट फिजिशियन, हिंदुजा हॉस्पिटल, ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल और पारसी जनरल हॉस्पिटल, मुंबई; सचिव, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार (पदेन सदस्य) टास्क फोर्स के सदस्य बनाए गए हैं।


Dharmendra Singh

Dharmendra Singh

Next Story