×

Vaccination Packages: अस्पतालों के होटल पैकेज पर केंद्र की नाराजगी, लगा दी रोक

Vaccination Packages: कोरोना काल में तबाह हो चुकी होटल इंडस्ट्री ने खुद को घाटे के संकट से उबारने के लिए वैक्सीनेशन पैकेज की शुरुआत की थी।

Ramkrishna Vajpei
By Ramkrishna VajpeiPublished By Shivani
Updated on: 30 May 2021 6:21 AM GMT
vaccination packages
X

कांसेप्ट इमेज

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Vaccination Packages: सरकार की वैक्सीनेशन पर जोर देने की नीति को मजबूती देने के लिए संकट के दौर से गुजर रही होटल इंडस्ट्री ने वैक्सीनेशन टूरिज्म के नाम से पैकेज शुरू कर दिया। उनकी मंशा यह थी कि इससे लोगों को अस्पताल की भीड़ से छुटकारा मिलेगा और मानसिक तनाव से जूझ रहे लोगों का थोड़ा मनोरंजन भी हो जाएगा। लेकिन ऐसा लग रहा है कि गाइड लाइन के नियमों के फेर में पड़कर होटल इंडस्ट्री का यह प्रयास खटाई में पड़ गया है जो भारी घाटे से उबरने के लिए वैक्सीनेशन को आधार बनाकर खुद को संकट से उबारना चाहते थे। सरकार के कड़े रुख से कोरोना वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) को अपने बिजनेस को बढ़ाने का आधार बनाने वाले होटलों पर आफत आ गई है।

सरकार ने स्पष्ट किया है कि कोरोना वायरस का वैक्सीनेशन चुनिंदा जगहों पर ही किया जा सकता है। लेकिन अगर कोई अस्पताल किसी होटल या किसी अन्य स्थान पर टीकाकरण करता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

होटलों में टीकाकरण

उल्लेखनीय है कि कोरोना काल में तबाह हो चुकी होटल इंडस्ट्री ने खुद को घाटे के संकट से उबारने के लिए इन पैकेज की शुरुआत की थी। इसमें कई पांच सितारा होटल भी शामिल थे।
कोविड-19 महामारी के कारण भारतीय होटल उद्योग को वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान करीब 1.30 लाख करोड़ का नुकसान हुआ है। इससे उबरने के लिए फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एफएचआरएआई) ने सरकार से मदद की अपील भी की है। बावजूद इसके सरकार की ओर से इस पर अभी तक कोई जवाब नहीं आया है।
संकट से जूझ रही होटल इंडस्ट्री को लेकर एफएचआरएआई ने पिछले दिनों एक बयान में कहा था कि वित्त वर्ष 2019-20 में भारतीय होटल उद्योग की आय 1.82 लाख करोड़ थी। हमारे आंकलन के अनुसार वित्त वर्ष में 2020-21 में आय में करीब 75 फीसदी की कमी दर्ज की गई जो उद्योग को 1.30 लाख करोड़ रुपये से अधिक का झटका है।

होटल उद्योग को उबारने का प्रयास

एफएचकआरएआई के उपाध्यक्ष गुरबख्शीश सिंह कोहली ने भी एक बयान में कहा था कि मार्च 2020 के बाद से उद्योग अपने वैधानिक और पूंजीगत व्यय दायित्वों के प्रबंधन को लेकर संघर्ष कर रहा हैं। वर्तमान स्थिति में ब्याज के साथ ऋणों का पुनर्भुगतान करना केवल कठिन ही नहीं बल्कि असंभव है।उन्होंने सरकार से होटल उद्योग के लिए एक विशेष नीति लाने का अनुरोध किया था। जो बैंकों, वित्तीय संस्थानों या किसी अन्य संस्थाओं के प्रति अर्जित या अर्जित होने वाले ऋण सहित सभी वित्तीय प्रभावों को कम करने में सहायता करे। इसके साथ ही सरकार से बिना किसी देरी के होटल उद्योग के वैधानिक शुल्क माफ करने, उद्योग को लॉकडाउन की अवधि के दौरान संपत्ति कर, पानी शुल्क, बिजली शुल्क और उत्पाद शुल्क सहित लाइसेंस शुल्क में छूट देने की भी मांग की थी।

इसके बाद फाइव स्टार होटल रेडिसन, हैदराबाद वैक्सीनेशन पैकेज लेकर आया। पैकेज की कीमत 2,999 रुपये है। पैकेज के तहत गेस्ट को होटल में आरामदायक स्टे का मौका मिलेगा। जहां हाई स्पीड Wifi की सुविधा होगी। साथ ही शहर के मशहूर हाॅस्पिटल के एक्सपर्ट की देखरेख में वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके अलावा हेल्दी बेक्रफास्ट और डिनर मिलेगा। इन सबके अलावा अगर आपको जरूरत महसूस होती है तो क्लिनिल कंसल्टेंसी की सुविधा दी जाएगी। जहां आप डाॅक्टर से हेल्थ संबंधी बातें कर सकते हैं।

वैक्सीनेशन पैकेज की कीमत

मुंबई के ललित होटल ने भी दो तरह के वैक्सीनेशन पैकेज का एलान किया जहां आप लग्जरी होटल में ठहरने के साथ वैक्सीन लगवा सकते हैं। पहला पैकेज 3500 रुपये का है, जिसमें 4 घंटे के लिए होटल का कमरा बुक किया जा सकता है। साथ ही होटल का मेन्यू देखकर गेस्ट फूड ऑर्डर भी कर सकते हैं। वहीं, दूसरा पैकज 5000 रुपये का है। अगर आप नाइट स्टे करना चाहते हैं और होटल में ही डिनर करना चाहते हैं तो आप 5000 वाला पैकेज ले सकते हैं।
लेकिन सरकार के कल जारी किये गए निर्देशों को देखते हुए लगता है फिलहाल ये पैकेज खटाई में पड़ सकते हैं और कानूनी कार्रवाई भी शुरू हो सकती है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों को भेजे अपने निर्देश में कहा है कि सरकारी और निजी केंद्रों के अलावा कार्यक्षेत्र और बुजुर्ग व दिव्यांगों के घर के पास के अलावा कहीं भी टीकाकरण केंद्र शुरू नहीं किया जा सकता है।
Shivani

Shivani

Next Story