Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

AKTU स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा समाप्त, फेल छात्रों की बढ़ेंगी मुश्किलें

एकेटीयू की ओर से 2016-2017 एजुकेशनल सेशन से सीबीसीएस लागू किया है। एकेटीयू के इस निर्णय से छात्रों की परेशानी बढ़ गई है। अभी तक छात्रों को स्पेशल कैरी ओवर के जरिए पास कर दिया जाता था। एकेटीयू प्रशासन की ओर से शैक्षिक सत्र 2016-17 से सीबीसीएस को लागू करने नया अध्यादेश भी जारी कर दिया है। जिसमें स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा को कोई जगह नहीं दी गई है। वहीं एकेटीयू प्रशासन की ओर से कैरी ओवर परीक्षा की व्यवस्था को बनाए रखा गया है। कैरी ओवर परीक्षाएं अब अगले सेमेस्टर में ही होंगी।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 12 Sep 2016 1:01 PM GMT

AKTU स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा समाप्त, फेल छात्रों की बढ़ेंगी मुश्किलें
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा : डॉ एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी (एकेटीयू) में स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा की व्यवस्था को समाप्त कर दिया है। अब फेल छात्रों को उत्तीर्ण होने के लिए फिर से उसी सेमेस्टर में पढ़ाई करनी होगी।

एकेटीयू में च्वाइस बेस्ट क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) व्यवस्था को लागू करने के बाद परीक्षा प्रणाली में कई बदलाव किए गए हैं। इसके बारे में सभी कॉलेजों को भी जानकारी दे दी गई है।

ये भी पढ़ें... AKTU छात्रों के लिए रोजगार के मौके, नवंबर में करेगा रोजगार मेले का आयोजन

कैरी ओवर परीक्षाएं अगले सेमेस्टर से

-एकेटीयू की ओर से 2016-2017 एजुकेशनल सेशन से सीबीसीएस लागू किया है।

-एकेटीयू के इस निर्णय से छात्रों की परेशानी बढ़ गई है।

-अभी तक छात्रों को स्पेशल कैरी ओवर के जरिए पास कर दिया जाता था।

-एकेटीयू प्रशासन की ओर से शैक्षिक सत्र 2016-17 से सीबीसीएस को लागू करने नया अध्यादेश भी जारी कर दिया है। जिसमें स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा को कोई जगह नहीं दी गई है।

-वहीं एकेटीयू प्रशासन की ओर से कैरी ओवर परीक्षा की व्यवस्था को बनाए रखा गया है।

-कैरी ओवर परीक्षाएं अब अगले सेमेस्टर में ही होंगी।

ये भी पढ़ें... AKTU छात्रों को जॉब देगी कोरियन कंपनी, बढ़ेंगे जॉब के मौके

फेल छात्रों की बढ़ेंगी मुश्किलें

-कैरी ओवर परीक्षा में फेल होने वाले छात्रों को स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा का लाभ मिल जाता था।

-अब स्पेशल कैरी ओवर परीक्षा नहीं होने से छात्र दोबारा परीक्षा देने पर मजबूर होंगे।

-पूरी तरह सीबीसीएस को लागू करने के लिए कैरी ओवर परीक्षा को खत्म करना होगा।

-हालांकि इस साल कैरी ओवर परीक्षाएं अभी कराई जाएंगी लेकिन एकेटीयू ने स्पेशल कैरी ओवर एग्जाम नहीं कराने का फैसला लिया है।

ये भी पढ़ें... AKTU अपनी वेबसाइट पर नया पोर्टल करेगा शुरू, स्टूडेंट्स को मिलेगा लाभ

ग्रेड सिस्टम होगा शुरू

-एकेटीयू ने सीबीसीएस को लागू करने के बाद ग्रेड सिस्टम को शुरू करेगी।

-इसमें ग्रेडिंग सिस्टम की मदद से स्टूडेंट्स अपने मार्क्स का पता लगा सकेंगे।

-सीबीसीएस लागू होने के बाद अब छात्रों को अंक के बजाए ग्रेड मिलेंगे।

-इसमें ए प्लस से ई ग्रेड तक पाने वाले छात्र उत्तीर्ण माने

जाएंगे।

-वहीं एफ ग्रेड में छात्रों को दोबारा परीक्षा देनी होगी।

-छात्रों को पास होने के लिए परीक्षा में कम से कम 30 और सेशनल्स में 40 फीसदी मार्क्स हासिल करने होंगे।

-बी.टेक, बी.फार्मा, बी.एचएमसीटी और बी फेड की डिग्री पाने के लिए कम से कम 192 क्रेडिट लाने होंगे।

-अगले सेमेस्टर में जाने के लिए कम से कम 16 क्रेडिट पाना आवश्यक है।

ये भी पढ़ें... एकेटीयू : अब इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट के कोर्स में शामिल होगा डिजिटल मीडिया

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story