Top

छात्र हिंदी में कर सकेंगे इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट की पढ़ाई

एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (AKTU) से संबद्ध इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों के स्टूडेंट्स अब हिंदी मीडियम से भी पढ़ाई कर सकेंगेे। एकेटीयू सभी कोर्स की पाठ्यसामग्री हिंदी भाषा में तैयार होंगे। इससे छात्रों खासकर ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को आसानी होगी।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 27 March 2017 3:00 PM GMT

छात्र हिंदी में कर सकेंगे इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट की पढ़ाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय (AKTU) से संबद्ध इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों के स्टूडेंट्स अब हिंदी मीडियम से भी पढ़ाई कर सकेंगेे। एकेटीयू सभी कोर्स की पाठ्यसामग्री हिंदी भाषा में तैयार होंगे। इससे छात्रों खासकर ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को आसानी होगी।

अंग्रेजी भाषा से छात्रों को परेशानी

-जिले में एकेटीयू से संबद्ध 120 इंजीनियरिंग और प्रबंधन कॉलेज हैं।

-इसमें इंजीनियरिंग कॉलेजों में करीब 30 हजार बीटेक की सीटें हैं।

-मैनेजमेंट और अन्य कोर्सेज पचास हजार सीटें की हैं।

-अंग्रेजी भाषा में स्टडी मटीरीअल होने से हिंदी माध्यम से पढ़ने वाले छात्रों को परेशानी होती हैं।

तैयार किया जाएगा नया पोर्टल

-छात्रों की सुविधा के लिए एकेटीयू प्रशासन एक पोर्टल भी तैयार किया जाएगा।

-आईआईटी के प्रोफेसरों की मदद इस पोर्टल को तैयार करने के लिए ली जा रही हैं।

-इंजीनियरिंग के कोर्स को बेहतर ढंग से हिंदी भाषा में उपलब्ध करवाया जाएगा।

रिजल्ट में आएगा सुधार

-एकेटीयू प्रशासन के अनुसार, हिंदी और अंग्रेजी माध्यम में कोर्स उपलब्ध होने से छात्र अपनी सुविधानुसार बेहतर तरीके से पढ़ाई कर सकेंगे।

-इससे कॉलेजों के रिजल्ट में भी सुधार आएगा।

-अगले साल तक हिंदी भाषा में भी पाठ्यसामग्री तैयार कर ली जाएगी।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story